मोहल्ला वीआईपी, सुविधाएं फिसड्डी

Ballia Updated Sun, 03 Jun 2012 12:00 PM IST
बलिया। नगर पालिका परिषद का वार्ड नंबर 16 पुराना और वीआईपी मोहल्ला माना जाता रहा है। तत्कालीन नगर विकास मंत्री विक्रमादित्य पांडेय के तमाम कवायद के बावजूद क्षेत्र का पूरा विकास नहीं हो सका है। इस बार के निकाय चुनाव में दमदार प्रत्याशी को ही अपना प्रतिनिधि चुनने की होड़ में दिख रहे हैं। जो उनकेे सपनों के मुताबिक विकास करके वार्ड को एक अलग पहचान दे सकें। इस वार्ड की आबादी करीब सात हजार है। जिसमें मतदाता 6200 है। जिसमें पुरुष मतदाता 3200 एवं महिला मतदाताओं की संख्या 3000 है।
दीपक सोनी ने बताया कि मोहल्ले की उपेक्षा की जा रही है। वार्ड की जर्जर सड़कों से लोग बेहाल हैं। नाली से गंदा पानी निकासी और पानी की समस्या हमेशा बनी रहती है।
राजू यादव ने बताया कि मोहल्ले की सड़क पर लाखों खर्च हुआ पर स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ। नाली से पानी की निकासी नहीं हो पाती है। जिसके चलते लोगों को बरसात के दिनों के गंदगी में होकर गुजरना पड़ता है।
संजय यादव ने कहा कि यह मोहल्ला कहने को तो शहर का वीआईपी मोहल्ला है लेकिन यहां नाली से में बेशुमार होने के बावजूद नाली से पानी निकासी नहीं हो रहा है और सड़क की जर्जरावस्था से गुजर रहा है। इसके चलते बारिश के दिनों में स्थिति और दयनीय हो जाती है। पिछले कार्यकाल में कुछ विकास कार्य कराए गए लेकिन आज भी समस्याएं बरकरार हैं।
प्रभात कुमार सेठ ने बताया कि मोहल्ले में विकास कार्य हुए है लेकिन आज विकास की दरकार है। लोगोें की को वहीं सभासद पसंद होगा जो विकास कार्यों के प्रति संजीदा हो। इस बार के प्रत्याशी से मोहल्ले के लोगों को काफी आशाएं है। लोग इस बार की परीक्षा में फेल होना नहीं चाहते हैं। सोनू कुमार ने बताया कि अब तक लोगों के साथ सभासदों ने खिलवाड़ किया है। इस बार सड़क एवं नाली को सुदृढ़ करने वाला ही लोगों का चहेता बन सकेगा। नगर के मुख्य हिस्से में बसे इस मोहल्ले की सुधि लेने वाला कोई नहीं है। नपा प्रशासन भी इसके लिए जिम्मेदार है।
दशरथजी ने बताया कि पिछले कार्यकाल में वार्ड की तमाम समस्याओं के लिए धन तो आया लेकिन उसके सापेक्ष कार्य नहीं कराया जा सका। नपा प्रशासन अगर इन विकास कार्यों के आवंटित धन का विवरण सबके सामने रख दे तो पता लगेगा।
दीपक केसरी ने बताया कि अबतक विभिन्न सभासदों ने मोहल्ले में विकास कार्य तो कराए, लेकिन आज भी बिजली एवं पानी की किल्लत बनी रहती है। नपा प्रशासन के उदासीनता से लोग आज भी मोहल्ले के लोग बिजली व पानी जैसी मूलभूत समस्याओं से जूझ रहे है। इसके लिए नपा को कारगर कदम उठाना होगा।
सुशील कुमार ने बताया कि मोहल्ले में विकास कार्य के नाम कोई खास पहल हुई है।
अगर इस मोहल्ले में सड़कों के दोनों पटरियों एवं उनके किनारे बने नालियों को ठीक करा दिया जाय तो उसके सुंदरता में चार-चांद लग जाएगें। अगर अतिक्रमणमुक्त सड़के बना दी गई तो निश्चित ही विकास की कड़ी में एक सराहनीय कार्य होगा।
बब्बन गुप्ता ने कहा कि मोहल्ले में बिजली कटौती से लोग बेहाल है। स्वच्छ पेयजल से न मिलने से पानी की समस्या भी बढ़ गई है। मोहल्ले की सबसे बड़ी समस्या जल निकासी की है। सीवरेज निर्माण के बाद सड़कों की ओर कोई खास ध्यान नहीं दिया गया।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Meerut

चालान काटने पर महिला कांस्टेबलों पर भड़के भाजपाई

चालान काटने पर महिला कांस्टेबलों पर भड़के भाजपाई

18 फरवरी 2018

Related Videos

ड्रॉइंग बनाने पर महिला टीचर ने मारा थप्पड़, छात्रा की चली गई जान

बलिया के एक प्राइवेट स्कूल में एक महिला टीचर के थप्पड़ से एक चौथी क्लास की छात्रा की मौत हो गई। छात्रा के घरवालों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

9 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen