गड्ढे क्या पूरी सड़क ही हो चुकी है ध्वस्त

Varanasi Bureau Updated Tue, 06 Jun 2017 10:55 PM IST
ख़बर सुनें
बलिया/भरौली। योगी सरकार के फरमान के बावजूद जिले की दर्जनों सड़कें निर्धारित समय सीमा के अंदर गड्ढामुक्त नहीं हो सकेंगी। केवल गड़हांचल में ही आधा दर्जन से अधिक सड़कें बदहाल हैं और इन सड़कों पर अभी तक काम भी शुरु नहीं हो सका है। इससे साफ है कि मुख्यमंत्री की डेटलाइन में ये सड़कें चलने लायक नहीं हो सकेंगी।
सड़कों के निर्माण के लिए विभाग को धनराशि भी मुहैया कराई गई लेकिन कार्य की गति इस कदर धीमी है कि 15 जून तक अधिकांश सड़कों के गड्ढामुक्त होने की उम्मीद नहीं है। सोहांव ब्लॉक के गड़हांचल में अधिकांश सड़कों की हालत काफी जर्जर है। जबकि अभी तक यह इलाका कई बार ‘लालबत्ती’ के दायरे में रहा है। इलाके में भरौली-टुटवारी मार्ग सबसे व्यस्त मार्ग है। इसपर कई जगह बड़े-बड़े गड्ढे बने हुए हैं। इसके अलावा बघौना से रामापुर मार्ग तो पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। इस पांच किलोमीटर सड़क का निर्माण वर्ष 2007-08 में प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत करोड़ों की लागत से किया गया। ग्रामीणों की मानें तो यह सड़क वर्ष 2010 से ही क्षतिग्रस्त है। इस सड़क से करीब 80 फीसदी पिच गायब हो चुके हैं। इसी इलाके में जाजर से विशेश्रवरपुर मार्ग करीब ढाई किलोमीटर लम्बी है, जो महज दो साल पहले पीडब्लूडी की ओर से बनाई गई थी। इसकी गुणवत्ता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि दो साल में ही पूरी सड़क ध्वस्त हो चुकी है। इस मार्ग पर भी मरम्मत का कार्य शुरु नहीं कराया गया है। इलाके के विशेश्वरपुर से टुटुवारी तक दो किलोमीटर की सड़क सालों से खराब है और विस चुनाव से पहले विधायक (वर्तमान में प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार) ने श्रमदान कर निर्माण के लिए आंदोलन किया था। इस सड़क पर काम तो शुुरु किया गया है लेकिन उम्मीद नहीं है कि 15 जून तक कार्य पूरा हो जाएगा। क्षेत्र के दो किलोमीटर लम्बी रामगढ़-एकौनी सड़क का भी हाल बदतर है और इस मार्ग पर गड्ढे क्या पूरी सड़क ही ध्वस्त है। इस मार्ग पर तीन माह बाद भी मरम्मत का काम शुुरु नहीं किया गाय है।
पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन आरएस यादव का कहना है कि जनपद की सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का कार्य जारी है। पूरी कोशिश होगी कि निर्धारित तिथि के भीतर सड़कों को गड्ढा मुक्त कर दिया जाए।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मामाजी, कृपया जाति को शिक्षा में न लाएं, छात्रों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा

ऐसा अक्सर नहीं होता है कि आप शैक्षिक संस्थानों में आरक्षण और छात्रों की जाति के आधार पर मुफ्त लैपटॉप जैसी सुविधाएं देने जैसे संवेदनशील विषय पर एक मुख्यमंत्री से सवाल पूछ सकें। 

22 मई 2018

Related Videos

योगी के कैबिनेट मंत्री ने कार्यकर्ताओं को दिया श्राप, कहा ये बिमारी होगी

बलिया में योगी कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कार्यकर्ताओं को श्राप दिया है। कैबिनेट मंत्री राजभर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि अगर दूसरे दल की रैली में गए तो पीलिया हो जाएगा।

21 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen