16 ब्लैकलिस्टेड कॉलेज फिर बने बोर्ड परीक्षा केंद्र

Bahraich Updated Mon, 20 Jan 2014 05:45 AM IST
बहराइच। मध्यमिक शिक्षा परिषद के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं मार्च में शुरू होगी। इसके लिए तैयारियां तेज हो गई हैं। लेकिन जिले में इस बार फिर काली सूची में शामिल सभी 16 विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बना दिया गया है। इसके अलावा पूर्व में जारी की गई 127 परीक्षा केंद्रों की सूची में एक और केंद्र जुड़ गया है। जिससे जिले में परीक्षा केंद्रों की संख्या 128 पहुंच गई है। हालांकि काली सूची के विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाए जाने से बोर्ड परीक्षा के तैयारियाें की शुचिता और पारदर्शिता पर सवाल उठने लगे हैं।
माध्यमिक शिक्षा परिषद के बोर्ड परीक्षा की तैयारी में माध्यमिक शिक्षा विभाग जुटा हुआ है। जिले में एक जनवरी को 127 परीक्षा केंद्रों की सूची जिला विद्यालय निरीक्षक ने वर्ष 2014 की बोर्ड परीक्षा के लिए जारी किया था। इन परीक्षा केंद्रों पर हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के लगभग 95 हजार छात्र-छात्राएं परीक्षा देंगे। लेकिन गौरतलब यह हैै कि 127 परीक्षा केंद्रों में 16 ऐसे विद्यालय भी शामिल कर दिए गए हैं जो वर्ष 2013 की बोर्ड परीक्षा में अत्यधिक नकल के कारण काली सूची में डाल दिए गए थे। काली सूची के विद्यालयों के परीक्षा केंद्र बनने से वर्ष 2014 की बोेर्ड परीक्षा सुचारु तरीके से हो सकेगी, इस पर सवाल उठने लगे हैं।
37 परीक्षा केंद्रों पर पकड़ी गई थी नकल
वर्ष 2013 की बोर्ड परीक्षा के दौरान जिले के 37 परीक्षा केंद्र ऐसे थे। जहां पर उड़ाका दस्ता और आंतरिक सचल दस्ता के सदस्यों ने लगभग पौने दो सौ नकलचियों को पकड़ा था। इन नकलचियों के खिलाफ नकल अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई थी।
छह केंद्र व्यवस्थापक औैर 26 कक्ष निरीक्षक पर हुई कार्रवाई
2013 की बोर्ड परीक्षा केंद्रों पर अलग-अलग परीक्षा केंद्रों पर नकल के चलते छह केंद्र व्यवस्थापक और 26 कक्ष निरीक्षकों को बोर्ड परीक्षा की ड्यूटी से हटाया गया था। इन सबके खिलाफ भी नकल अधिानियम के तहत कार्रवाई हुई थी। जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि परीक्षा में अनियमितता के दोषी कक्ष निरीक्षकाें के मामले में उनके विभागाध्यक्ष को पत्र लिखकर कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे।
समय सीमा के बाद नदौना बना परीक्षा केंद्र
बोर्ड परीक्षा केंद्र निर्धारण करके सूची एक जनवरी को जारी कर दी गई। लेकिन इसके बाद नदौना उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चिलवरिया को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। मालूम हो कि दो वर्ष पूर्व इस परीक्षा केंद्र पर परीक्षा के दौरान प्रधानाचार्य ने रिवॉल्वर से फायरिंग की थी। इस मामले में श्रावस्ती जिले के गिलौला थाने में केस दर्ज हुआ था।
बाल शिक्षा निकेतन प्रशासन ने परीक्षा केंद्र बनाने से किया इंकार
जिला विद्यालय निरीक्षक अमरेंद्र सिंह ने बताया कि शहर में स्थित बाल शिक्षा निकेतन को भी बोर्ड का परीक्षा केंद्र इस बार बनाया गया है। लेकिन विद्यालय प्रशासन ने बोर्ड का परीक्षा केंद्र लेने से इंकार कर दिया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में अभी बातचीत चल रही है।
मजबूरी के तहत डिबार विद्यालय बने केंद्र
जिला विद्यालय निरीक्षक अमरेंद्र सिंह का कहना है कि मजबूरी के तहत काली सूची में शामिल सभी 16 विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। उन्होंने कहा कि स्कूलों की कमी है। जबकि छात्र संख्या वर्ष 2013 की परीक्षा के सापेक्ष 14500 अधिक है। उन्होंने कहा कि जो विद्यालय काली सूची के हैं, वहां पर सरकारी विद्यालयों के प्रवक्ताओं को केंद्र व्यवस्थापक के रूप में तैनात किया जाएगा। कक्ष निरीक्षकों की भी अलग से व्यवस्था की जाएगी।
परीक्षा केंद्रों की सूची विलंब से हुई जारी
माध्यमिक शिक्षक संघ के जिला मंत्री डॉ. दीनबंधु शुक्ल का कहना है कि संघ की ओर से सदैव शुचितापूर्ण बोर्ड परीक्षा की मांग की गई है। लेकिन विभागीय अधिकारियों की हीलाहवाली के चलते इस बार बोर्ड परीक्षा केंद्रों की सूची इस बार एक माह देरी से प्रकाशित की गई। जिससे परीक्षा के संसाधनों की सम्यक व्यवस्था करने में जहां कठिनाई होगी।
पूरा स्टाफ बदलने पर ही पारदर्शितापूर्ण होगी परीक्षा
राजकीय शिक्षक संघ के प्रांतीय प्रवक्ता वीएस श्रीवास्तव ने कहा कि परीक्षा केंद्रों के निर्धारण को लेकर प्रतिवर्ष महकमे पर उंगलियां उठती हैं। इसके बावजूद अधिकारियों का ढर्रा वही है। उन्होंने कहा कि डिबार विद्यालय परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं तो वहां पर पूरा स्टॉफ चेंज करना होगा। तभी नकल विहीन परीक्षा हो सकेगी।

Spotlight

Most Read

Rohtak

सीएम को भेजा पत्र

सीएम को भेजा पत्र

23 जनवरी 2018

Rohtak

एमटीएफसी

23 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper