दशरथ मरण के दृश्य ने सबको किया भावुक

Ballia Updated Sat, 27 Oct 2012 12:00 PM IST
बिल्थरारोड। श्रीराम लीला कमेटी के तत्वावधान में चल रहे लीला मंचन के क्रम में केवट अनुराग, दरथ मरण, भरत मनावन व नंदी ग्रामवास की भावपूर्ण प्रस्तुति की गई। जंगल में विचरण करते हुए राम, लक्ष्मण व सीता गंगा तट पहुंचे।
गंगा तट पहुंच दोनों भाई गंगा पार जाने के लिए केवट के पास पहुंचे। केवट ने नाव द्वारा गंगा पार ले जाने से इंकार कर दिया। केवट ने विनय पूर्वक कहा कि हे राम! मेरे व मेरे परिवार की जीविका का सहारा एक मात्र नाव ही है। अहिल्या की तरह यदि मेरी नौका आपके चरणरज के स्पर्श से नारी बन गई तो मेरे परिवार का भरण-पोषण कैसे होगा। इसलिए प्रभु जब तक आप के पैर को पूरी तरह से धो नहीं लूंगा, तब तक गंगा पार नहीं कराऊंगा। राम ने सहर्ष पैर धोने की आज्ञा दे दी। प्रसन्नता पूर्वक केवट ने राम, लक्ष्मण व सीता के चरण धोए तथा सपरिवार चरणामृत ग्रहण कर पुण्य व यश के भागी बने। उधर राम के वियोग में राजा दशरथ की तबियत ज्यादा खराब हो गई। दशरथ के मानस पटल पर श्रवण कुमार की मृत्यु का दृश्य उभरने लगा। श्रवण के अंधे माता-पिता के शाप का ध्यान आते ही दशरथ चीत्कार उठे और कुछ समय तक राम-राम कहते हुए प्राण त्याग दिए। दशरथ के निधन से अयोध्या में शोक की लहर दौड़ गई। ननिहाल से भरत व शत्रुघभन को बुलाया गया।
अयोध्या पहुंचने पर भरत शत्रुघभन को राम वनगमन व दरथ मरण की जानकारी हुई। इसके लिए भरत ने कैकेयी व मंथरा को जिम्मेदार ठहराते हुए जमकर खरी-खोटी सुनाई तथा राम को मनाने वन प्रस्थान किए। वन में राम व भरत एक दूसरे से गले लिपट गए। भरत के आंखों से अश्रु धारा बह निकली। भरत ने राम को काफी समझाया, लेकिन पिता दशरथ द्वारा दिए गए वचन को याद दिलाते हुए अध्योध्या वापस लौटने से इंकार कर दिया। अंतत: राम ने अपना चरण पादूका देकर भरत को विदा कर दिया। उदास मन से भरत अध्योध्य लौट आए। भरत के अयोध्या चले जाने के बाद राम, लक्ष्मण व सीता नंदी ग्राम पहुंचे तथा पर्ण कुटी बनाकर रहने लगे। केवट अनुराग की लीला देख दर्शक रोमांचित हो उठे।
वहीं दशरथ मरण के जीवंत अभिनय से लीला प्रेमियों की आंखे छलछला गईं। निर्देशक बृजकिशोर आजाद, विनय प्रकाश डेविड, नरेंद्र, विपिन बिहारी, अंचल यादव, जितेंद्र, अजीत मिश्र का अभिनय सराहनीय रहा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी एसटीएफ ने मार गिराया एक लाख का इनामी बदमाश, दस मामलों में था वांछित

यूपी एसटीएफ ने दस मामलों में वांछित बग्गा सिंह को नेपाल बॉर्डर के करीब मार गिराया। उस पर एक लाख का इनाम घोषित ‌किया गया था।

17 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, कहा देश में बेहद कम मुसलमान देशभक्त

सत्ता सुख मिलने के बाद यूपी बीजेपी का कोई न कोई नेता लगातार विवादित बयान दे रहा है। अब बलिया से बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि देश के ज्यादातर मुसलमान देशभक्त नहीं है। वो खाते भारत का हैं, और चिंता पाकिस्तान की करते हैं।

15 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper