'My Result Plus

मौसम की फसलों का होगा बीमा

Baghpat Updated Wed, 26 Dec 2012 05:30 AM IST
ख़बर सुनें
बागपत। मौसम आधारित फसल बीमा योजना में बागपत का चयन तो कर लिया गया है, लेकिन सिर्फ गेहूं, सरसों एवं लाही की फसलों का ही बीमा होगा। इस माह के अंत तक किसानों को यह बीमा कराना होगा।
कृषि विभाग की यह योजना इफ्को टोकियो जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के सहयोग से चलाई गई है। योजना के तहत ऋणी किसानों को फसलों का बीमा करना अनिवार्य किया गया है, जबकि गैर ऋणी कृषकों को स्वैच्छिक आधार पर शामिल किया जा रहा है। गैर ऋणी किसानों को राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना अथवा मौसम आधारित फसल बीमा योजना में से किसी एक योजना में शामिल होने का विकल्प लेना होगा। बागपत में इस योजना में गेहूं एवं लाही-सरसों को ही कवर किया गया है। बीमा कंपनियों द्वारा कम एवं अधिक तापमान होने अथवा बेमौसम वर्षा से फसल नष्ट होने पर किसानों को क्षतिपूर्ति की जाएगी।
कृषि उपनिदेशक धुरेंद्र कुमार ने बताया कि इस योजना में गेहूं की फसल की बीमित राशि 50 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर है, जिसमें किसानाें को 750 रुपये का प्रीमियम प्रति हेक्टेयर देना होगा। यह बीमा एक जनवरी 2013 से 30 अप्रैल 2013 तक की अवधि के लिए होगा। जबकि लाही एवं सरसों के लिए 17 हजार 500 रुपये का बीमा होगा और किसानों को प्रीमियम राशि 350 रुपये देनी होगी। यह बीमा एक जनवरी 2013 से 15 अप्रैल 2013 तक रहेगा। कम तापमान पर फसल नष्ट होने की अवधि 1 जनवरी से 15 फरवरी तक, अधिक तापमान एवं बेमौसम बारिश से फसल नष्ट होने पर एक जनवरी से गेहूं के लिए 30 अप्रैल तक तथा लाही, सरसों के लिए 15 अप्रैल तक बीमा रहेगा। इसके लिए गैर ऋणी किसानों को 31 दिसंबर तक बीमा कराना होगा।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Kanpur

अगर अाप भी आईटीआई पास हैं ताे जल्द ही बड़ी कंपनियां देंगी नौकरी का मौका

उच्च प्रशिक्षण संस्थान (एटीआई) गोविंदनगर के मॉडल कॅरियर सेंटर (एमसीसी) में 25 अप्रैल को विशाल रोजगार मेला लगेगा। इसमें देश की तीन बड़ी कंपनियां आईटीआई पास छात्रों को अच्छे पैकेज पर नौकरी देंगी।

22 अप्रैल 2018

Related Videos

उपवास पर बैठे सांसद सत्यपाल सिंह, कांग्रेस पर साधा निशाना

गुरुवार को देशभर में भी बीजेपी सांसदों और विधायकों ने एक दिवसीय उपवास के जरिए बजट सत्र न चलने देने के लिए कांग्रेस का विरोध किया। यूपी वेस्ट के  बागपत में स्थानीय सांसद और केंद्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री डॉ सत्यपाल सिंह ने कलेक्ट्रेट पर उपवास रखा।

12 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen