गायकों ने रातभर झुमाया तो हंसाया भी

Ballia Updated Mon, 12 Nov 2012 12:00 PM IST
d संवाददाता
भरौली। ‘चरण में नमन बा, इ मस्तक झुका के। सजा द तू सरगम, वीणा बजा के...।’ कुछ ऐसे ही भक्ति नज्मों से शनिवार की देर शाम गड़हा महोत्सव की शुरुआत की गई। मंच की शोभा बढ़ाने पहुंचे यूपी, बिहार सहित विभिन्न प्रांतों के नामी-गिरामी कलाकारों ने पूरी रात श्रोताओं को बांधे रखा। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि सपा सांसद नीरज शेखर ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया।
गड़हा महोत्सव की शुरुआत रवींद्र राजू ने सरस्वती वंदना से हुई। भोजपुरी गायक गोपाल राय ने अतिथियों का स्वागत गंगा मां के गीत से किया। गोपाल ने जब ‘गंगा जी के निर्मल पनिया, त गड़हा के मटिया सलोर...।’ प्रस्तुत किया तो लोगों की खूब तालियां बजीं। इसके बाद गायक मुन्ना सिंह ने ‘...ना जाने कब लाल किला से मोर भोजपुरिया गूंजी हो..’ गाकर लोगों को झूमने के लिए मजबूर कर दिया। गोपालगंज बिहार के गीतकार अन्नू दुबे ने ‘गौरी के ललना हमरा सुमिरन में आई जी, मंगल के दाता हई बिगड़ी बनाईं जी...।’ तथा ‘शेर पर सवार होके आइल बाड़ी अपनी नगरिया से...।’ गाकर लोगों को एक तरफ भक्ति रस में गोता लगवाया तो दूसरी तरफ ‘छोड़ा जनी घाट पर पटाखा, कि जियरा डेराता...।’, आदि गाकर दर्शकों की खूब वाहवाही लूटी। अंजली भारद्वाज ने ‘मइया के बिंदिया लिलार बड़ा निक लागेला...’ व ‘बाजे पैजनिया रुनझुन मइया जी के पांव में...।’ बिहार के छपरा से आई खुशबू उत्तम ने ‘गांजा नइखे कारे कि भांग पियतारे...।’ व ‘आरा हीले, छपरा हीले बलिया हीलेला...’ इसी क्रम में छत्तीसगढ़ की आर्य नंदिनी ने ‘पान खाए सइयां हमार हो...’ गाकर श्रोताओं का भरपूर मनोरंजन किया। नीतू कुमारी नूतन ने ‘सासू जी के बात न सुहाला, सइयां हमसे रहलो ना जाला..।’ गाकर सास व बहू के बीच के विरोधाभाष को उकेरा। सुर संग्राम के विजेता मोहन राठौर व आलोक ने संयुक्त रूप से ‘हम ना आइल बानी खाए रोटी-भात के, बूझत नइखअ हमरा बात के...।’ व ‘सलामत रहे दोस्ताना हमारा’ गाकर श्रोताओं को झुमाया। महुआ चैनल के ‘बिहाने-बिहान’ के एंकर अजीत आनंद ने किया हो ‘रामा अमृत के बरसे बदरिया, मंगला भवानी के दुअरिया...।’ गाकर लोगों को देवी के चरणों में झुकने को बाध्य किया। जौनपुर की कल्पना सिंह ने ‘मुंबई शहरिया से अइलीं मोर बहिनिया...।’, देवरिया की शुभा मिश्रा ने ‘छोटी रे मोरी नरियर गछिया, फरेला झोपेदार...।’ गाकर लोगों की खूब वाहवाही लूटी। कमल वास कुंवर ने अपने को बूढ़ा कहे जाने पर जोश में आकर श्रोताओं को अपने गीत से झूमने पर मजबूर कर दिया। कलाकारों ने अपने गीत-संगीत के स्वर लहरियों से रातभर श्रोताओं को बांधे रखा। इस मौके पर मुख्य रूप से भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजीव उपाध्याय, बिहार के पियरो विधायक सुनील पांडेय, एमएलसी हुलास पांडेय, आरा के आमोद राय, छात्र शक्ति के रमेश सिंह, बक्सर के चौंसा प्रखंड की प्रमुख सुनीता राय, सपा के राष्ट्रीय सचिव राजीव राय, पूर्व ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि वंशीधर यादव, हरिशंकर राय, विजेंद्र राय, रियाजुद्दीन राजू, सिकंदरपुर के प्रधान प्रतिनिधि प्रभुदयाल निषाद आदि रहे। कार्यक्रम का संचालन जय प्रकाश जिद्दी, रवि रंजन राय और हरे राम राय ने किया।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

Report: पंजाब में टूटने लगी है ड्रग माफिया की कमर, जानिए कैसे और क्यों?

पंजाब में अब ड्रग माफिया की कमर टूटने लगी है, मतलब सरकार ने प्रदेश में नशा खत्म करने के लिए जो वादा किया था, वह पूरा होता दिख रहा है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, कहा देश में बेहद कम मुसलमान देशभक्त

सत्ता सुख मिलने के बाद यूपी बीजेपी का कोई न कोई नेता लगातार विवादित बयान दे रहा है। अब बलिया से बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि देश के ज्यादातर मुसलमान देशभक्त नहीं है। वो खाते भारत का हैं, और चिंता पाकिस्तान की करते हैं।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper