दीवारें और छप्पर ढहने से सात की मौत

AmbedkarNagar Updated Wed, 19 Sep 2012 12:00 PM IST
अंबेडकरनगर। जिले में हो रही लगातार बारिश के बीच सोमवार देर रात्रि और मंगलवार तड़के दीवार व छप्पर ढहने के हुए अलग-अलग हादसों में सात लोगों की दबकर मौत हो गयी। दो हादसों में मां और बेटों की जान गई है। घटनाओं को लेकर जिले भर में हड़कंप है। राजनैतिक दल के लोगों व पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया, और पीड़ितों को हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया।
अकबरपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत कुर्की महमूदपुर निवासी सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता फ ौजदारी मंशाराम राजभर के पशुशाला का छप्पर बारिश के चलते मंगलवार तड़के 3 बजे करीब अचानक ढह गया। उसमें फंसे पशुओं को निकालने के लिए अधिवक्ता की पत्नी गेना देवी (40) वहां गयीं। तभी मिट्टी से जोड़ी गयी ईंट की दीवार भी अचानक ढह गयी। गेना उसकी चपेट में आ गयी। आनन-फानन में परिजनों ने उन्हें मलबे से बाहर निकाला, और जिला चिकित्सालय पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मंशाराम बसपा के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मंत्री रामअचल राजभर के अत्यंत करीबी हैं। सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में बसपा नेताओं व कार्यकर्ताओं का वहां जमावड़ा लग गया। दीवार गिरने की एक अन्य घटना सम्मनपुर थाना क्षेत्र के बरौली गोसाईं का पूरा में भी हुई। यहां देर तड़के करीब 3:30 बजे दीवार ढहने से रामजस (55) व उनकी पत्नी चंद्रावती (50) गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। जहां रामजस की हालत गंभीर है।
राजेसुल्तानपुर प्रतिनिधि के अनुसार थाना क्षेत्र के चाड़ीपुर खुर्द गांव में सोमवार रात्रि एक छप्पर के नीचे सो रही मंजा (58) पत्नी मंगरू व (22) वर्षीय पुत्र उमेश पर एक पड़ोसी के खाली पड़े पुराने घर की कच्ची दीवार गिर पड़ी। इससे वे दोनों उसमें बुरी तरह दब गये। परिवार के अन्य सदस्य बगल स्थित खपरैल के घर में सो रहे थे। आवाज सुन मौके पर पहुंचे परिवार के सदस्यों ने ग्रामीणों के सहयोग से मां-बेटे को मलबे से बाहर निकाला, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। घटना की सूचना पर ग्राम प्रधान दलसिंगार यादव, तहसीलदार आलापुर रामजीत मौर्य व थानाध्यक्ष सतीराम यादव मौके पर पहुंचे। एक अन्य घटना इसी थाना क्षेत्र के शिवराजपट्टी गांव में हुई। यहां 72 वर्षीय रामबहाल सोमवार रात्रि छप्पर के नीचे सो रहे थे। रात दो बजे करीब इन्हीं के घर की एक कच्ची दीवार ढहकर छप्पर पर गिर पड़ी। इससे रामबहाल उसमें दब गये। परिजन व ग्रामीण जब तक उन्हें निकालते तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। छप्पर के नीचे ही बंधी दो बकरियों की भी इस हादसे में मौत हो गयी। मंगलवार को विधायक भीमप्रसाद सोनकर, जिपं सदस्य अजीत यादव व धर्मराज यादव आदि ने गांव का दौरा कर परिजनों को ढांढस बंधाया।
आलापुर प्रतिनिधि के अनुसार थाना क्षेत्र के जठ्ठहवा गांव में रामनरायन के घर की कच्ची दीवार मंगलवार तड़के करीब 4 बजे ढह गयी। इसमें उसकी पत्नी दुर्गावती (42) व पुत्र अवधेश (13) की मलबे के नीचे दबकर मौत हो गयी। इस घटना में रामनरायन (45) पुत्री सीमा (16) व रीमा (18) को भी गंभीर चोटें आयी हैं। तीनों घायलों का निजी चिकित्सालय में इलाज कराया गया। पुलिस ने दोनों शव को अभिरक्षा में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसी थाना क्षेत्र के मलपुरा गांव में बिन्द्राज प्रजापति के घर की कच्ची दीवार भी सोमवार रात्रि ढह गयी। इसमें दबकर उसकी पत्नी कलावती (45) गंभीर रूप से घायल हो गयीं। उन्हें आजमगढ़ जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। वहीं टांडा व बसखारी प्रतिनिधि के अनुसार ग्राम बजदहिया पाईपुर में दलित बाबूराम की मां गुलाबा (55), पोती कांती (13) व पोते अवधेश (10) के साथ सो रही थी। बारिश के चलते मंगलवार तड़के करीब सवा चार बजे अचानक घर की कच्ची दीवार ढह गई। इसमें दबकर गुलाबा की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पोता-पोती गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी मिलने पर एसडीएम टांडा मनोज कुमार राय ने तहसीलदार राजेश सिंह को मौके पर भेजा। एसओ बसखारी बृजनंदन सिंह ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: कांग्रेस ने लहराया परचम, 24 में से 20 वॉर्ड पर कब्जा

मध्यप्रदेश के राघोगढ़ में हुए नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस को 20 वार्डों में जीत हासिल हुई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper