'My Result Plus

आग में पटेल का पुरवा राख

Azamgarh Updated Sat, 16 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
लाटघाट। रौनापार थाना क्षेत्र के हाजीपुर गांव में स्थित पटेल का पुरवे में शुक्रवार की शाम लगभग साढ़े तीन बजे अज्ञात कारणों से लगी आग ने 52 मड़इयों को देखते ही देखते खाक कर दिया। आग में पीडि़त परिवारों का 77000 हजार रुपए नगदी समेत 11 लाख रुपये के कीमती सामान जलकर नष्ट हो गया। ग्रामीणों के प्रयास से जब आग पर काबू पा लिया गया तो मौके पर अगिभनशमन दल का वाहन और कर्मचारी पहुंचे।
शुक्रवार की शाम साढ़े तीन बजे का वक्त पटेल पुरवे के लिए में अचानक आग धधक उठी। पीडि़तों को इस बात की जानकारी नहीं हो सकी की आखिर आग कैसे लगी। इस अगिभनकांड में वंशीलाल पुत्र धनई की सात मड़इयां जलीं, रखे 30 हजार नगद समेत डेढ़ लाख के सामान, श्यामजीत के छह मड़इयों में 10 हजार नगद समेत एक लाख के सामान, रामजीत के पांच मड़इयों में 50 हजार के सामान, हरीराम के तीन मड़इयों में रखे एक लाख के सामान, शिवमंगल के चार मड़इयों में रखे पांच हजार नगद समेत दो लाख के सामान, हरेंद्र के चार मड़इयों में रखे पांच हजार नगदी समेत 50 हजार के सामान, अभिमन्यू के तीन मड़इयों में छह हजार नगदी समेत 50 हजार के सामान, कौलेश्वर के पांच मड़इयां में रखे 11 हजार नगदी समेत 50 हजार के सामान, हिसाबी के तीन मड़इयों में रखे 50 हजार के सामान, संपत के तीन मड़इयों में रखे 10 हजार नगदी समेत 80 हजार के सामान, मकरध्वज के चार मड़इयों में रखे दो लाख के सामान, झिनकुन के चार मड़इयों में रखे 50 हजार के सामान जलकर राख हो गए। पीडि़तों के मुताबिक अज्ञात कारणों से कौलेश्वर पुत्र लुरखुर के मंड़ई में आग पकड़ी। इसी बीच तेज हवा के चलते आग पूरे पूरवे में फैल गई। घटना के संबंध में अग्निशमन विभाग को सूचना दी गई। लेकिन वह आग बुझने के बाद मौके पर पहुंचा। ग्रामीणों के अथक प्रयास केबाद आग पर काबू पाया गया। आगलगी की इस घटना के बाद परिजनों के समक्ष पेट की आग के अलावा रहने की समस्या उत्पन्न हो गई है।

इनसेट
घटना के बाद भी मौके पर नहीं पहुंचा प्रशासन
संवाददाता
लाटघाट। प्रत्येक छोटी-बड़ी घटनाओं पर सतर्क रहने का दावा करने वाला प्रशासन शुक्रवार की देर शाम तक रौनापार थाना क्षेत्र के हाजीपुर गांव के पटेल पुरवे में नहीं पहुंचा। तहसील प्रशासन के अधिकारियों पर कोई इस घटना से कोई फर्क ही नहीं पड़ा। इस बाबत संपर्क करने पर एसडीएम सगड़ी रामनरेश पाठक ने कहाकि अभी वह बाहर हैं। कल घटना स्थल का मुआयना करने के बाद पीडि़तों को राहत सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी।

इनसेट
लाचार नजर आया अग्निशमन दल विभाग
संवाददाता
लाटघाट। आग की सूचना के करीब दो घंटे बाद मौके पर अग्निशमन दल विभाग की बड़ी और छोटी दो गाडि़यां पहुंची। लेकिन न जाने क्या हुआ कि बड़ी गाड़ी बगैर कुछ किए ही बैरंग वापस लौट गई। इस बात को लेकर विभाग के प्रति क्षेत्रीय लोगों में आक्रोश नजर आया।
इनसेट
बिजली ने दिया पीडि़तों का साथ
लाटघाट। रौनापार थाना क्षेत्र के हाजीपुर गांव के पटेल के पुरवे में शुक्रवार की शाम लगभग साढ़े तीन बजे आग लगने के बाद उस पर काबू पाने के लिए ग्रामीणों को कुछ उपाय नहीं सूझ रहा था। क्योंकि पूरवे के ज्यादातर हैंडपंप पानी छोड़ दिए हैं। इसी बीच अचानक बिजली के आ जाने से ग्रामीणों ने मकरध्वज का ट्यूबेल चलाकर किसी तरह आग पर काबू पाया। ग्रामीणों के मुताबिक दिन में प्राय: गुल रहने वाली बिजली शुक्रवार को अचानक ही आकर सभी के लिए सहायक रही।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

NH 24 पर बड़ा हादसा, कार में बैठे बच्चे की एक छोटी सी गलती ने सेकेंडों में ले ली 7 लोगों की जान

इस हादसे में तीन मासूम व दूल्हे के पिता समेत सात लोगों की मौत हो गई।

21 अप्रैल 2018

Related Videos

आजमगढ़ विकास भवन के बाहर प्रदर्शन, ‘लाश’ बन लेटे लोग

यूपी के आजमगढ़ में शनिवार को अलग ही नजारा दिखने को मिला। यहां मेंहनगर विकास खंड में जन कल्याण विकलांग सेवा समिति, भिखईपुर, के दिव्यांग एडीएम प्रशासन लवकुश त्रिपाठी के समर्थन में उतर गए।

8 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen