विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

ट्रंप-मेलानिया ने देखे ताज के तीन रंग... गाइड से पूछे ये 50 सवाल

मुहब्बत की निशानी ताजमहल पर सांझ के ढलते हुए सूरज की रोशनी में जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया पहुंचे तो पहली ही नजर में फिदा हो गए।

25 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अमेठी

मंगलवार, 25 फरवरी 2020

33 केवी लाइन में फाल्ट से 20 हजार आबादी अंधेरे में

अमेठी। मौसम में बदलाव के बीच शुक्रवार शाम आई तेज आंधी से 33 केवी लाइन में आए फाल्ट से क्षेत्र की विद्युत व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। इसकी वजह से करीब 20 हजार आबादी को 24 घंटे से बिजली की समस्या से जूझना पड़ रहा है। पावर कॉर्पोरेशन के कर्मचारी फाल्ट खोजने में जुटे हैं।
मौसम में बदलाव के बीच शुक्रवार को मामूली बरसात के साथ तेज हवा चली थी। हवा की तीव्रता की वजह से कस्बा स्थित उपकेंद्र तक आई 33 केवी लाइन में कहीं फाल्ट आ गया। इसके बाद पावर कॉर्पोरेशन के कर्मियों ने इसकी खोजबीन शुरू की लेकिन फाल्ट नहीं मिला। रात बीतने के बाद शनिवार सुबह से ही दोबारा फाल्ट खोजने का काम शुरू हुआ।
देर शाम तक कर्मी फाल्ट नहीं ढूंढ सके, इसके चलते कस्बे के अलावा ग्रामीण क्षेत्र की 20 हजार से अधिक आबादी को 24 घंटे से बिजली की समस्या से परेशान होना पड़ रहा है। इस समय बोर्ड परीक्षा के साथ ही स्नातक की परीक्षाएं चल रही हैं। ऐसे में छात्र-छात्राओं की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। अवर अभियंता प्रेमचंद्र कुशवाहा ने बताया कि फाल्ट खोजने का प्रयास किया जा रहा है। फाल्ट मिलते ही उसे दुरुस्त कर विद्युत व्यवस्था बहाल कर दी जाएगी।
... और पढ़ें

दायित्वों में लापरवाही पर 22 अफसरों से जवाब-तलब

गौरीगंज (अमेठी)। दैनिक अनुश्रवण प्रणाली के पोर्टल पर दर्ज शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही के चलते डिफाल्टर होना 22 अफसरों को भारी पड़ा। पोर्टल पर समीक्षा के दौरान मामला प्रकाश में आने के बाद एडीएम ने सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस में तत्काल शिकायतें निस्तारित कर जवाब देने का निर्देश दिया गया है।
जन शिकायतों के निस्तारण के लिए संचालित दैनिक अनुश्रवण प्रणाली पोर्टल पर संदर्भित शिकायतों के निस्तारण में डिफाल्टर की श्रेणी में पहुंचाना बुधवार को 22 अफसरों को भारी पड़ा। एडीएम वंदिता श्रीवास्तव ने अनुश्रवण पोर्टल पर शिकायतों के निस्तारण प्रगति की समीक्षा की।
समीक्षा के दौरान एक्सईएन सिंचाई, एआरटीओ, सीएमओ, बीएसए, परियोजना निदेशक डूडा, पूर्ति निरीक्षक तिलोई, एआर कोऑपरेटिव, एक्सईएन विद्युत अमेठी, एसडीएम गौरीगंज, अमेठी व तिलोई, तहसीलदार गौरीगंज, बीडीओ संग्रामपुर, शुकुल बाजार, भादर, बहादुरपुर, तिलाई व अमेठी, ईओ गौरीगंज व अमेठी तथा एसओ संग्रामपुर शिकायतों के निस्तारण में डिफाल्टर की श्रेणी में मिले।
शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही से नाराज एडीएम से सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। नोटिस में पोर्टल पर लंबित शिकायतों का त्वरित निस्तारण करते हुए जवाब देने का निर्देश दिया गया है। एडीएम ने शिकायतें लंबित रहने व जवाब से संतुष्ट नहीं होने की दशा में कार्रवाई की चेतावनी दी है।
... और पढ़ें

शिक्षक बने डीएम, सवालों से परखी शैक्षिक गुणवत्ता

गौरीगंज (अमेठी)। जिले में बेहतर शिक्षण व्यवस्था सुनिश्चित करने की कोशिश में जुटे डीएम ने बुधवार को असैदापुर स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय आश्रम पद्धति राजकीय बालिका इंटर कॉलेज का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान शिक्षक बने डीएम ने सवालों के जरिए बच्चों की शैक्षिक गुणवत्ता का परीक्षण करने के अलावा स्कूल में बन रहे भोजन व भवन निर्माण में प्रयुक्त सामग्री की जांच करने का भी निर्देश दिया।
डीएम ने शैक्षिक गुणवत्ता संतोषजनक नहीं मिलने पर जिम्मेदारों को फटकार लगाते हुए जांच के बाद भोजन में प्रयुक्त सामग्री की गुणवत्ता खराब मिलने पर ठेकेदार के खिलाफ केस दर्ज कराने का निर्देश दिया।
परिषदीय स्कूलों के साथ आवासीय स्कूलों में बेहतर शिक्षण व्यवस्था सुनिश्चित करने की कोशिश में जुटे डीएम अरुण कुमार का औचक निरीक्षण अभियान बुधवार को भी जारी रहा। बुधवार को डीएम अचानक असैदापुर स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय आश्रम पद्धति राजकीय बालिका इंटर कॉलेज पहुंच गए।
स्कूल में शिक्षक की भूमिका में आए डीएम ने क्लास रूम में हिंदी, गणित व अंग्रेजी सहित अन्य विषयों में बच्चों से सवाल-जवाब करते हुए उनके शैक्षिक स्तर का आकलन किया। स्कूल में शैक्षिक गुणवत्ता संतोषजनक नहीं मिलने पर डीएम ने शिक्षक स्टाफ को जमकर फटकार लगाई। क्लास रूम से निकले डीएम रसोईघर पहुंच गए।
इस दौरान भोजन निर्माण में प्रयुक्त होने वाली सामग्री की गुणवत्ता बेहतर नहीं देख खाद्य सुरक्षा अधिकारी को खाद्य पदार्थों का नमूना लेकर जांच कराने तथा नमूना फेल होने पर आपूर्ति कर्ता फर्म के खिलाफ केस दर्ज कराने का निर्देश दिया। इस दौरान डीएम ने स्कूल में चल रहे प्रधानाचार्य आवास व ट्रांजिट हॉस्टल के निर्माण की हकीकत भी परखी।
निर्माण कार्य की गति धीमी देख भड़के डीएम ने एक्सईएन लोक निर्माण विभाग को प्रयुक्त सामग्री की जांच करने तथा कार्यदायी को समय सीमा में कार्य पूरा करने का निर्देश दिये। डीएम ने स्कूल की शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार नहीं होने तथा भोजन व आवास निर्माण में प्रयुक्त सामग्री की गुणवत्ता खराब होने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।
... और पढ़ें

13 बीडीओ को प्रतिकूल प्रविष्टि की चेतावनी

गौरीगंज (अमेठी)। मनरेगा के कार्यों में रुचि नहीं लेना जिले के सभी 13 खंड विकास अधिकारियों को भारी पड़ सकता है। सीडीओ ने सभी बीडीओ को नोटिस जारी कर लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति नहीं होने पर प्रतिकूल प्रविष्टि की चेतावनी दी है। सीडीओ की ओर से नोटिस जारी होने के बाद बीडीओ संवर्ग में हड़कंप मचा है।
महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना में लापरवाही बरतना जिले के सभी खंड विकास अधिकारियों को भारी पड़ सकता है। सीडीओ प्रभुनाथ ने मनरेगा योजना के तहत कार्यों की ब्लॉकवार समीक्षा की तो लापरवाही सामने आई। समीक्षा में ब्लॉकों में लेबर बजट के सापेक्ष व्यय का प्रतिशत, रोजगार सृजन का प्रतिशत, योजना में महिलाओं की सहभागिता का प्रतिशत और पूर्ण कार्यों के सापेक्ष फोटो अपलोडिंग की दशा खराब मिली।
महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गांरटी योजना में तैनात अधिकारियों की ओर से बरती जा रही लापरवाही से नाराज सीडीओ ने जिले के सभी 13 ब्लॉकों के बीडीओ (कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा) को कारण बताओ नोटिस जारी कर लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति सुनिश्चित कराने का आदेश दिया है।
सीडीओ ने आदेश का पालन नहीं करने की स्थिति में सभी को प्रतिकूल प्रविष्टि देने की चेतावनी दी है। सीडीओ का पत्र व चेतावनी सार्वजनिक होने के बाद सिर्फ खंड विकास अधिकारियों के अलावा मनरेगा से जुड़े अन्य अधिकारियों/कर्मचारियों व पूरे विकास महकमे में हड़कंप मचा है।
... और पढ़ें

लापरवाही पर 25 अफसरों को कारण बताओ नोटिस

गौरीगंज (अमेठी)। आईजीआरएस पोर्टल पर सीएम व अफसरों की ओर से संदर्भित शिकायतें के निस्तारण में डिफाल्टर होना जिले के 25 अफसरों को भारी पड़ा। एडीएम ने शिकायत निस्तारण प्रगति की समीक्षा की तो मामला प्रकाश में आया। शिकायत निस्तारण में बरती जा रही लापरवाही से नाराज एडीएम ने सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इसमें तत्काल पोर्टल पर लंबित शिकायतों का निस्तारण करते हुए जवाब देने का निर्देश दिया है।
प्रदेश सरकार की ओर जन शिकायतों के निस्तारण में संचालित दैनिक अनुश्रवण प्रणाली पोर्टल पर मुख्यमंत्री समेत अफसरों की ओर से संदर्भित शिकायतों के निस्तारण में डिफाल्टर की श्रेणी में पहुंचना जिले के 25 अफसरों को भारी पड़ा। शिकायतों के निस्तारण में जिले को फरवरी माह में भी प्रथम स्थान दिलाने की कोशिश में जुटी एडीएम वंदिता श्रीवास्तव ने सोमवार को पोर्टल पर निस्तारण की समीक्षा की।
समीक्षा के दौरान जिला उपायुक्त मनरेगा, परियोजना निदेशक, डीपीआरओ, डीपीओ, एक्सईएन लघु सिंचाई, एक्सईएन विद्युत खंड गौरीगंज, एक्सईएन सिंचाई, डीआईओएस, सीवीओ, युवा कल्याण अधिकारी, आयुक्त सहकारिता, एसडीएम अमेठी, सीओ गौरीगंज, तहसीलदार गौरीगंज व अमेठी, डीडीओ, प्रभागीय वनाधिकारी, बीडीओ भादर, संग्रामपुर, अमेठी, भेटुआ, बाजार शुकुल, अधीक्षक सीएचसी भेटुआ व एसओ जगदीशपुर शिकायत के निस्तारण में डिफाल्टर की श्रेणी में मिले।
अफसरों की लापरवाही से नाराज एडीएम ने सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इसमें तत्काल शिकायतों का निस्तारण करते हुए जवाब देने का निर्देश दिया गया है। एडीएम ने शिकायतें निस्तारित नहीं होने तथा जवाब से संतुष्ट नहीं होने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।
... और पढ़ें

स्टेटिक मजिस्ट्रेट को चेतावनी पत्र जारी

गौरीगंज (अमेठी)। हाईस्कूल बोर्ड परीक्षा में नियमों के खिलाफ कार्य करना सोमवार को नामित स्टेटिक मजिस्ट्रेट व एक शिक्षक को भारी पड़ा। निरीक्षण के दौरान मामला प्रकाश में आने के बाद डीआईओएस ने स्टेटिक मजिस्ट्रेट के पद पर कार्यरत अनुदेशक को चेतावनी पत्र जारी करते हुए शिक्षिका को कार्यमुक्त करने के साथ तीन साल की परीक्षा ड्यूटी से डिबार करने की संस्तुति की है।
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से संचालित हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में नियमों के खिलाफ कार्य करना सोमवार को स्टेटिक मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात अनुदेशक व एक शिक्षिका को भारी पड़ा।
डीआईओएस जयकरन लाल वर्मा ने सोमवार को जामो स्थित सर्वोदय साइंस कॉलेज का औचक निरीक्षण किया तो स्टेटिक मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात अनुदेशक जनार्दन गौड़ मोबाइल लेकर गेट के पास मिले तो जनापुर स्थित श्री बेचू सिंह कनपुरिया इंटर कॉलेज में अवमोचक के रूप में तैनात संस्था की शिक्षिका अर्चना देवी कक्ष निरीक्षकों के साथ परीक्षा कक्ष में मिलीं।
नियमों के विरुद्ध केंद्र पर मोबाइल प्रयोग करने पर डीआईओएस ने अनुदेशक को चेतावनी पत्र जारी करते हुए शिक्षिका अर्चना को परीक्षा कार्य से मुक्त करते हुए सचिव को पत्र भेजकर तीन वर्ष के लिए परीक्षा ड्यूटी से डिबार करने की संस्तुति की है।
परीक्षा केंद्रों के साथ डीआईओएस ने उप संकलन केंद्र मलिक मोहम्मद भारतीय इंटर कॉलेज का निरीक्षण किया। डीआईओएस की कार्रवाई से परीक्षा से जुड़े जिम्मेदारों व शिक्षकों में हड़कंप मचा हुआ है।
... और पढ़ें

36 लाख की लागत से अरही नाला पर बनेगा पुल

बाजार शुकुल (अमेठी)। बाजार शुकुल ब्लॉक के पूरे गुजरन गांव से होकर गुजरने वाले अरही नाला जल्द ही पुल का निर्माण होगा। प्रदेश सरकार की ओर से इसकी वित्तीय व प्रशासनिक स्वीकृति भी मिल चुकी है। पुल निर्माण पर 36 लाख रुपये की लागत आएगी। शासन ने पुल निर्माण के लिए लघु सेतु निगम को कार्यदायी संस्था नामित किया है। नाला पर पुल निर्माण होने से क्षेत्र की जनता को काफी सहूलियत मिलेगी।
स्थानीय विकासखंड के पूरे गुजरन संपर्क मार्ग पर पड़ने वाले अरही नाला पर बना पुल काफी दिनों पूर्व टूट गया था। इससे आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया था। बावजूद इसके राहगीर जान जोखिम में डालकर आवागमन करते थे। लेकिन बारिश के मौसम में आवागमन पूरी तरह बंद हो जाता था।
नाले पर बने इस पुल का निर्माण वर्ष 1984 में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी ने अमेठी लोकसभा क्षेत्र से पहली बार सांसद बनने पर कराया था। पिछले दिनों पुल की रेलिंग व छत अचानक ढह जाने से यह समस्या उत्पन्न हो गई।
इसके चलते ग्रामीणों, राहगीरों व स्कूली बच्चों के साथ किसी भी समय अप्रिय घटना घटने की भी आशंका बनी रहती थी। काफी दिनों जिसकी मांग लगातार ग्रामीण करते आ रहे थे। ग्रामीणों की समस्या को लेकर विधायक सुरेश पासी ने इस पुल के निर्माण के लिए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को प्रस्ताव भेजा।
जिस पर उप मुख्यमंत्री ने मुहर लगा दी है। पुल निर्माण की राशि 36 लाख लोक निर्माण विभाग को भेजी गई है। इस पुल के निर्माण से पूरे रामदीन व पूरे गुजरन गांव के लोग काफी खुश हैं। पुल बनने से लगभग दस हजार आबादी के लोगों को फायदा होगा और एक दर्जन से अधिक गांव भी जुड़ जाएंगे।
... और पढ़ें

ट्रिपलिंग से हादसे में एक की मौत, दो घायल

अमेठी। बाइक पर ट्रिपलिंग कर रहे तीन लोग हादसे का शिकार हो गए। कस्बे में इनकी बाइक में तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी। इससे बाइक सवार तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने एक को मृत घोषित कर दिया जबकि दोनों घायलों का इलाज चल रहा है। पुलिस ने अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
जगदीशपुर थाना क्षेत्र के गांव पूरे विजय गोसाई मजरे हुसैनगंज कला निवासी मेवालाल (50) व कृष्णकुमार अपने भांजे राकेश के साथ रविवार सुबह बाइक से इलाज कराने जगदीशपुर जा रहे थे। कस्बे में बस स्टॉप के पास पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने इनकी बाइक में टक्कर मार दी।
दुर्घटना के बाद चालक ट्रक समेत फरार हो गया जबकि बाइक सवार तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पहुंचे लोगों ने तीनों घायलों को सीएचसी पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने मेवालाल को मृत घोषित कर दिया। अन्य दोनों को भर्ती कर इलाज शुरू किया। घायलों की हालत में सुधार होने पर इन्हें दोपहर में घर भेज दिया गया।
सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक का शव पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया। प्रभारी निरीक्षक अंगद सिंह ने बताया कि घायल कृष्णकुमार की तहरीर पर अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।
... और पढ़ें

26 फरवरी से पांच मार्च तक निरस्त रहेंगी 14 ट्रेनें

अमेठी। लखनऊ-प्रतापगढ़ रेल ट्रैक के यात्री 26 फरवरी से पांच मार्च तक परेशानी झेलेेंगे। गौरीगंज से अमेठी रेलवे स्टेशन के बीच दोहरीकरण ट्रैक के नॉन इंटरलॉकिंग कार्य को पूरा करने के लिए विभाग की ओर से दिए गए ब्लॉक को इसका कारण बताया जा रहा है।
आदेश के बाद संचालन विभाग ने 14 ट्रेनें निरस्त करते हुए सात एक्सप्रेस ट्रेनों का मार्ग परिवर्तित कर दिया है। संचालन विभाग का आदेश सार्वजनिक होने के बाद आरक्षित टिकट के यात्रियों के साथ अन्य यात्रियों को इस अवधि में यात्रा करने के लिए निजी वाहनों का सहारा लेने को मजबूर होना पड़ेगा। रेलवे के निर्णय से प्रतिदिन करीब तीन हजार यात्रियों को परेशानी झेलनी होगी।
गौरीगंज-अमेठी के बीच दोहरीकरण रेल ट्रैक पर ट्रेनें संचालित करने की कोशिश में जुटा रेल विभाग आगामी 26 फरवरी से पांच मार्च तक नॉन इंटरलॉकिंग कार्य पूरा करेगा। इसमें कोई व्यवधान न हो, इसके लिए मंजूरी मिलने के बाद संचालन विभाग को ब्लॉक आदेश निर्गत कर दिया गया है।
ब्लॉक आदेश मिलने के बाद संचालन विभाग ने ट्रैक पर प्रतिदिन संचालित रायबरेली-जौनपुर एक्सप्रेस, वाराणसी-लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस, वाराणसी-देहरादून जनता एक्सप्रेस, लखनऊ-वाराणसी इंटरसिटी एक्सप्रेस, शटल पैसेंजर, पीआरएल पैसेंजर व वीपीएल पैसेंजर (सभी ट्रेनें अप/डाउन) को 26 फरवरी से पांच मार्च तक के लिए निरस्त कर दिया है।
इतना ही नहीं अप/डाउन पंजाब मेल व नीलांचल एक्सप्रेस को वाया सुल्तानपुर, अप/डाउन अर्चना एक्सप्रेस को वाया फैजाबाद तथा यशवंतपुर-लखनऊ एक्सप्रेस को वाया ऊंचाहार संचालित करने का निर्णय लिया गया है। इसके अतिरिक्त तीन मार्च को रायबरेली-प्रतापगढ़ के बीच साकेत लिंक एक्सप्रेस को निरस्त रखते हुए अप काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस तीन मार्च को दो घंटे विलंब से संचालित होगी।
विभाग का आदेश सार्वजनिक होने के बाद यात्रियों में हड़कंप मचा हुआ है। आरक्षित टिकट के यात्री टिकट निरस्त कराने के साथ नई तिथि का टिकट लेने को परेशान हैं तो निरस्तीकरण अवधि में दिन में एक भी पैसेंजर ट्रेन नहीं होने से यात्रियों को परेशानी के साथ ही निजी वाहन का सहारा लेने को मजबूर होना पड़ेगा।
स्टेशन अधीक्षक राजेश कुमार ने संचालन विभाग का आदेश मिलने की पुष्टि की है। अधीक्षक ने बताया कि निरस्त व मार्ग परिवर्तित ट्रेनों की जानकारी यात्रियों को दी जा रही है। बुकिंग काउंटर पर टिकट निरस्त करने के साथ नई तिथि के टिकटों की बुकिंग की जा रही है। यात्रियों को परेशानी न हो इसके लिए निरस्त व मार्ग परिवर्तित ट्रेनों की सूचना का प्रचार-प्रसार भी लगातार किया जा रहा है।
स्टेशन मास्टर प्रवीण सिंह ने ट्रैक पर संचालित ट्रेनों में से 14 के निरस्त व सात के मार्ग परिवर्तित होने की पुष्टि की है। शेष 35 ट्रेनों का संचालन निर्धारित समय सारिणी के अनुसार ही होगा। यात्रियों की सुविधा के लिए सूचना बोर्ड पर चस्पा करा दी गई है।
... और पढ़ें

बार एसोसिएशन अध्यक्ष समेत चार के खिलाफ केस

अमेठी। दीवानी न्यायालय संचालन की मांग को लेकर आंदोलित बार एसोसिएशन अध्यक्ष व सदस्यों द्वारा शनिवार को जिला मजिस्ट्रेट की कोर्ट के सामने प्रदर्शन व नारेबाजी करने का मामला तूल पकड़ गया है। डीएम के रीडर की तहरीर पर शनिवार देर रात बार एसोसिएशन अध्यक्ष समेत चार नामजद व 30-40 अज्ञात अधिवक्ताओं के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।
जनपद में दीवानी न्यायालय संचालन की मांग को लेकर जिला बार एसोसिएशन पिछले करीब एक माह से कार्य बहिष्कार व आंदोलन चला रहा है। इसी क्रम में अधिवक्ताओं ने शनिवार को जिला मजिस्ट्रेट अरुण कुमार की कोर्ट के सामने प्रदर्शन व नारेबाजी की।
प्रदर्शन व नारेबाजी का विरोध करने पर दोनों पक्षों में तकरार होने की बात भी कही जा रही है। जिला मजिस्ट्रेट के निर्देश पर शनिवार रात उनके रीडर ने गौरीगंज थाने में बार एसोसिएशन अध्यक्ष केवल प्रसाद शुक्ल, महामंत्री कृपाशंकर त्रिपाठी, उमाशंकर मिश्र व अंगद समेत 30-40 अज्ञात अधिवक्ताओं के खिलाफ तहरीर दी।
रीडर की तहरीर पर देर रात पुलिस ने चार नामजद समेत 30-40 अज्ञात अधिवक्ताओं के खिलाफ न्यायालय संचालन में बाधा पहुंचाने, अभद्रता करने समेत कई गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है। प्रभारी निरीक्षक परशुराम ओझा ने केस दर्ज करने की पुष्टि करते हुए बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
बार एसोसिएशन अध्यक्ष केवल प्रसाद शुक्ल ने कहा कि अधिवक्ताओं की मांग जायज है। शासन-प्रशासन को हमारी मांग माननी पड़ेगी। मांग पूरी होने तक आंदोलन व कार्य बहिष्कार जारी रहेगा। केवल प्रसाद शुक्ल ने कहा कि प्रशासन अधिवक्ताओं के आंदोलन को पुलिस के बल पर कुचलने का कुचक्र रच रहा है। जिसे सफल नहीं होने दिया जाएगा।
... और पढ़ें

सात केंद्रों पर कल शुरू होगी मदरसा बोर्ड परीक्षा

अमेठी। उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड से संचालित मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल व फाजिल की परीक्षा जिले के सात केंद्रों पर मंगलवार को शुरू होगी। रविवार को सात केंद्रों के साथ विभाग परीक्षा से जुड़ी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा रहा।
नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए न सिर्फ सीसीटीवी कैमरे व वाइस रिकार्डर की जांच हुई बल्कि आवंटित परीक्षार्थियों की संख्या के अनुसार फर्नीचर, पेयजल व अन्य सुविधाओं का भी सत्यापन हुआ। अफसरों के निर्देश पर परीक्षा केंद्रों पर जिम्मेदारों ने सिटिंग प्लान को अंतिम रूप दिया।
मदरसा बोर्ड परीक्षा प्रमुख सचिव उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड की ओर से जारी समय सारिणी के अनुसार जिले के सात इंटर कॉलेजों में मंगलवार से शुरू होगी। परीक्षा को नकल विहीन कराने की कोशिश में जुटे जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अफसरों के अलावा नामित सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेट व सचल दल के सदस्यों ने रविवार को केंद्रों का निरीक्षण कर आवंटित परीक्षार्थियों की संख्या के अनुसार तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान सिटिंग प्लान के साथ ही सीसीटीवी कैमरे, प्रसाधन, पेयजल व प्रकाश व्यवस्था आदि का बारीकी से जायजा लिया गया।
केंद्र व्यवस्थापक व शिक्षक केंद्र पर परीक्षा संबंधी व्यवस्थाओं को अंतिम रूप देने में जुटे रहे। प्रभारी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने सभी केंद्र प्रभारियों को नकल विहीन परीक्षा संपन्न कराने के लिए आवश्यक निर्देश देते हुए परीक्षा की शुचिता कायम रखने का निर्देश दिया। अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने परीक्षा केंद्र पर नकल होने तथा गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।
मदरसा बोर्ड में जिले में संचालित 37 मदरसों में अध्ययनरत 2,440 परीक्षार्थी शामिल होंगे। परीक्षा में सेकेंडरी अरबी (मुंशी) में 768 परीक्षार्थी, सेकेंडरी अरबी (मौलवी) में 604, सीनियर सेकेंडरी अरबी (आलिम) में 324, कामिल में 563 परीक्षार्थी व फाजिल में 181 समेत कुल 2,440 विद्यार्थी शामिल होंगे।
जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी कार्यालय के वक्फ निरीक्षक आरके सिंह ने बताया कि परीक्षा के जीआईसी जायस, अलीमिया पब्लिक इंकॉ बहादुपुर, श्री चंद्रभवन शुक्ल इंकॉ दरपीपुर, बीएसएन इंकॉ जगदीशपुर, श्री रामसुमिरन उपाध्याय इंकॉ रानीगंज, मॉ विद्या देवी गर्ल्स इंकॉ जगदीशपुर तथा श्री राधेश्याम सिंह इंकॉ दादरा को परीक्षा केंद्र निर्धारित किया गया है।
मदरसा बोर्ड परीक्षा की निगरानी करने के लिए तीन सचल दल का गठन किया गया है। प्रत्येक सचल दल में दो पुरुष शिक्षक के साथ एक महिला शिक्षक को नामित किया गया है। डीएम की ओर से जारी आदेश में डीआईओएस, बीएसए व प्रभारी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी की अगुवाई में गठित सचल दल को परीक्षा की नियमित निगरानी करने को कहा गया है।
... और पढ़ें

लापरवाह प्रधानाचार्य के निलंबन की संस्तुति

अमेठी। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से संचालित बोर्ड परीक्षा में लापरवाही बरतना प्रभारी प्रधानाचार्य को रविवार को भारी पड़ा। लगातार मिल रही शिकायतों व जांच में पुष्टि होने के बाद डीआईओएस ने अपर सचिव को पत्र भेजकर प्रभारी प्रधानाचार्य के निलंबन की संस्तुति की है। डीआईओएस की कार्रवाई से माध्यमिक शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।
हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा कार्यों में लगातार लापरवाही बरतना राजकीय हाईस्कूल रानीगंज के प्रभारी प्रधानाचार्य हरिश्चंद्र वर्मा को भारी पड़ गया। परीक्षा शुरू होने के बाद से प्रवेशपत्र वितरण नहीं करने, प्राइवेट परीक्षार्थियों के आवेदनों में त्रुटि के बाद बिना सूचना उसे सही करने, लगातार बच्चों के विषय परिवर्तन करने तथा साइंस वर्ग के परीक्षार्थी को हिंदी साहित्यिक विषय में पंजीकृत करने की शिकायत मिलने के बाद विभाग ने इस पर कड़ा रुख अख्तियार किया है।
प्रभारी प्रधानाचार्य की ओर से बरती जा रही लापरवाही से नाराज डीआईओएस जयकरन लाल वर्मा ने प्रभारी प्रधानाचार्य से जवाब-तलब करते हुए अपर शिक्षा निदेशक माध्यमिक को पत्र जारी कर इनके निलंबन की संस्तुति की है। डीआईओएस की कार्रवाई से माध्यमिक शिक्षा विभाग के साथ ही परीक्षा से जुड़े शिक्षकों में हड़कंप मचा हुआ है।
हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा की निगरानी के लिए नामित श्रावस्ती डायट प्राचार्य कमलेश कुमार ने शनिवार को जिले के परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। नोडल अधिकारी ने श्री निषादराज इंकॉ किटियावां, जीजीआईसी शाहगढ़, रानी सुषमा देवी बालिका इंकॉ मुंशीगंज, गांधी इंकॉ कोरारी लक्ष्छनशाह, सरस्वती शिक्षा मंदिर ग्राम भारती, यशोदा देवी बालिका इंकॉ नौगिरवां तथा श्री रणछोर इंकॉ टिकरी का निरीक्षण किया। इस दौरान नोडल अधिकारी को कहीं भी परीक्षा की शुचिता प्रभावित होने का मामला प्रकाश में नहीं आया।
... और पढ़ें

सामूहिक नकल की शिकायत पर जांच टीम गठित

अमेठी। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में जिम्मेदारों की मनमानी समाप्त होने का नाम नहीं ले रही है। शनिवार को ताला स्थित मुकुटनाथ इंटर कॉलेज में अंग्रेजी विषय की परीक्षा में नियमों के विपरीत विषय विशेषज्ञ शिक्षकों की तैनाती कर सामूहिक नकल कराने की शिकायत सार्वजनिक हुई है। मामले की शिकायत मिलने के बाद डीआईओएस ने दो सदस्यीय जांच टीम गठित करते हुए तीन दिन में विस्तृत जांच रिपोर्ट तलब की है।
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से 18 फरवरी से शुरू हुई हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा में परीक्षा केंद्रों से जुड़े शिक्षकों की मनमानी समाप्त होने का नाम नहीं ले रही है। शनिवार को हाईस्कूल के अंग्रेजी विषय की परीक्षा के दौरान विषय विशेषज्ञ शिक्षकों को कक्ष निरीक्षक के रूप में तैनात कर सामूहिक नकल की शिकायत सार्वजनिक हुई है।
शिकायत को गंभीरता से लेते हुए डीआईओएस ने जीआईसी फुरसतगंज के प्रधानाचार्य संदीप चौधरी व राबिया राजकीय हाईस्कूल अफुइया के अनिल कुमार की अगुवाई में दो सदस्यीय टीम गठित करते हुए तीन दिन में विस्तृत जांच रिपोर्ट तलब की है। डीआईओएस ने जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज से कक्ष निरीक्षकों की पहचान करते हुए उनके शैक्षिक अभिलेखों की पड़ताल करते हुए सभी बिंदुओं पर जांच करने का निर्देश दिया है।
डीआईओएस जयकरन लाल वर्मा ने शिकायत मिलने की पुष्टि करते हुए बताया कि संबंधित विषय के शिक्षकों को कक्ष निरीक्षक के रूप में तैनात करना गलत है। परीक्षा के दिन ही सुबह नए केंद्र व्यवस्थापक ने कार्यभार ग्रहण किया था। पुराने केंद्र व्यवस्थापक की ओर से ड्यूटी लगाई गई थी। जांच टीम की रिपोर्ट में अंग्रेजी विषय की परीक्षा में अंग्रेजी विषय के शिक्षकों की ड्यूटी लगाने की पुष्टि होने पर जिम्मेदार के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us