विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी से ग्राउंड रिपोर्ट : क्वारंटीन सेंटर्स से भागने वाले सबसे पहले अपनों के लिए बनेंगे कोरोना बम

घर के नजदीक पहुंचकर आश्रयस्थलों पर रोके गए प्रवासी गुपचुप या तो केंद्रों से खिसक रहे हैं या फिर घर से आना जाना बना हुआ है।

4 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

औरैया

शनिवार, 4 अप्रैल 2020

नवरात्र के अंतिम दिन देवी मंदिरों में उमड़ी भीड़, घरों में जाकर किया कन्या पूजन

औरैया। कॉलडाउन के चलते मंदिरों के बंद होने के बाद भी नवरात्र के अंतिम दिन गुरुवार को बड़ी संख्या में श्रद्धालु देवी मंदिरों पर पहुंचे। मंदिर के कपाट बंद होने से बाहर से ही हाथ जोड़कर मनोकामना पूरी करने की प्रार्थना कर लौट गए। महिलाएं भी बाहर से ही पूजन कर और जवारे चढ़ाकर घर लौटीं। इसके बाद घर जाकर कन्या का पूजन कर व्रत तोड़ा। देवी मंदिरों पर तड़के से दोपहर तक लोग पहुंचते रहे। वहीं, एसपी के निर्देश पर सभी थाना क्षेत्रों में कन्या भोज एकत्रित करने के लिए मोबाइल वैन भी चलाई गई।
कोरोना संक्रमण से बचाव और लॉकडाउन के चलते शासन के आदेश पर सभी मंदिरों के मुख्य द्वार इन दिनों बंद हैं। नवरात्र में श्रद्धालुओं ने घर पर ही देवी मां की आराधना की। गुरुवार को नवरात्र की नवमी पर सुबह से मंदिरों के बाहर श्रद्धालु जुटने लगे।
शहर के आवास विकास स्थित काली देवी मंदिर, जेसीस चौराहा के काली देवी मंदिर, नारायनपुर के गमादेवी मंदिर, मोहल्ला बनारसीदास के शीतला माता मंदिर और बड़ी माता मंदिर पर सुबह छह से दस बजे महिलाओं की खासी भीड़ रही। मंदिर के मुख्य द्वार पर ताला बंद होने से महिलाओं ने बाहर से ही पूजन किया और जवारे चढ़ाकर लौट गईं। घर जाकर कन्या पूजन कर व्रत तोड़ा।
महिलाओं ने घरों में देवी मां का संकल्प लेकर कन्याओं को भोजन कराने के उद्देश्य से पूजन कर उनके लिए पैकेट बनाकर कन्याओं के घरों में भेजा। इसके साथ ही एसपी सुनीति के निर्देश पर सभी थाना क्षेत्रों में सुबह 9 बजे से 11 बजे तक मोबाइल वैन भी घूमी और घरों से कन्याओं के लिए प्रसाद एकत्र किया गया।
... और पढ़ें

मालगाड़ी के वैगन में छिपकर जा रहे 62 मजदूरों को फफूंद में उतारा

दिबियापुर (औरैया)। कानपुर की ओर जा रही एक मालगाड़ी के वैगन में छिपकर जा रहे 62 मजदूरों को रेल प्रशासन ने फफूंद में उतार लिया। जांच के बाद सभी मजदूरों को औरैया में क्वारंटीन किया गया है।
स्टेशन अधीक्षक फफूंद अर्जुन सिंह ने बताया कि गुरुवार को सुबह कानपुर की ओर जा रही एक मालगाड़ी पाता रेलवे स्टेशन पर रुकी। यहां पर रेलकर्मियों ने देखा कि एक वैगन के अंदर से आवाजें आ रहीं हैं। इस पर कर्मियों ने मामले की सूचना रेल उच्चाधिकारियों को दी।
मालगाड़ी को फफूंद रेलवे स्टेशन पर रोककर सभी 62 मजदूरों को फफूंद रेलवे स्टेशन पर उतार लिया गया। सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। मजदूरों ने बताया कि वह लोग अलीगढ़ के पास से मालगाड़ी में चढ़ गए थे और अंदर से वैगन बंद कर लिया था। वह लोग झारखंड के रहने वाले हैं। यहां पर दिबियापुर पुलिस, आरपीएफ ने सभी मजदूरों को खाना खिलाया।
... और पढ़ें

शराब गोदाम में चोरी करने वाले तीन चोर दबोचे

दिबियापुर (औरैया)। देसी शराब ठेके के गोदाम में 40 पेटी शराब चोरी के मामले में पुलिस ने तीन चोरों को गिरफ्तार किया। उनके पास से नौ पेटी शराब बरामद किया गया है। साथ ही बीते दिनों बैंक मैनेजर के घर से चोरी गया टीवी भी बरामद हुआ है।
दिबियापुर थाने के निरीक्षक विनोद कुमार शुक्ला ने बताया कि 27 मार्च को औरैया रोड स्थित देसी शराब के ठेके से 40 पेटी देसी शराब चोरी हो गई थी। इस मामले में बुधवार की रात रिंकू पुत्र वीरेंद्र, छोटू पुत्र कल्लू व बादल पुत्र पप्पू निवासी नेहरू नगर दिबियापुर को गिरफ्तार किया गया।
उनकी निशानदेही पर चोरी गई शराब की पेटियों में से लगभग 10 पेटी शराब बरामद कर ली गई है। चोरों के पास से पिछले दिनों संजय नगर में रहने वाले स्टेट बैंक के बैंक मैनेजर विभव कुमार के घर से चोरी गया टीवी भी बरामद हुआ है। इसके साथ ही दरवाजे, खिड़कियां काटने वाला कटर भी मिला है। इंस्पेक्टर विनोद कुमार शुक्ला के अनुसार आरोपियों ने कई अन्य चोरियों में भी शामिल होना स्वीकार किया है।
... और पढ़ें

सोशल डिस्टेंस का पालन न होने एवं अनियमितता की शिकायत पर पहुंची पुलिस

दिबियापुर (औरैया)। हरचंदपुर गांव में शुक्रवार को कोटेदार की दुकान पर भीड़ जुटने से सोशल डिस्टेंस का पालन न होने और राशन बांटे जाने में अनियमितता की शिकायत मिलने पर पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा। मौके पर पहुंची पुलिस कोटेदार के पिता को अपने साथ ले गई। बाद में लेखपाल व प्रधान के पति ने राशन वितरण कराया।
हरचंदपुर गांव में शुक्रवार को कोटेदार की दुकान पर राशन लेने के लिए काफी भीड़ एकत्र हो गई। इससे सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ गईं। यही नहीं राशन वितरण में भी अनियमितता बरती गई। इस पर कुछ लोगों ने इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से की। इसके बाद हरचंदपुर चौकी इंचार्ज रामखिलाड़ी यादव फोर्स से साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस कोटेदार के पिता को उठाकर थाने ले गई। चौकी इंचार्ज रामखिलाड़ी यादव के अनुसार मौके पर भीड़ ज्यादा थी। इसलिए समझा दिया गया है, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके।
मौके पर लेखपाल अवनींद्र यादव, सुरेंद्र कुमार प्रजापति एवं ग्राम प्रधान पति राजू दुबे ने राशन वितरण कराया। यहां पर मनरेगा कार्ड धारकों को राशन मिलने में आ रहीं समस्याओं का समाधान किया। उधर, घटतौली एवं अनियमितताओं की शिकायत पर एसडीएम बिधूना राशिद अली व सीओ बिधूना मुकेश ने मौके पर पहुंचकर जांच की। साथ ही कोटा डीलर को हिदायत भी दी। एसडीएम बिधूना राशिद अली ने बताया कि कोटा से सामान लेकर जा रहे लोगों के सामान को वापस लाकर तुलवाया गया। नापतौल ठीक मिली।
... और पढ़ें

मधवापुर में दिल्ली से आए रिश्तेदार तो मचा हड़कंप

कंचौसी (औरैया)। दिल्ली से संदलपुर कानपुर देहात होते हुए अपने मामा के घर आए कार सवार छह लोगों के परिवार को मधवापुर गांव के लोगों ने दिल्ली का नाम सुनते ही पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को फोन कर सूचना दे दी। जिस पर दिबियापुर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों ने मौके पर पहुंचकर सभी के नाम रजिस्टर में दर्ज कर उन्हें वापस संदलपुर (कानपुर देहात) भेज दिया।
सहार ब्लॉक के ग्राम पंचायत मधवापुर में गुरुवार की रात एक कार सवार छह लोगों का परिवार मधवापुर गांव के अशफाक के घर में पहुंचा। इसकी भनक गांव वालों को लगते ही उन्होंने ग्राम प्रधान चंपा देवी को सूचना दी। जिस पर प्रधान प्रतिनिधि अरुण सिंह मुन्ना ने बाहर से आए हुए व्यक्तियों की सूचना कंट्रोल रूम औरैया में दी। सूचना पर पहुंचे दिबियापुर एसओ विनोद शुक्ला व चौकी इंचार्ज कंचौसी ने रामप्रकाश ने जांच पड़ताल की। जिस पर अशफाक ने बताया कि उनका भांजा अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहता है, वह अपने परिवार के साथ उनसे मिलने कार से संदलपुर (कानपुर देहात) से आया हुआ है। इस पर दिबियापुर एसओ ने स्वास्थ्य विभाग सीएचसी सहार के डॉ. संजय बाजपेयी को जानकारी दी। मौके पर पहुंचे डॉ. संजय बाजपेयी की टीम ने सभी लोगों से सहार सीएचसी में जांच कराने के लिए कहा। जिस पर उन्होंने बताया कि उनकी जांच हो चुकी है। वह सिर्फ अपने मामू से मिलने आए थे।
दिबियापुर एसओ विनोद शुक्ला ने बताया कि अशफाक के सभी रिश्तेदारों को संदलपुर वापस भेजा गया है। ग्रामप्रधान प्रतिनिधि अरुण सिंह मुन्ना ने बताया कि बाहर से आए व्यक्तियों को गांव में नहीं ठहरने दिया जाएगा। इस संबध में डॉ. संजय बाजपेयी ने बताया कि आए हुए व्यक्तियों की पहले ही जांच हो चुकी है। इसलिए जांच की कोई आवश्यकता नहीं है।
... और पढ़ें

गोहना में दो जगह अग्निकांड, साढ़े पांच लाख की संपत्ति राख

औरैया। सदर ब्लॉक क्षेत्र के गोहना गांव में शुक्रवार को दोपहर अज्ञात कारणों से लगी आग से मुर्गी फार्म समेत एक घर की नगदी समेत गृहस्थी लाखों रुपये का सामान जलकर खाक हो गया। ग्रामीणों की सूचना पर फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। इस दौरान छह माह की बच्ची झुलस गई। जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
शुक्रवार को गोहना गांव में करीब 12:40 बजे अजय कुमार पुत्र स्व. गंगादीन के मकान में अज्ञात कारणों से आग लग गई। देखते ही देखते मकान में रखे 25 हजार रुपये नगद, अनाज, कपड़े, गहने समेत लगभग साढ़े तीन लाख रुपये की गृहस्थी जलकर खाक हो गई। इस दौरान छह माह की बच्ची छुटकी आग की चपेट में आकर झुलस गई। इसी गांव में पड़ोस में स्थित पंकज कुमार पुत्र अमर सिंह के मुर्गी फार्म को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया। जिसमें करीब 100 मुर्गी व 150 चूजे जलकर राख हो गए। पीड़ित पंकज ने करीब दो लाख रुपये के नुकसान की संभावना व्यक्त की। ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया। ग्रामीणों की सूचना पर राजस्व विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर क्षति आंकलन का जायजा लिया।
अछल्दा ब्लॉक के ग्राम भीखेपुर में दोपहर को एक बजे करीब राकेश बाबू पुत्र नत्थू सिंह के खेत में अचानक ही आग लग गई। खेत के आसपास कुछ लोग मौजूद थे। जब उन्होंने खेत में लगी आग को देखा तो गांव के लोगों व राकेश को आग लगने की जानकारी दी। जिसके बाद गांव के लोग आग बुझाने के लिए खेत में पहुंच गए और पानी भरकर आग को बुझाया। आग पर काबू पाते-पाते राकेश के खेत में खड़ी लगभग दो बीघा फसल जलकर राख हो गई फसल के राख होने से किसान को काफी नुकसान हुआ है। गांव के लोगों ने पीड़ित किसान को आर्थिक मुआवजा दिलाने की मांग की है।
... और पढ़ें

निर्धारित मात्रा में खाद्यान्न न देने पर राशन की दो दुकानें निलंबित

औरैया। लॉक डाउन के चलते अंत्योदय कार्डधारक तथा पंजीकृत श्रमिक व मनरेगा कार्ड धारक (जिनके पास राशन कार्ड है) उन्हे निशुल्क राशन दिया जा रहा है। सदर ब्लॉक क्षेत्र की ग्राम पंचायत खरका व ब्लॉक भाग्यनगर की ग्राम पंचायत भटपुरा की डीलर द्वारा निर्धारित मात्रा में खाद्यान्न न देने का मामला संज्ञान में आया। डीएसओ द्वारा कराई गई स्थलीय निरीक्षण में शिकायत मिलने पर दोनों दुकाने निलंबित कर आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत डीलरों के खिलाफ अभियोग संबंधित थानों में पंजीकृत कराया गया है।
लॉकडाउन के चलते गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले अंत्योदय कार्डधारकों और ऐसे राशन कार्डधारक जिनके पास श्रम विभाग में पंजीकृत हैं। मनरेगा के कार्डधारक हैं, उन्हें शासन ने प्रति यूनिट तीन किलो गेहूं तथा दो किलोग्राम चावल निशुल्क दिए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की है। एक अप्रैल से शुरू हुई राशन वितरण में ग्राम खरका व भटपुरा के राशनकार्ड धारकों ने उचित मात्रा में खाद्य सामग्री न दिए जाने की शिकायत की थी।
डीएसओ अशोक कुमार द्वारा विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों को भेजकर मामले की जांच कराई गई। शिकायत सही मिलने पर खरका के राशन डीलर मान सिंह व भटपुरा की राशन डीलर आकून बेगम की दुकान का अनुबंध निलंबित कर उचित दर विक्रेताओं के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत कराया गया है। डीएम अभिषेक सिंह ने कहा कि राशन वितरण में अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। शिकायत मिलने पर संबंधित डीलर की जांच कराई जाएगी। शिकायत सही मिलने पर संबंधित के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

लाकडाउन : मस्जिदों में पड़े ताले, घरों में की इबादत

औरैया। लॉकडाउन के चलते शुक्रवार को जुमे की नमाज लोगों ने घरों में अदा की। मस्जिदों में ताला लगा रहा। आसपास पुलिस का कड़ा पहरा रहा। लोगों ने घरों में जोहर की नमाज अदा की। जुमे की विशेष नमाज नहीं हो सकी। नमाज अदा कर नमाजियों ने कोरोना के खात्मे की दुआ मांगी।
कोरोना वायरस फैलने के खतरे को लेकर प्रशासन किसी एक स्थान पर लोगों के एकत्रित न होने के निर्देश दिए है। मंदिरों और मस्जिदों पर भीड़ न जुटने के निर्देश है। इसके चलते शुक्रवार को मस्जिदों में जुमे की विशेष नमाज अदा नहीं की गई। लोगों ने अपने-अपने घरों में ही जोहर की नमाज अदा की।
शुक्रवार को शहर की सभी मस्जिदों को पुलिस ने नमाज से पहले निगरानी में ले लिया था। मस्जिदों पर ताले लटके रहे। कुछ मस्जिदों के गेट पर लिख दिया गया कि वहां जुमे की नमाज अदा नहीं होगी। घर पर ही नमाज अदा करें। लोगों ने घरों पर नमाज अदा कर देश को कोरोना से मुुक्ति दिलाने के लिए दुआएं मांगी। शहर ही नहीं कस्बों में भी मस्जिदों के आसपास सुरक्षाकर्मी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

लॉकडाउन का पालन करने को कहा तो पुलिस पर हमला कर दिया

फफूंद (औरैया)। फफूंद कस्बे में कोरोना वायरस को लेकर चल रहे लॉकडाउन का पालन कराने के लिए गश्त कर रही पुलिस को सड़क पर बाइक से घूम रहे कुछ लोगों को घरों में रहने के लिए कहने पर आरोपी भड़क उठे और पुलिस से बहस करने लगे। इसी दौरान पास मौजूद उनके घर से महिलाओं ने पथराव भी कर दिया। पुलिस फोर्स पहुंचा तो आरोपी भाग निकले। पुलिस ने मौके से मां-बेटी को पकड़ लिया और उन्हें थाने ले गई।
शुक्रवार की शाम साढ़े सात बजे पुलिस टीम ने कस्बे में पैदल गश्त कर लोगों को घर के अंदर रहने के लिए जागरूक कर रही थी। नगर के चमनगंज तिराहे पर स्थित पूर्व सरकारी अस्पताल के पास भीड़ इकट्ठा देख पुलिस टीम उनको भगाने लगी। पुलिस के मुताबिक इस दौरान वहीं रहने वाले हसीन पुत्र राजू व राजू पुत्र रामसेवक को बाइक पर देखा तो पुलिस ने उन्हें बाइक पर एक सवारी होने के कानून का पालन करने को कहा।
इसके बाद आरोपियों ने उत्तेजित होकर पुलिस से हाथापाई शुरू कर दी। आरोपियों के साथ घर से भी किसी महिला ने पत्थर फेंका। जिस पर थाने से महिला फोर्स बुलाकर पुलिस ने मोर्चा संभाला तो आरोपी भाग निकले और घर से भाग रही मां-बेटी को पुलिस टीम थाने ले आई। प्रभारी निरीक्षक संजीव राठौर ने बताया कि पुलिस गश्त के दौरान एक घर से ईंट-पत्थर पुलिस टीम पर फेंके गए। किसी को चोट नहीं आई है। रिपोर्ट दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें

पानी भरे ड्रम में डूबने से मासूम की मौत

रुरुगंज (औरैया)। पुलिस चौकी क्षेत्र के ग्राम पंचायत मके पुरवा के मजरा शाहपुर में शुक्रवार को दोपहर घर के आंगन में रखे पानी भरे ड्रम में खेल के दौरान गिर जाने से एक मासूम की मौत हो गई। मासूम की मौत से उसके घर में कोहराम मच गया। लेखपाल ने मौके पर पहुंचकर घटना की जांच की है।
मजरा शाहपुर में शुक्रवार को दोपहर अमित कुमार का तीन वर्षीय पुत्र सक्षम उर्फ टिल्लू अपने घर के बाहर खेल रहा था। खेल-खेल में वह पानी के भरे ड्रमों के पास पहुंच गया और कुर्सी पर चढ़कर पानी से खेलने लगा। अचानक वह कुर्सी से फिसलकर ड्रम में गिर गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। कुछ देर बाद टिल्लू को आंगन में न पाकर उसकी मां अंगूरी देवी ने उसे तलाश करना शुरू किया तो वह ड्रम के अंदर मृत पड़ा पाया गया। बेटे की मौत पर मां बेहोश होकर गिर पड़ी।
घटना की जानकारी पर मौके पर पहुंचे गुड्डू जादौन ने पहुंचकर पीड़ित परिवार को सांत्वना दी। जानकारी पर पहुंचे लेखपाल कृष्ण स्वरूप ने घटनास्थल पहुंचकर जांच की। मृतक सक्षम के एक छोटी बहन प्रियंका एक वर्ष की है। सक्षम के पिता अमित बाहर प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं, लॉकडाउन के चलते वह अंतिम संस्कार में नहीं आ सके।
... और पढ़ें

छूट मिली तो फसलों की कटाई में जुटे किसान

औरैया। लॉकडाउन को लेकर शहर से गांव तक लोग सतर्क दिखाई दे रहे हैं। फसलों की कटाई के लिए प्रशासन से छूट मिलने पर किसान खेतों में पकी फसलों की कटाई में जुट गए हैं। साथ ही सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए खेतों में एक दूसरे से फासला भी बनाए हुए हैं। गांव के बुजुर्ग कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए युवाओं व बच्चों को नसीहत भी दे रहे हैं।
सहार ब्लॉक के गांव करियापुर में किसान रामलाल परिवार के सदस्यों के साथ गेहूं की पकी फसल काट रहे थे। कोरोना से बचाव को लेकर एक मीटर से अधिक की दूरी बनाकर फसल काटते नजर आए। रामलाल का कहना है कि लॉकडाउन के चलते बाहर आना-जाना बंद है। गेहूं की फसल तैयार हो चुकी है। इसलिए परिजनों के साथ मिलकर कटाई में जुटे हैं।
सदर ब्लॉक के गांव चिरूहूली में विजय सिंह परिजनों के साथ सरसों की कटी फसल की झुराई करते दिखे। साथ ही कोरोना को लेकर परिवार के लोगों से एक साथ खड़े न होकर दूरी बनाकर काम करने की हिदायत देते नजर आए। बताया कि इस बार बेमौसम की बरसात के चलते सरसों की फसल प्रभावित हुई है। उधर, बिधूना तहसील क्षेत्र के गांव लहरापुर निवासी राम सिंह बताते हैं कि लॉकडाउन के चलते घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं। सुबह के समय ग्रामीण पिराई के लिए सरसों व गेहूं डाल जाते हैं। राम सिंह दोपहर में पहले सरसों की पेराई व बाद में गेहूं की पिसाई करते हैं।
ब्लॉक सहार क्षेत्र के गांव सहायल में पीपल के पेड़ के नीचे गांव के बुजुर्ग और युवा बैठकर कोरोना वायरस को लेकर नसीहत देते नजर आए। गांव के विजय सिंह का कहना है कि उन्होंने पिता से सुना था कि करीब 100 वर्ष पहले भी इसी तरह प्लेग की बीमारी फैली थी। देशभर में इसकी चपेट में आने से बड़ी संख्या में लोगों की जान गई थी। कमोवेश यह महामारी भी ऐसी ही प्रतीत हो रही है।
उधर, सहायल के बुजुर्ग अनिल मिश्रा का कहना है कि कोरोना वायरस को लेकर गांव में ज्यादातर लोग प्रशासन की एडवाइजरी का पालन कर रहे हैं। लेकिन गांव के जो लोग बाहर से लौट रहे हैं, वह इस बीमारी को लेकर न आए जाएं। इसलिए उनका स्वास्थ्य परीक्षण करने के बाद गांव में प्रवेश करने की अनुमति मिलनी चाहिए। सहायल के किसान राधेश्याम का कहना है कि अपने पूरे जीवन में गांव में इतना सन्नाटा पहले कभी नहीं देखा। सभी का दायित्व है कि वह लॉकडाउन के लिए बनाए गए नियमों का पालन करें।
... और पढ़ें

कोरोना वायरस से सुरक्षा को बाटी सात हजार सैनिटाइजर किट

औरैया। कोरोना वायरस से बचाव को पालिका प्रशासन ने गुरुवार को सभी वार्डों के सभासदों, पालिका कर्मचारियों व शहरी क्षेत्र के लोगों को सैनिटाइजर किटों का वितरण किया। इस दौरान पालिकाध्यक्ष प्रतिनिधि ने लोगों से स्वच्छता के साथ-साथ सोशल डिस्टेंस बनाए रखने की अपील की। कहा कि इसके लिए सिर्फ बचाव ही एक मात्र उपाय है।
नगर पालिका परिसर में गुरुवार को अध्यक्ष प्रतिनिधि लालजी शुक्ला व ईओ बलवीर सिंह ने पालिका परिक्षेत्र के लोगों को कोरोना से बचाने के लिए सात हजार सैनिटाइजर किटों का वितरण किया। इस संबंध में अध्यक्ष प्रतिनिधि ने कहा कि हमें अपने देश को बचाने के लिए प्रधानमंत्री के आह्वान पर घरों के अंदर रहना है। बाहर भी खरीदारी करने के दौरान सोशल डिस्टेंस का पालन करना है।
साथ ही हाथ धोने व सेनेटाइजर का प्रयोग करने को कहा। कहा कि इस विधि को अपनाकर ही हम अपने को व अपने देश का इस गंभीर बीमारी से बचाव सकते हैं। इस दौरान उन्होंने पालिका कर्मचारियों को सैनिटाइजर किट वितरित की। इस मौके पर सेनेट्री इंस्पेक्टर मनोज निगोतिया, जेई जलकल विकास चौहान के अलावा अन्य पालिका कर्मचारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

सैनिटाइजेशन अभियान में जुटे सपोर्टिंग हैंड फाउंडेशन के युवा

दिबियापुर (औरैया)। लॉकडाउन के बाद युवाओं का एक संगठन सपोर्टिंग हैंड फाउंडेंशन जनता से जुड़े कार्यालयों और गांवों को सैनिटाइज करने में लगा है। संगठन की इस मुहिम में गांवों के लोग एवं युवा तेजी के साथ जुड़ रहे हैं।
सपोर्टिंग हैंड फाउंडेशन के आशीष मिश्रा ने बताया कि संगठन ने लॉकडाउन के पहले दिन से ही सैनिटाइजेशन करने का काम शुरू कर दिया था। विश्व स्वास्थ संगठन की गाइड लाइन के अनुसार सोडियम हाईपोक्लोराइड एवं फिनायल का मिश्रण बनाकर सैनिटाइज किया जाता है।
इसके लिए आसपास के गांवों में जाकर लोगों को सैनिटाइजेशन के बारे में जागरूक किया गया। जहां पर लोगों का आवागमन सबसे ज्यादा होता है, उस स्थान को प्राथमिकता पर रखा जाता है। सरकारी कार्यालयों में लगे दरवाजों के हैंडल, प्रमुख स्थानों पर लगे बिजली के खंभों आदि को सैनिटाइज किया जाता है। आगे भी यह अभियान जारी रहेगा। इस अभियान में दिवाकर पांडेय, गगन पांडेय, आशू मिश्रा, संगम मिश्रा, प्रिंस खान, सुशील त्रिपाठी, नवेद खान, रजतस समेत कई लोग सहयोग कर रहे हैं।
अब तक डीएम, एडीएम कार्यालय, विकास भवन, सीएमओ कार्यालय व आसपास के गांवों मलिन बस्तियों ककराही, जमुहीं, जोगियन डेरा, कपडिय़ा डेरा, ककराही कोठी, जमुहां, पीपरपुर में सेनिटाइजेशन का अभियान चला। इधर, ग्राम पंचायत हरचंदपुर के विभिन्न मजरों में राजीव आर्या व शाक्य महासभा के जिलाध्यक्ष अखिलेश शाक्य ने सैनिटाइजेशन किया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us