विज्ञापन
विज्ञापन

24 घंटे से अंधेरे में आधा जिला मुख्यालय

AmbedkarNagar Updated Mon, 17 Sep 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
अंबेडकरनगर। भूमिगत विद्युत केबल दगने से जिला मुख्यालय के आधे से अधिक हिस्से की विद्युत आपूर्ति 24 घंटे से भी अधिक समय से ठप है। इससे लगभग 25 हजार उपभोक्ताओं को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।। सबसे ज्यादा मुश्किल पेयजल को लेकर हुई। तमाम घरों में तो आवश्यक कामकाज निपटाने तक का संकट खड़ा हो गया। विद्युत चालित लघु उद्योग धंधों पर भी इससे प्रतिकूल असर पड़ा। उधर सुल्तानपुर जिले में अनुरक्षण कार्य के चलते समूचे अंबेडकरनगर जिले में प्रात: 10 बजे ठप की गई आपूर्ति देर सायं तक बहाल नहीं की जा सकी थी, जबकि इसे पांच बजे ही बहाल कर देने का वायदा किया गया था।
विज्ञापन
विज्ञापन
रविवार को सुल्तानपुर में आवश्यक मरम्मत कार्यों के चलते दिनभर विद्युत आपूर्ति ठप रहने के निर्णय से ठीक एक दिन पहले विद्युत केबल में आई गड़बड़ी ने जिला मुख्यालय के हजारों उपभोक्ताओं को गहरी मुसीबत में डाल दिया। सभी को यह जानकारी हो गई थी कि रविवार को दिन में बिजली नहीं रहनी है। ऐसे में शनिवार को बेहतर आपूर्ति मिलने पर इंवर्टर की क्षमता बचाए रखने तथा मोटर चलाकर पानी को एकत्र करने की योजना लगभग सभी उपभोक्ताओं ने बना रखी थी। उनकी इस उम्मीद को विद्युत लाइन में आई गड़बड़ी ने पूरी तरह तार-तार कर डाला। हुआ यह कि शनिवार रात आठ बजे करीब अकबरपुर नगर के रेलवे क्रासिंग के निकट भूमिगत केबल में खराबी आ गई। इससे अकबरपुर उपकेंद्र से दी जानी वाली आपूर्ति ठप कर गड़बड़ी की तलाश शुरू की गई। अधिशासी अभियंता व अवर अभियंता ने टीम के साथ गड़बड़ी दूर करने का प्रयास किया, लेकिन संभव नहीं हो पाया। कारण यह कि गड़बड़ी रेल लाइन के नीचे से होकर गुजरी केबल में थी।
ऐसे में पटेलनगर, शास्त्रीनगर, महानगर व बस स्टेशन क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति तो बहाल कर दी गई, लेकिन मुरादाबाद, विशेश्वर आश्रम क्षेत्र, रेलवे स्टेशन, मीरानपुर, तहसील तिराहा, फैजाबाद मार्ग, तमसा मार्ग, इंद्रलोक कॉलोनी, शहजहांपुर, सराफा मंडी व पंडाटोला आदि क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति ठप रही। रातभर बिजली न आने की जानकारी मिलते ही उपभोक्ताओं पर तो जैसे वज्रपात हो गया। उन्होंने सुबह कुछ देर के लिए बिजली मिलने की उम्मीद लगाई, लेकिन वह भी पूरी नहीं हो सकी। इसी बीच प्रात: दस बजते ही सुल्तानपुर से पूरे जिले की बिजली ठप कर दी गई। इस दौरान क्रासिंग के निकट विद्युत केबल को बदलने व गड़बड़ी दूर करने का प्रयास चलता रहा, लेकिन देर सायं तक कोई सफलता नहीं मिल पाई। उधर सुल्तानपुर से सायं पांच बजे विद्युत आपूर्ति बहाल करने का जो वायदा किया गया था, वह देर सायं तक पूरा नहीं हो पाया। नतीजतन समूचा जिला रात आठ बजे तक अंधेरे में ही डूबा रहा। पावर कॉरपोरेशन की इस वादाखिलाफी को लेकर उपभोक्ताओं में जबरदस्त आक्रोश दिखा। उपभोक्ताओं का कहना था कि पांच बजे तक बिजली देने का झूठा वादा आखिर क्यों किया गया। उपभोक्ताओं ने कहा कि एक तरफ सरकार तत्परतापूर्वक गड़बड़ी दूर करने का निर्देश देती है, तो दूसरी तरफ उसके अपने ही कारिंदे इन निर्देशों का पालन नहीं करते।

Recommended

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
Astrology

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
Astrology

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Ambedkar Nagar

ट्रिपलिंग में अज्ञात वाहन की टक्कर से वृद्धा की मौत, दो गंभीर

ट्रिपलिंग में अज्ञात वाहन की टक्कर से वृद्धा की मौत, दो गंभीर

25 मई 2019

विज्ञापन

संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी का संबोधन, लोकसभा चुनाव को बताया समाज को एक करने का जरिया

कैबिनेट गठन के लिए एनडीए की बैठक में पीएम मोदी का संबोधन। मोदी ने सहयोगी दलों से एकता से कार्य करने की अपील की।

25 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree