विज्ञापन

धनतेरस पर्व पर चमका बर्तन बाजार, सराफा की भी रही खूब चकाचौंध

Lucknow Bureauलखनऊ ब्यूरो Updated Mon, 05 Nov 2018 10:17 PM IST
ख़बर सुनें
बहराइच। धनतेरस पर्व पर सोमवार को बाजार चमक उठा। बाजार में जमकर खरीदार उमड़े। लगभग पांच करोड़ रुपये से अधिक के सोने-चांदी के गहने व अन्य सामान बिक गए।
विज्ञापन
विज्ञापन
करीब आठ करोड़ रुपये के बर्तन की खरीदारी हुई। ऑफर और गिफ्ट आइटमों की बौछार होने से लोगों में खासा उत्साह दिखा।

सुबह 11 बजे से देर रात तक खरीदारी का दौर चला। धनतेरस पर लगभग 31 करोड़ रुपये से अधिक का कारोबार हुआ। धनतेरस पर्व पर सुबह से ही बाजारों में चहल-पहल शुरू हो गई। दुकानें दुल्हन की तरह सजी नजर आईं।

सुबह 11 बजे से खरीदारी का दौर शुरू हुआ, जो देर रात तक चलता रहा। शहर के स्टीलगंज तालाब, चौक बाजार, छोटी बाजार, छावनी व सराफा बाजार स्थित दुकानों पर रह-रहकर लोगों की भीड़ उमड़ती रही। तिल रखने भर की जगह नहीं थी।

कोई गणेश-लक्ष्मी के चांदी के सिक्कों की खरीदारी कर रहा था तो कोई सोने व चांदी के जेवरात और बर्तन खरीद रहा था। चांदी में नकली और असली की पहचान से बचने के लिए लोगों ने सोने के जेवरात, सिक्कों, मूर्तियों और बर्तनों की खरीदारी की। चांदी के पुराने सिक्कों की मांग अधिक रही, जिससे सराफा बाजार जमकर उछला।

सराफा व्यापार संघ के पूर्व अध्यक्ष राकेश वर्मा ने बताया कि शहर क्षेत्र में सराफा दुकानों पर लगभग साढ़े तीन करोड़ से अधिक का कारोबार हुआ है। ग्रामीण अंचलों में भी लगभग डेढ़ करोड़ से अधिक का कारोबार होने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि इस बार बीते वर्ष की अपेक्षा सोने चांदी का मूल्य कम होने से खरीदारी जमकर हुई है।

चांदी के पुराने सिक्कों की रही मांग
धनतेरस पर लोगों की पसंद बीते वर्ष सोने के हल्के जेवरात रहे। इस वर्ष लोगों ने भारी जेवरात खरीदने से परहेज नहीं किया। चांदी की असलियत को लेकर कोई दिक्कत न हो इसके लिए लोगों ने चांदी के पुरानों सिक्कों की खरीदारी में रुचि दिखायी। अंग्रेजी शासनकाल के सिक्के खूब बिके।

आठ करोड़ के बिक गए बर्तन
बर्तनों की दुकानों पर दोपहर से देर रात तक भारी भीड़ रही। सभी ने गृहस्थी के मुताबिक बर्तनों की खरीदारी की। बर्तन व्यवसायी राधेश्याम ने बताया कि थाली, लोटा, ग्लास, बाल्टी व डिनर सेट, कुकर आदि की बिक्री अधिक हुई है।

स्टील निर्मित बर्तनों की मांग ज्यादा रही। फूल, गिलट, तांबा और पीतल के बर्तन स्टील की अपेक्षा काफी कम बिके। करीब आठ करोड़ के बर्तन सोमवार को बिक गए।

स्मार्ट टीवी, वाशिंग मशीन की हुई खूब बिक्री
धनतेरस पर लोगों ने इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद भी जमकर खरीदे। स्मार्ट टीवी की खूब बिक्री हुई। फ्रिज, वाशिंग मशीन, इंडक्शन चूल्हा, ओवन खरीदने में भी लोगों ने रुचि दिखाई।

श्रीराम एजेंसी के मालिक मनीष मल्होत्रा ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद पर गिफ्ट आइटम और छूट दी गई। पवन जायसवाल ने कहा कि लोगों ने सोमवार के दिन खरीदारी के लिए पहले से ही बुकिंग करा ली थी। व्यवसायियों के मुताबिक लगभग तीन करोड़ के आसपास कारोबार हुआ।

चार करोड़ के दोपहिया वाहन बिके
धनतेरस के मौके पर दोपहिया वाहनों के शोरूम पर काफी भीड़ जुटी। बाइक एजेंसी के मालिक दीपक खन्ना ने बताया कि बीते वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष 70 फीसदी कारोबार में बढ़ोतरी रही है।

विभिन्न एजेंसियों पर ढाई सौ बाइकों की बिक्री हुई है। टीवीएस और होंडा एजेंसी पर भी बाइक बिक्री का ग्राफ इसी तरह रहा। लगभग चार करोड़ रुपये के दो पहिया वाहन बिक गए।

सड़क पर उतरी साढ़े छह करोड़ की नई कारें
धनतेरस पर करीब साढ़े छह करोड़ रुपये के चौपहिया वाहन सड़क पर उतर आए। शहर स्थित हुंडई, मारुति और टाटा की एजेंसियों पर 35 कारें बिकीं। करीब 3.16 करोड़ का कारोबार रहा।

पांच से 12 लाख रुपये के बीच की कार अधिक बिकीं। हुंडई एजेंसी के मैनेजर ने बताया कि इस बार 30 फीसदी कम बिक्री हुई है। फिर भी 10 कारें बिकीं। एक करोड़ का कारोबार हुआ।

टाटा एजेंसी के मैनेजर रमाकांत पाठक ने बताया कि सोमवार को 10 कारों की डिलीवरी दी गई। 76 लाख रुपये का कारोबार हुआ। मारुति की कारों की मांग अधिक होने से इनकी बिक्री बढ़ी।

मैनेजर असद मेंहदी ने बताया कि 30 प्रतिशत सेल बढ़ी है। धनतेरस के मौके पर 15 कारों की बिक्री हुई। कारोबार 1.40 करोड़ का रहा।

बर्तन दुकानों पर उमड़ी भीड़
बर्तन व्यवसायी टीसू सिंह ने बताया कि शहर, कस्बा व ग्रामीण अंचलों में धनतेरस पर्व पर बर्तन का कारोबार लगभग आठ करोड़ से अधिक का रहा है।

उन्होंने कहा कि कोई दुकानदार ऐसा नहीं रहा है, जिसने गिलट और फूल के 200-250 किलो से कम के बर्तन बेचे हों। सामान्य दुकान पर दो से 2.5 लाख की औसतन बिक्री का ग्राफ अब तक रहा है। ऐसे में देर रात तक बिक्री का ग्राफ और आगे पहुंच जाएगा। जिले में आठ करोड़ से अधिक के बर्तन कारोबार का अनुमान लग रहा है।

Recommended

बच्चों के विकास के लिए बेहद जरूरी है देसी घी, जानें इसके फायदे
ADVERTORIAL

बच्चों के विकास के लिए बेहद जरूरी है देसी घी, जानें इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bahraich

गांव में पहुंचा तेंदुआ, ग्रामीणों में दहशत

गांव में पहुंचा तेंदुआ, ग्रामीणों में दहशत

17 जनवरी 2019

विज्ञापन

कुंभ मेले में ऐसे जा सकते हैं श्रद्धालु, रेलवे और परिवहन निगम ने कर रखी है भरपूर व्यवस्था

कुंभ मेले में जानेवाले यात्रियों के लिए स्पेशल ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था की गई है। एक तरफ रेलवे ने इंतजामात कर रखे हैं तो दूसरी तरफ शटल बसें चलाई जा रही हैं। यहां जानिए आप कैसे उठा सकतेे हैं कुंभ जाने के लिए स्पेशल ट्रांसपोर्ट का लाभ। 

18 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree