शिक्षा की बदहाली देख राष्ट्रीय सलाहकार दंग

Banda Updated Sat, 22 Dec 2012 05:30 AM IST
बांदा। सीमावर्ती मध्य प्रदेश के गांवों में परिषदीय शिक्षा व्यवस्था की बदहाली देखकर सुप्रीम कोर्ट कमिश्नर कार्यालय के राष्ट्रीय सलाहकार सज्जाद हसन भी दंग रह गए। क्षेत्र के स्कूलों की पेश की गई स्वयंसेवियों की रिपोर्ट ने प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा दिए।
शुक्रवार को दिल्ली से आए सुप्रीम कोर्ट कमिश्नर कार्यालय के राष्ट्रीय सलाहकार सज्जाद हसन की उपस्थिति में नौगवां गांव में जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। राष्ट्रीय सलाहकार के साथ ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ऋषरेंद्र कुमार (आईएएस) और परियोजना निदेशक अजितेंद्रनाथ नारायण भी थे। यह आयोजन विद्याधाम समिति और एक्शन एड लखनऊ ने संयुक्त रूप से किया था। इन संगठन के कार्यकर्ता पवन साहू ने नरैनी ब्लाक के 21 विद्यालयों की सर्वे रिपोर्ट पेश की। इसमें बताया गया कि इन विद्यालयों में 2351 बच्चे पंजीकृत हैं लेकिन स्कूल सिर्फ 1134 ही जाते हैं। बच्चों की इस भारी-भरकम जमात पर मात्र 35 शिक्षक और 30 शिक्षामित्र तैनात हैं जबकि शिक्षा के अधिकार कानून के मानक के मुताबिक 79 शिक्षक होने चाहिए। यह भी बताया कि जो 35 शिक्षक नियुक्त हैं उनमें भी लगभग एक दर्जन से ज्यादा शिक्षक कभी स्कूल नहीं आते।
रिपोर्ट में बताया गया कि अतर्रा ग्रामीण में लोधन पुरवा में 79 बच्चों का नामांकन है। यहां सिर्फ तीन शिक्षक और एक शिक्षामित्र हैं। शिक्षक 15 अगस्त से आज तक स्कूल नहीं आए। स्कूल में बमुश्किल 10 बच्चे ही उपस्थित रहते हैं। नौगवां प्राथमिक विद्यालय में 303 बच्चों की भारी-भरकम फौज पर केवल एक शिक्षक नियुक्त है। यह भी कहा कि यहां कोई शिक्षक नियुक्ति नहीं चाहता। जिसकी नियुक्ति होती है वह तबादला करा लेता है। कमोवेश यही स्थिति प्राथमिक विद्यालय किशुनीपुरवा का है। आधे से अधिक बच्चे मिड-डे मील से वंचित रहते हैं। यानी 21 गांवों के 1127 बच्चे ड्राप आउट श्रेणी में पाए गए हैं।
राष्ट्रीय सलाहकार श्री हसन ने शिक्षा की इस बदहाली पर हैरत जताते हुए कहा कि यह स्थिति इस क्षेत्र के पिछड़ेपन को दर्शाती है। अब भरपूर कोशिश की जाएगी कि यहां की शिक्षा और सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन और गुणवत्ता में सुधार हो। समाजसेवी गोपाल भाई ने कहा कि मौजूदा शिक्षा व्यवस्था से युवा भटकाव में हैं। एक्शन एड की कार्यक्रम अधिकारी मनीषा भाटिया सहित उप जिलाधिकारी मोहम्मद नसरुल्लाह खान और खंड शिक्षा अधिकारी ने भी संबोधित किया। संचालन विद्याधाम समिति के राजाभइया द्वारा किया गया। नौगवां, गहबरा, नीबी, बिगहना, छिगरहापुरवा, गाल्हा, गुढ़ा आदि गांवों के महिला-पुरुष सहित स्वयंसेवी शामिल रहे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper