मानकों को ताक पर रख हो रहा निर्माण

AmbedkarNagar Updated Tue, 30 Oct 2012 12:00 PM IST
अंबेडकरनगर। शिक्षा के मंदिर के निर्माण में ही मानक का ध्यान नहीं रखा जा रहा है। पीली ईंटों के साथ-साथ सफेद बालू का प्रयोग धड़ल्ले से हो रहा है, लेकिन विभागीय अधिकारियों को इसकी सुध नहीं है। दरअसल जिले में कम्पोजिट स्कूल योजना के तहत दो विद्यालयों का निर्माण कराया जा रहा है। इसमें जमकर अनियमितता बरती जा रही है। 82 लाख 4 हजार रुपये की लागत से बनने वाले इन विद्यालयों के निर्माण में कार्यदायी संस्था पूरी तरह लापरवाह बनी हुई है। निर्माण में धांधली बरते जाने की शिकायत ग्रामीणों द्वारा कई बार विभागीय अधिकारियों से की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। नतीजतन कार्यदायी संस्था धड़ल्ले से मनमानी कर रही है।
बच्चों को अच्छी व गुणवत्तापरक शिक्षा दिए जाने एवं सभी पढ़ें, सभी बढ़ें नारे को हकीकत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने कम्पोजिट स्कूल योजना चलाए जाने की घोषणा विगत वर्षों में की थी। योजना के तहत अंबेडकरनगर जिले के हिस्से में दो विद्यालय आए। एक का निर्माण अकबरपुर नगर के कटरिया याकूबपुर और दूसरे का वाजिदपुर जलालपुर स्थित कांशीराम शहरी आवासीय कॉलोनी परिसर में किए जाने निर्णय लिया गया। 82 लाख 4 हजार रुपये की लागत से बनने वाले दोनों विद्यालयों के निर्माण की जिम्मेदारी पीएनडीएस जल निगम को सौंपी गई। प्रथम किस्त के रूप में प्रत्येक विद्यालय के निर्माण के लिए संस्था को 41 लाख 2 हजार रुपये निर्गत भी कर दिए गए। लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ, लेकिन इसमें मानकों का ध्यान नहीं रखा गया। पीली ईटों व सफेद बालू का प्रयोग धड़ल्ले से होने लगा।
सोमवार को कटरिया याकूबपुर में बन रहे विद्यालय की गुणवत्ता परखने के लिए पहुंचे ‘अमर उजाला प्रतिनिधि’ को जगह-जगह पीले ईंटों का चट्टा लगा दिखाई दिया। साथ ही सफेद बालू का भी ढेर लगा दिखाई पड़ा।
विद्यालय भवन का जो भाग तैयार हो चुका है, उसमें पीली ईंटों का धड़ल्ले से प्रयोग किया गया है। ग्रामीण कल्लू, विमला, रामलाल व दिलावर आदि ने बताया कि मसाले में मानक की लगातार अनदेखी की जा रही है। इसकी शिकायत उन्होंने कई बार विभागीय अधिकारियों से की, लेकिन कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया। नतीजा यह है कि कार्यदायी संस्था द्वारा भवन के निर्माण में बेधड़क होकर अनियमितता बरती जा रही है।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

बवाना कांड पर सियासत शुरू, भाजपा मेयर बोलीं- सीएम केजरीवाल को मांगनी चाहिए माफी

दिल्ली के औद्योगिक इलाके बवाना में शनिवार देर शाम अवैध पटाखा गोदाम में आग लगने से 17 लोगों की मौत के बाद अब इस पर सियासत शुरू हो गई है।

21 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper