सीएम आवास पर भूख हड़ताल की चेतावनी से हड़कंप

Azamgarh Updated Wed, 04 Jul 2012 12:00 PM IST
आजमगढ़। पट्टीदारों के कब्जे से पैतृक संपत्ति को मुक्त कराने के लिए 13 साल से रामलाल कोर्ट-कचहरी, अधिकारियों का चक्कर काट थक जाने पर बुधवार से मुख्यमंत्री आवास पर भूख हड़ताल शुरू करने वाला था। इसकी भनक लगते ही अधिकारियों में हड़कंप मच गया। मंगलवार की देर शाम को चकबंदी अधिकारियों ने रामलाल को बुला कर उसके मुकदमों का निस्तारण का आश्वासन दिया। इस पर रामलाल ने सीएम आवास पर भूखहड़ताल का कार्यक्रम स्थगित किया है।
रामलाल यादव जहानागंज थाने के बबूरा व्यवहारडीह गांव निवासी है। उसने 29 मई 2012 को चकबंदी आयुक्त लखनऊ को प्रार्थना पत्र भेज कर पैतृक संपत्ति पाने के लिए गुहार लगाते हुए चार जुलाई कोे सीएम आवास के समक्ष परिवार सहित भूख हड़ताल की चेतावनी दी। चकबंदी आयुक्त को दिए गए प्रार्थना पत्र के अनुसार पिता की मृत्यु के बाद 19 दिसंबर1999 को ग्राम मसीवीर मउआ खाता संख्या 365, ग्राम बबुरा व्यवहराडीह खाता संख्या 626, 634, ग्राम शमसुद्दीनपुर खाता संख्या 32 आदि नंबर में रामलाल यादव के नाम से वरासत दर्ज हुई। इस पर उसके पट्टीदारों ने अपर तहसीलदार सदर न्यायालय और चकबंदी न्यायालय में मुकदमा दायर कर दिया। आरोप है कि धोखे से रामलाल का नाम निरस्त करा कर उसके पिता का नाम पुन: अभिलेख में दर्ज करा दिया गया। इसके बाद यह मामला चकबंदी न्यायालय में चला गया। तब से रामलाल के पट्टीदार आज तक उसकी जमीन पर कब्जा किए हुए हैं। इसे लेकर रामलाल जहानागंज थाने से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों तक गुहार लगाता रहा, लेकिन उसकोआज तक अपनी पैतृक संपत्ति पर कब्जा नहीं मिला।
रामलाल ने बताया कि वह पिछले 13 साल से जिले के अधिकारियों के यहां फरियाद लगा रहा है। एएसओसी आलोक कुमार ने बताया कि पीडि़त रामलाल का मामला जहानागंज चकबंदी न्यायालय में लंबित है। प्रतिवादी पक्ष का साक्ष्य पूरा हो गया है। रामलाल का साक्ष्य अभी प्रस्तुत होना है। इस पर रामलाल और जहानागंज चकबंदी अधिकारी और दोनों पक्षों के वकील को बुलाकर फाइल का अवलोकन किया गया। शीघ्र ही मामले का निस्तारण कर दिया जाएगा।

Spotlight

Related Videos

बिजली कनेक्शन काटने पर SDO की हुई पिटाई

आजमगढ़ में बिजली बिल वसूल करने गए बिजली विभाग के SDO की जमकर पिटाई हो गई।

23 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper