मरीज के मौत के मामले में डाक्टर पर दर्ज होगा केस

Auraiya Updated Thu, 11 Oct 2012 12:00 PM IST
औरैया। गोविंद नगर मोहल्ले में झोलाछाप डाक्टर के गलत इंजेक्शन से मरीज की मौत के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने झोलाछाप डाक्टरों के खिलाफ ताबड़तोड़ छापे मारे। दो बार क्लीनिक में छापा मारा गया लेकिन डाक्टर ताला लगाकर फरार है। छापा मारने पहुंची टीम ने चिकित्सक की गिरफ्तारी और उसके बाद मामला दर्ज किए जाने की बात कही है।
गोविंद नगर में सूरज की झोलाछाप डाक्टर डा. राजीव कुमार के इंजेक्शन लगाने से मौत हो गई थी। परिजनों ने हंगामा काटा तो चिकित्सक व उसके परिवारीजनों ने राजनैतिक दबाव बनाकर शांत करा दिया। बुधवार को सूरज के शव का अंतिम संस्कार हुआ। बुधवार को मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एनकेएस यादव के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ अभियान चलाकर छापेमारी की। प्रभारी अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. प्रवीण रायजादा ने बताया कि झोलाछाप चिकित्सक की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। उसके खिलाफ कोतवाली में मामला दर्ज कराया जाएगा। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एनके एस यादव ने बताया कि सीएमएस नाम की कोई डिग्री नहीं होती है। यह अस्पताल में एक पद होता है और गोविंद नगर में जिस झोलाछाप चिकित्सक ने सूरज को इंजेक्शन लगाया वह अस्पताल में कहीं नहीं है। उसके खिलाफ धोखाधड़ी का मामला पंजीकृत किया जाएगा।

इनसेट
छापा पड़ते ही दुकानें बंद कर भागे
बिधूना (औरैया)। बिधूना नगर में औषधि निरीक्षक ने बुधवार को सुबह दवा विक्रेताओं की दुकानों पर छापामार कार्रवाई की। छापा मारने की भनक लगते ही कस्बे के कई दवा विक्रेता अपनी दुकानें बंद करके भाग निकले। दवाइयाें की दुकानें बंद होने से मरीजों को काफी दिक्कतें उठानी पड़ी। औषधि निरीक्षक संदेश मौर्य ने बताया कि छापामार कार्रवाई जारी रहेगी।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बगैर जांच के नौकर रखने वाले सावधान, औरैया में लूट की फिराक में धरे गए पांच बदमाश

दुकानों या घरों में नौकर रखने वाले जरा सावधान हो जाएं। बिना जांच पड़ताल के रखे गए नौकर आपकी जान के दुश्मन बनकर आपकी संपत्ति भी लूट सकते हैं। औरैया पुलिस ने एक ऐसे ही मामले का खुलासा कर एक व्यापारी के नौकर के चेहरे का नकाब उतार फेंका है।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls