नए साल में 63 दिन बजेगी शहनाई

AmbedkarNagar Updated Mon, 03 Dec 2012 05:30 AM IST
अंबेडकरनगर। नए वर्ष में शहनाई की गूंज सिर चढ़कर बोलेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि वर्ष 2013 में कुल 63 दिन विवाह का योग है, जबकि मौजूदा वर्ष सिर्फ 26 दिन ही सेहरा बांधने का मौका सामने आया है। अब दो गुने से भी अधिक दिन शादियों का योग होने से न सिर्फ विवाह शादी की तैयारियों में जुटे वर व कन्या पक्ष के लोगों के चेहरे खिल उठे हैं, वरन होटल, बैंड बाजे तथा टेंट से लेकर फूल आदि व्यवसाय से जुड़े लोगों की खुशी भी देखने लायक है।
शुभ मुहूर्त में विवाह के लिए आमतौर पर होने वाली माथापच्ची नए वर्ष में उन लोगों को ज्यादा नहीं करनी पड़ेगी, जिनके बेटे या बेटियां विवाह योग्य हो गए हैं। कारण यह कि वर्ष 2013 में विवाह के शुभ मुहुर्त खूब पड़ रहे हैं। कटरिया सम्मनपुर के पुजारी पं. बाबूराम पाण्डेय के मुताबिक जनवरी में कुल 10 दिन 16 जनवरी, 17, 18, 21, 22, 23, 28, 29, 30 व 31 तारीख को विवाह का योग है। फरवरी में 9 दिन एक फरवरी, 2, 3, 4, 5, 6, 8, 13 व 14 फरवरी को शहनाई गूंजेगी। मार्च में विवाह का योग नहीं है, जबकि अप्रैल में 3 दिन 27, 28 व 29 को लोग वैवाहिक आयोजन निपटा सकते हैं। मई में सर्वाधिक 18 दिन 1, 6, 7, 11, 12, 13, 17, 18, 19, 20, 21, 22, 23, 25, 26, 27, 28 व 29 तारीख को शहनाई गूंजने के योग हैं। जून में सिर्फ तीन दिन 2, 3 व 4 तारीख को विवाह होंगे। जुलाई में आठ दिन 11, 12, 13, 14, 15, 16, 17 व 18 तारीख को कन्या पक्ष के घर वर पक्ष बारात लेकर पहुंच सकेगा। इसके बाद नवंबर में सात दिन 19, 20, 24, 25, 27, 28 व 30 तारीख को शादी हो सकेगी। दिसंबर में 4, 5, 6, 10 व 12 तारीख को कुल पांच दिन विवाह के योग हैं। ऐसे में वर्ष 2013 में कुल 63 दिन विवाह के लिए शहनाई गूंजने का मार्ग प्रशस्त हो गया है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018