विस्फोट की धमकी से सरायमीर में हड़कंप

Azamgarh Updated Mon, 06 Aug 2012 12:00 PM IST
आजमगढ़। ई-मेल के जरिऐ भले ही सरायमीर को विस्फोट से दहलाने की धमकी दी जा रही है। लेकिन लेकिन प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं। जबकि खबर से सरायमीर कस्बे में हड़कंप मचा है। लोग सहमे हुए हैं। रविवार को सुबह से ही पूरे दिन बम विस्फोट की खबरों को लेकर कस्बे में चर्चाएं होती रहीं।
बता दें कि दिल्ली में हुए बटला कांड के बाद से आजमगढ़ खास कर सरायमीर, संजरपुर क्षेत्र देश में सुर्खियों पर है। बटलाकांड के दौरान ताबड़-तोड़ युवाओं की गिरफ्तारी से पूरा जिला उबल पड़ा था। इसके बाद से देश में जब-जब बम विस्फोट की घटनाओं हुईं, आजमगढ़ जिले के युवा एटीएस, एसटीफ, खुफिया विभाग के निशाने पर होते हैं। बाटलाकांड के बाद किसी अराजकतत्व ने सरायमीर स्थित रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी दी थी, लेकिन प्रशासन की सतर्कता के चलते धमकी दबी की दबी रह गई। शनिवार को पुन: ई-मेल के जरिए दिल्ली के एक पत्रकार को भेजे गए मैसेज के बाद दिल्ली पुलिस सक्रिय हो गई है। उसने यूपी पुलिस को भी सतर्क कर दिया है। सूचना के बाद सरायमीर कस्बे के लोग जहां सहमे हुए हैं। जबकि ई-मेल की मानें तो हाल ही में पुणे में हुए सीरियल बम ब्लास्ट जैसी घटना की पुनरावृत्ति 15 अगस्त तक सरायमीर क्षेत्र में किए जाने की योजना है। रविवार को सुबह से ही कस्बे में धमकी भरा ई-मेल चर्चा का विषय बना रहा। जबकि स्थानीय प्रशासन के अलावा महकमे के उच्चाधिकारी तक ने ऐसी किसी भी ई मेल को मानने को तैयार नहीं है। न ही स्थानीय स्तर पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था का ही प्रबंध किया गया है। एसपी आकाश कुलहरी ने कहा कि ऐसी किसी भी प्रकार की कोई सूचना हमें नहीं मिली है और न ही कोई जानकारी ही है। आईजी जोन वाराणसी ब्रजभूषण शर्मा ने भी इस मामले से अनभिज्ञता जताई।

चौकस सुरक्षा व्यवस्था के लिए सौंपा ज्ञापन
सरायमीर। हाल ही में हुए पुणे बम धमाका जैसी घटना की पुनरावृत्ति सरायमीर क्षेत्र में होने की खबर से कस्बे के लोग भयभीत हैं। कस्बे में सुरक्षा व्यवस्था चौकस करने की मांग करते हुए रविवार को राष्ट्रीय उलेमा काउंसिल के कार्यकर्ताओं ने सरायमीर थानाध्यक्ष को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर कलीम जामिई, मास्टर तारिक, मुशीर शेरवानी, परवेज, मुमताज आदि उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बिजली कनेक्शन काटने पर SDO की हुई पिटाई

आजमगढ़ में बिजली बिल वसूल करने गए बिजली विभाग के SDO की जमकर पिटाई हो गई।

23 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls