बस चालक जमानत पर रिहा

Banda Updated Sun, 11 Nov 2012 12:00 PM IST
बांदा। सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज के छात्र योगेंद्र सिंह को मौत की नींद सुलाने वाली रोडवेज बस के चालक को अदालत से जमानत मिल गई। उसे तत्काल रिहा कर दिया गया। बृहस्पतिवार को स्कूल के नजदीक स्कूटी से आ रहे योगेंद्र सिंह व उसके भाई धीरेंद्र सिंह को रोडवेज बांदा डिपो की बस ने टक्कर मार दी थी। योगेंद्र की मौत हो गई और धीरेंद्र सिंह घायल हो गया। चालक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। घटना से उत्तेजित दो दिन छात्रों ने हंगामा मचाया। शनिवार को कड़ी पुलिस सुरक्षा में बस चालक अच्छेलाल सोनकर को रिमांड मजिस्ट्रेट शिव कुमारी के सामने पेश किया गया। बहस के बाद रिमांड मजिस्ट्रेट ने जमानत अर्जी स्वीकार कर ली। कुछ ही देर में औपचारिकताएं पूरी करने के बाद चालक को रिहा कर दिया गया। चालक पर धारा 279 व 304 ए आईपीसी लगाई गई है। दोनों ही धाराएं जमानती हैं। चालक अच्छेलाल कालिंजर का रहने वाला है और संविदा पर तैनात है। ब्यूरो

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी पुलिस की हैवानियत का चेहरा, पिटाई की वजह से पेट में ही बच्चे की मौत

बांदा जिले की एक महिला ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाये है। महिला का कहना है कि उसके पति को गिरफ्तार करने आई पुलिस ने उसकी पिटाई कर दी। पुलिस की पिटाई से महिला का तीन माह का गर्भ गिर गया।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls