लखनउवा गांव में 3.5 लाख रुपये का डाका

Bahraich Updated Tue, 02 Oct 2012 12:00 PM IST
बहराइच/श्रावस्ती। लखनउवा कोठार गांव में रविवार रात सशस्त्र नकाबपोश डकैतों ने एक ग्रामीण के घर में घुसकर 3.5 लाख की संपत्ति लूट ली। विरोध करने पर परिजनों को बंधक बना लिया। डकैतों ने मकान मालिक के बेटे को भी गोली मार दी। डेढ़ घंटे तक डकैत उत्पात मचाते रहे। इसके बाद सामान समेटकर भागने लगे। ग्रामीणों ने घेराबंदी का प्रयास किया तो उन पर भी डकैतों ने फायर झोंक दिया, जिससे तीन ग्रामीण घायल हो गए। रात में ही घायल को जिला अस्पताल बहराइच में भर्ती कराया गया। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर तलाश में छापेमारी कर रही है।
श्रावस्ती जिले के सोनवा थाना अंतर्गत लखनउवा कोठार गांव निवासी साबिर अली अपने पुत्र किसमत अली (38) व अन्य परिजनों के साथ रविवार की रात घर में सो रहे थे। रात एक बजे के आसपास छत के सहारे डकैत साबिर के घर में घुस गए। सो रहे परिजनों को सभी ने असलहों के बल पर काबू में कर लिया। परिवार के कुछ सदस्यों ने विरोध जताया तो उन्हें मारापीटा। किसमत अली ने एक बदमाश को पकड़ने की कोशिश की तो उस पर बदमाशों ने कट्टे से फायर कर दिया। इसके बाद 8 चक्र फायरिंग कर डकैत सामान समेटने लगे।
दहशत के चलते परिवार के लोग बेबस बने रहे। पैर में गोली लगने से किसमत तड़पता रहा। लगभग डेढ़ घंटे तक डकैतों ने उत्पात मचाया। चीख पुकार और फायरिंग सुनकर गांव के लोग दौड़े। घेराबंदी होते देख बदमाशों ने ग्रामीणों पर भी फायर किया जिससे गांव निवासी मोलहे (35), मोहर्रम (32) और आशाराम (22) को छर्रे लगे। घायल किस्मत के भाई रईस ने बताया कि डकैत 50 किलो मेंथा ऑयल, लगभग 20 हजार रुपये नकदी व लगभग ढाई लाख मूल्य के सोने चांदी के जेवरात समेट ले गए। सभी बदमाश नकाब पहने हुए थे, जिससे उन्हें पहचाना नहीं जा सका। सबके हाथ में कट्टा व तलवारें थीं। फायरिंग के चलते गांव के लोग भी बदमाशों के सामने जाने से कतराते रहे। बदमाशों के भागने के बाद परिवार के लोग चीखने चिल्लाने लगे। ग्रामीण इकट्ठा हुए। रात में ही लहूलुहान किस्मत को जिला अस्पताल बहराइच पहुंचाया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है। रईस ने सोनवा थाने में तहरीर दी है। पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना कर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। थानाध्यक्ष रामकृष्ण यादव ने बताया कि डकैतों के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Spotlight

Most Read

Hapur

अब जिले में नहीं कटेंगे बूढ़े हो चुके फलदार वृक्ष

अब जिले में नहीं कटेंगे बूढ़े हो चुके फलदार वृक्ष

22 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper