जिला अस्पताल में विकलांगों का धरना

Ballia Updated Thu, 10 May 2012 12:00 PM IST
बलिया। विकलांग प्रमाण-पत्र बनाने को लेकर मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय पर जनपद के विकलांगों ने धरना-प्रदर्शन किया। गौरतलब है कि प्रत्येक बुधवार को सीएमओ कार्यालय पर विकलांग प्रमाण-पत्र जारी किया जाता है। इस दौरान विकलांगों के प्रतिनिधिमंडल ने अपना पांच सूत्री मांग पत्र सीएमओ के प्रतिनिधि एसीएमओ मंसूर अहमद को सौंपा।
अखिल भारतीय विकलांग संगठन कमेटी के बैनर तले जिला कमेटी के सदस्यों ने पांच सूत्री मांगपत्र के समर्थन में सीएमओ कार्यालय पर जिलाध्यक्ष आेंकार नाथ तिवारी के नेतृत्व में धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान मौके पर पहुंचे सीएमओ के प्रतिनिधि अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. मंसूर अहमद को मांगपत्र सौंप कर कार्रवाई की मांग की। जिसे जायज मानते हुए डा. मंसूर ने उसके अनुपालन के संदर्भ में तत्काल आवश्यक दिशा निर्देश जारी करने को कहा। तत्पश्चात संगठन के सदस्यों ने अस्पताल परिसर के काली मंदिर चबूतरा बैठक कर विकलांग प्रमाण पत्र जारी करने में की जा रही मनमानी पर आक्रोश जताया।
कार्यकर्ताओं ने चेताया कि अगर हमारी मांगों को गंभीरता से नहीं लिया गया तो हम लोग आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। संगठन के संस्थापक एवं जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र तिवारी ने कहा कि संगठन आप लोगों के एक-एक समस्याओं के निस्ताण के लिए कृत संकल्पित है। श्री तिवारी ने शासन प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि विकलांग भी समाज के अंग होते हैं। लेकिन इनकी हमेशा ही उपेक्षा की जाती है। इस दौरान संजय सिंह, योगेंद्र ठाकुर, कालीदास स्वामी, मणि बहादुर सिंह, लक्ष्मी साहनी, अवधेश सिंह, राधेश्याम यादव, रामदेव कश्यप, झुल्लन अंसारी आदि ने संबोधित किया। अध्यक्षता जगन्नाथ तिवारी एवं संचालन दिनेश मिश्र ने किया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, कहा देश में बेहद कम मुसलमान देशभक्त

सत्ता सुख मिलने के बाद यूपी बीजेपी का कोई न कोई नेता लगातार विवादित बयान दे रहा है। अब बलिया से बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि देश के ज्यादातर मुसलमान देशभक्त नहीं है। वो खाते भारत का हैं, और चिंता पाकिस्तान की करते हैं।

15 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls