विज्ञापन

काश ऊंचा होता एचटी तार, बच जाती जाने

Varanasi Bureauवाराणसी ब्यूरो Updated Wed, 13 Feb 2019 11:14 PM IST
ख़बर सुनें
जयप्रकाशनगर। बिजली विभाग यदि पहले ही हाईटेंशन तार को टाइट कर ऊंचा कर दिया होता तो शायद यह हादसा नहीं हुआ होता। बैरिया थाना क्षेत्र के पूर्वी भवन टोला के बाशिंदों की माने तो बुधवार को सरस्वती प्रतिमा को विसर्जित करने जा रहे युवकों के साथ जो हादसा हुआ शायद यह हादसा नहीं होता। ग्रामीणों द्वारा उस हाईटेंशन जर्जर तार को बदलने और ऊंचा करने की बात संबंधित विभाग के अधिकारियों से कई बार लिखित व मौखिक शिकायत की। लेकिन उनके कानों पर जूं तक नहीं रेंगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
बताया कि प्रतिवर्ष मूर्ति इसी रास्ते से विसर्जित होती चली आ रही है। इस वर्ष तार और नीचे लटक गया है। आलम यह है कि जमीन से करीब पांच मीटर की ऊंचाई पर तार लटक हुआ है। इससे ट्रैक्टर पर बंधे लाउडस्पीकर सट गया और दो युवकों की मृत्यु व पांच युवक जीवन और मौत से जिला अस्पताल में जूझ रहे है। जिस समय बैरिया थाना क्षेत्र के पूर्वी भवन टोला में हाईटेंशन तार से हादसा हुआ। वहां अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया। लोगों को यह समझ में नहीं आ रहा था कि आखिर क्या करें। इसी बीच किसी ने बिजली विभाग व पुलिस को फोन कर घटना की सूचना दी। जिसके बाद बिजली काटी गई। अन्यथा और कई लोगों की जान जा सकती थी। इस दौरान मृतक और झुलसे युवकों के परिजनों को रोते-रोते बुरा हाल था। उधर, प्रशासन व पुलिस महकमा के साथ ही ग्रामीण पर एक-दूसरे का सहयोग करने में लगे हुए थे।

Recommended

समस्त भौतिक सुखों की प्राप्ति हेतु शिवरात्रि पर ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर में करवाएं विशेष शिव पूजा
ज्योतिष समाधान

समस्त भौतिक सुखों की प्राप्ति हेतु शिवरात्रि पर ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर में करवाएं विशेष शिव पूजा

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Ballia

अब 104 शिक्षकों की फौज रोकेगी न

अब 104 शिक्षकों की फौज रोकेगी न

20 फरवरी 2019

विज्ञापन
आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree