विज्ञापन

तय समय तक ओपीडी में नहीं बैठ रहे चिकित्सक

Lucknow Bureauलखनऊ ब्यूरो Updated Thu, 10 Jan 2019 11:02 PM IST
ख़बर सुनें
बहराइच। जिला अस्पताल देवीपाटन मंडल का आदर्श अस्पताल है। प्रतिदिन औसतन 32 सौ मरीज इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
इनमें बहराइच के अलावा पड़ोसी जनपद श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थनगर और नेपाल राष्ट्र के मरीज होते हैं। लेकिन जिला अस्पताल में डॉक्टर तय समय तक ओपीडी में नहीं बैठ रहे हैं।

ऐसे में दूर-दराज के जनपदों से पहुंचने वाले रोगी और तीमारदार भटकने को मजबूर हैं। गुरुवार दोपहर बाद जब ‘अमर उजाला’ टीम जिला अस्पताल पहुंची तो उसे अव्यवस्था दिखी।

ओपीडी का समय दोपहर दो बजे तक होने के बावजूद 1:30 से 1:40 बजे तक अधिकतर डॉक्टर जा चुके थे। ओपीडी में चिकित्सकों की कुर्सियां खाली पड़ी थी।

जबकि मरीज ओपीडी के बाहर डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहे थे। ओपीडी में सिर्फ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. मलय श्रीवास्तव व हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. एसपी सिंह ही बैठे मिले। ओपीडी के लगभग 13 कमरों में सन्नाटा पसरा मिला।

सीन- 1
ओपीडी नंबर 22
जिला अस्पताल के ओपीडी नंबर 22 में हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. एसपी सिंह बैठे मिले। आधा दर्जन मरीज अपने परीक्षण का इंतजार कर रहे थे। डॉ. एसपी सिंह ने बताया कि अब तक 70 मरीजों का परीक्षण कर उन्हें परामर्श दे चुके हैं।

सीन- 2
ओपीडी नंबर 25
ओपीडी कक्ष 25 में फिजीशियन प्रभाकर मिश्रा की ड्यूटी थी। लेकिन वे नदारद मिले। पता चला कि 25 मिनट पहले ही चिकित्सक डॉ. प्रभाकर जरूरी काम होने की बात कहकर निकल गए थे।

सीन- 3
ओपीडी नंबर 23
ओपीडी कक्ष नंबर 23 में नाक, कान, गला रोग विशेषज्ञ डॉ. एसके वर्मा बैठते हैं, लेकिन वे भी 1.35 बजे नदारद मिले। जबकि कक्ष के बाहर मरीज चिकित्सक के आने का इंतजार कर रहे थे। कक्ष में मौजूद एक सहयोगी ने बताया कि पांच मिनट पहले डॉक्टर साहब चले गए हैं।

सीन- 3
ओपीडी नंबर 21
कक्ष संख्या 21 में फिजीशियन एसके त्रिपाठी बैठते हैं, लेकिन उनकी कुर्सी भी खाली मिली। जबकि कक्ष के बाहर 20 से अधिक रोगी बैठे मिले। पता चला कि रोगी आधे घंटे से चिकित्सक का इंतजार कर रहे हैं।

केस- 4
ओपीडी संख्या 14
ओपीडी कक्ष 14 में डॉ. एफआर मलिक की कुर्सी खाली मिली। पता चला कि वह दोपहर में ऑपरेशन थियेटर जाने की बात कहकर निकले थे। कक्ष के बाहर सात मरीज चिकित्सक के आने का इंतजार कर रहे थे।

केस- 5
ओपीडी कक्ष संख्या 18 में चेस्ट फिजीशियन डॉ. आरएन बरनवाल मरीजों से घिरे मिले। लगभग 13 मरीज बैठे हुए थे, जिनका वे परीक्षण कर रहे थे।

डॉक्टरों का इंतजार करते मिले रोगी
जिला अस्पताल में पयागपुर के पंडितपुरवा निवासी भगतराम ने बताया कि एक बजे अस्पताल पहुंचे तो पता चला कि चेस्ट फिजीशियन कुछ देर पहले निकल गए हैं।

सदर तहसील क्षेत्र निवासी सुनीता ने बताया कि अरसे से बुखार पीड़ित हैं। डॉ. प्रभाकर को दिखाना था, लेकिन वह नहीं मिले।

शहर के मोहल्ला सूफीपुरा निवासी कुलेतरा ने कहा कि पेट दर्द से छह दिन से परेशान हूं। डॉ. एसके त्रिपाठी का इलाज चल रहा है। दोपहर में एक बजे दर्द बढ़ा तो अस्पताल आए, लेकिन चिकित्सक से मुलाकात नहीं हो सकी।

औचक निरीक्षण कर करेंगे कार्रवाई
जिला अस्पताल में ओपीडी का समय सुबह आठ बजे से दोपहर बाद दो बजे तक है। इस अवधि में किसी भी चिकित्सक को ओपीडी कक्ष न छोड़ने की हिदायत है।

फिर भी अगर चिकित्सक कक्ष में मौजूद न मिले तो इस मामले में औचक निरीक्षण कर कार्रवाई करेंगे। संबंधित चिकित्सक से भी बात कर उन्हें सजग किया जाएगा।
-डॉ. डीके सिंह, मुख्य चिकित्साधीक्षक

जनऔषधि केंद्र में जीवन रक्षक दवाएं भी खत्म
जिला अस्पताल स्थित जन औषधि केंद्र में महज 12 प्रकार की दवाएं ही बची हैं। न तो एंटी बायोटिक है और न ही बुखार, खांसी और उल्टी दस्त की दवा।

इसके कारण अब मरीजों ने जन औषधि केंद्र जाना भी बंद कर दिया है। सीएमएस का कहना है कि डिमांड शासन को भेजी गई है। शीघ्र ही दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Lucknow

बहराइच: ट्रैक्टर ट्रॉली ने दो जवानों को रौंदा, दर्दनाक मौत, एक चीन तो दूसरा नेपाल सीमा पर था तैनात

बहराइच के थाना मोतीपुर के महादेवा के पास एक तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक ने बाइक सवार दो जवानों को रौंद दिया। हादसे में दोनों की दर्दनाक मौत हो गई।

22 जनवरी 2019

विज्ञापन

गांव में लोगों के बीच पहुंचा तेंदुआ, 8 लोगों पर किया हमला

बहराइच के बाबागंज बाजार से सटे एक गाव में उस वक्त सभी दहशत में आ गए जब उनके बीच एक तेंदुआ आ गया। तेंदुए ने एक-एक करके लोगों पर हमला करना शुरू कर दिया इतना ही नहीं वन विभाग की टीम पर भी हमला बोला। देखिए ये रिपोर्ट।

19 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree