शिक्षक भर्ती के लिए ट्रेजरी चालान न बन पाने से बिफरे, हंगामा

AmbedkarNagar Updated Tue, 18 Dec 2012 05:30 AM IST
अंबेडकरनगर। शिक्षकों की भर्ती में एसबीआई की शाखा से ट्रेजरी चालान जमा करने के प्रतिबंध ने आवेदकों व बैंककर्मियों की परेशानी बढ़ा दी है। सोमवार को ट्रेजरी चालान बनवाने के लिए आवेदकों की भारी भीड़ नगर की दोनों शाखाओं पर उमड़ी। इससे बैंक शाखाओं की व्यवस्था चरमरा गई। आवेदकों ने दोनों बैंक शाखाओं में जमकर हंगामा किया। आवेदकों ने इस बात को लेकर बैंकों में हंगामा किया कि उनके लिए अलग से कम से कम दो कांउटर खोले जाएं।
शिक्षक भर्ती के लिए ट्रेजरी चालान जमा करने को लेकर जिला मुख्यालय स्थित एसबीआई की दोनों शाखाओं पर आवेदकों की भारी भीड़ उमड़ी। इससे बैंक की सारी व्यवस्था चरमरा गई। भीड़ के चलते बैंक कर्मियों को मजबूरन एक आवेदक के अधिकतम तीन ट्रेजरी चालान बनाने का भी प्रतिबंध लगाना पड़ा। अकबरपुर नगर की मुख्य शाखा में ट्रेजरी चालान बनवाने पहुंचे केदारनगर के जयप्रकाश, अमित तिवारी, निलेश मिश्र, अन्नावां के जयगोपाल, तिवारीपुर के संदीप पाण्डेय ने बताया कि लगभग दो घंटे बाद भी उनका चालान अभी तक नहीं बन सका। वहीं शहजादपुर की शाखा में भी ट्रेजरी चालान बनवाने के आवेदकों की भीड़ के चलते अफरातफरी का माहौल रहा। जलालपुर के मित्तूपुर रोड स्थित स्टेट बैंक की शाखा पर अफरातफरी का माहौल रहा। ट्रेजरी के लिए लाइन में खड़े राकेश कुमार, प्रेमकुमार, जितेंद्र व वीरेंद्र बहादुर ने बताया कि एक ट्रेजरी बनाने के लिए घंटों लाइन में खड़े होना पड़ रहा है। बसखारी प्रतिनिधि के अनुसार आवेदकों को ट्रेजरी चालान बनवाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। आवेदक राजेश तिवारी, शिवमोहन, अनीस, ने बताया कि बैंक कर्मी ट्रेजरी चालान बनाने में मनमानी कर रहे हैं। आलापुर व टांडा में स्थित एसबीआई की शाखाओं में ट्रेजरी चालान के लिए आवेदकों का तांता लगा रहा। एलडीएम एके शर्मा ने कहा कि आवश्यक व्यवस्था की जा रही है।

Spotlight

Most Read

Rohtak

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

19 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper