कहीं खंडहर न बन जाए विकास भवन

Baghpat Updated Sat, 06 Oct 2012 12:00 PM IST
बागपत। वट वृक्ष की लंबी जटाओं की तरह फैले हुए बिजली के तार.... दीवारों के बीच में लगातार चौड़ी होती जा रहीं दरारें.... ऊबड़ खाबड़ फर्श पर टूटता सीमेंट... और कबाड़ बनकर एक कोने में पड़ा फर्नीचर। जी हां कुछ ऐसी स्थिति में पहुंच चुका है विकास भवन। बावजूद इसके बिल्डिंग की अनदेखी की जा रही है। हालात यही रहे तो जल्द ही उक्त भवन खंडहर में तब्दील हो जाएगा। हालत सुधारने को अफसरों के पास प्रस्ताव तो हैं, लेकिन बजट के नाम पर फूटी कौड़ी तक नहीं।
भला वो जनपद कैसे तरक्की की चाल चल सकता है, जिसका विकास भवन ही उजड़ा मजार नजर आता हो। आलम यह है कि इसकी बिल्डिंग पर आज तक प्लास्तर नहीं हुआ। पहली मंजिल जैसे-तैसे पूरी बनी, लेकिन दूसरी पर दफ्तर अधूरे पड़े हैं। शौचालय में कूड़ा-करकट भरा पड़ा है।
कहीं फर्नीचर टूटा है तो कहीं कबाड़ा बन चुके कूलर खड़े हैं। हर तरफ बिजली के वायर बाहर निकले हुए हैं। सीढ़ियों के पास तो दीवार में दरार भी साफ नजर आती है। अगर एक बार कोई उधर चला जाए तो वहां की हालत देख दोबारा न जाने की कसम खा ले। अफसर भी यहां बैठना कम ही पसंद करते हैं।
कमाल की बात तो यह है कि बिल्डिंग की जर्जरता से तमाम अफसर वाकिफ हैं, लेकिन न जाने क्यों वह कुछ नहीं करते। हालांकि इसे ठीक कराने को हर साल शासन को प्रस्ताव जाता है। तीन साल पहले 1.5 करोड़ का प्रस्ताव गया, लेकिन मिला कुछ नहीं। इसके बाद भी लगभग दो करोड़ का प्रस्ताव गया, लेकिन मिला कुछ नहीं। इस बार भी 2.5 करोड़ का प्रस्ताव भेजा गया है।
सीडीओ प्रमोद कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि बजट न मिलने के कारण बिल्डिंग की यह स्थिति बनी हुई है। जैसे ही पैसा आएगा, विकास भवन की हालत ठीक करा दी जाएगी।
यहां अंधेरा ही अंधेरा है
बागपत। विकास भवन में जेनरेटर का इंतजाम नहीं है। आधा से ज्यादा महकमों के दफ्तरों में इनवर्टर भी नहीं। नतीजा यह है कि बिजली जाते ही पंखे, ट्यूबलाइट बंद हो जाते हैं। अगर आसमान में बादल छाए हो तो इन दफ्तरों में अंधेरा ही अंधेरा छा जाता है।

Spotlight

Most Read

Shimla

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

वन भूमि से 416 पेड़ काटने के मामले में आरोपी गिरफ्तार

20 जनवरी 2018

Related Videos

ईंठ भट्ठे की दीवार की लिपाई के दौरान दो लड़कियों के साथ हुआ भयानक हादसा

बागपत में ईंट भट्ठे की दीवार गिरने से दो लड़कियों की मौत हो गई। मरनेवाली दो लड़कियों में से एक की उम्र 15 साल थी। हादसे के बाद पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper