गंगा के लिए कुर्बानी की अपील

Ballia Updated Tue, 19 Jun 2012 12:00 PM IST
बलिया। गंगा नदी विदेशी कंपनियों के नियंत्रण में है। सरकार राष्ट्र के जलस्रोतों को मुनाफा का साधन बना चुकी है। 1949 के बाद प्रत्येक सरकार ने पर्यावरण विरोधी इस काम को हवा दिया है। अब सभी गंगा प्रदूषण एवं अविरलता के नाम पर घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं।
यह बात गंगा मुक्ति एवं प्रदूषण विरोधी अभियान के राष्ट्रीय प्रभारी रमाशंकर तिवारी ने सोमवार को बिहार के आरा तथा बक्सर जिले में करीब तीन दर्जन गांवों में जाकर आम बिहारी को गंगा के दुर्दशा से अवगत कराने के बाद लौटने पर रविवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कही। कहा कि गंगा मुक्ति आंदोलन की शत-प्रतिशत सफलता में अभी और वक्त लगेगा। देश की दो तिहाई जनता को गंगा के दर्द का पता तक नहीं है। कहा कि गंगा को लेकर उपजे आंदोलन में सौदेबाजी का नई दिल्ली में नाटक शुरू हो गया है। जिसे देश की जनता कभी बर्दाश्त नहीं करेगी। बिजली परियोजनाओं को राष्ट्र हित में बताकर आम भारतीय को धोखा दिया जा रहा है। गंगा एवं उसकी सहायक नदियां जल विद्युत परियोजनाओं से नष्ट हो रही हैं। जिसे हर कुर्बानी देकर उसे बचाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने गंगा को लेकर अपनी नीति नहीं बदली तो गंगा मुक्ति आंदोलन भविष्य में और व्यापक होगा।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, कहा देश में बेहद कम मुसलमान देशभक्त

सत्ता सुख मिलने के बाद यूपी बीजेपी का कोई न कोई नेता लगातार विवादित बयान दे रहा है। अब बलिया से बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि देश के ज्यादातर मुसलमान देशभक्त नहीं है। वो खाते भारत का हैं, और चिंता पाकिस्तान की करते हैं।

15 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls