भवन स्वामी जमा नहीं कर रहे हाउस टैक्स

Azamgarh Updated Thu, 04 Oct 2012 12:00 PM IST
आजमगढ़। वर्षों से नगर पालिका का कर जमा न करने वालों की अब खैर नहीं है। इस दिशा में नगर पालिका प्रशासन ने कड़ा कदम उठाया है। अब जितने भी घरों के नगरपालिका के टैक्स बकाया हैं, उनके परिवार का निवास प्रमाण पत्र, डिमांड पंजिका, जन्म, मृत्यु प्रमाण पत्र अग्रसारित नहीं किए जाएंगे। इसके अलावा इनके आवासीय मकान की नकल भी अग्रसारित नहीं की जाएगी।
नगर पालिका के कर निर्धारण अधिकारी आरके वर्मा के अनुसार पूरे नगर पालिका क्षेत्र की जनसंख्या एक लाख 10 हजार के करीब है। वर्ष 1991 से यहां हाउस टैक्स की प्रक्रिया शुरू हुई थी। लेकिन यहां के करीब एक हजार भवन स्वामी कर अदा नहीं करते हैं। इसे गंभीरता से लेते हुए सार्थक कदम उठाया गया है। इसका असर भी दिखने लगा है। वर्तमान समय में बेरोजगारी भत्ता, कन्या विद्याधन आदि लेने के लिए प्रमाण पत्र बनवाने की मारामारी मची हुई है। ऐसे में नगर पालिका ने भी मौके को हाथ से जाने नहीं देना चाहता। जिन लोेगों के हाउस टैक्स बकाया हैं, उनसे पहले हाउस टैक्स जमा करवाया जा रहा है। इसके बाद ही उनके प्रमाण पत्र को अग्रसारित किया जा रहा है। इसी प्रकार डिमांड पंजिका, नजरी नक्शा, जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, घर की नकल व आबादी की जमीन की नकल के लिए जो भी आवेदन कर रहा है, उसका एक हजार बकाएदारों के रजिस्टर से मिलान की जा रही है। ऐसे में बकाएदार रहने पर मौके पर ही हाउस टैक्स जमा कराया जा रहा है। यह बाध्यता नहीं दी गयी है कि पूरा टैक्स जमा करना है, लेकिन इतना तो है कि कर की कुछ धनराशि आप को जमा करनी पड़ेगी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बिजली कनेक्शन काटने पर SDO की हुई पिटाई

आजमगढ़ में बिजली बिल वसूल करने गए बिजली विभाग के SDO की जमकर पिटाई हो गई।

23 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls