डॉन के भाई ने कराई थी हत्या

AmbedkarNagar Updated Tue, 28 Aug 2012 12:00 PM IST
अंबेडकरनगर। डॉन के भाई ने ही ईंट भट्ठा व्यवसायी ऐनुद्दीन की हत्या कराई थी। यह खुलासा हत्याकांड में शामिल अभियुक्त परवेज के पकड़े जाने के बाद हुआ है। तार खींचने एक विवाद में चुनौती देना ही डॉन के भाई खान मुबारक को नागवार गुजरा था। इसी के चलते उसने ऐनुद्दीन की हत्या की साजिश रची और उसे अंजाम भी दिला डाला। पुलिस ने परवेज का चालान करने के साथ ही फरार दूसरे अभियुक्त सतीश यादव की तलाश तेज कर दी है। हत्याकांड में डॉन के भाई को भी साजिश का मुल्जिम बनाया गया है। बताते चलें कि 14 अगस्त की रात ईंट भट्ठा व बस व्यवसायी ऐनुद्दीन की उस समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जब वे बाइक से अपने घर जा रहा था। इस मामले में अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई थी। घटना का खुलासा स्थानीय पुलिस नहीं कर पाई, तो एसपी गोविंद अग्रवाल ने इसमें एसओजी को भी लगा दिया। एसओजी टीम इलेक्ट्रानिक सर्विलांस के बूते अभियुक्तों तक पहुंचने में जुटी। इसमें उसे सफलता भी मिली। रविवार को सोनहन के निकट से एसओजी प्रभारी प्रशांत मिश्र व एसओ हंसवर सुशील यादव की संयुक्त टीम ने हत्या में शामिल एक अभियुक्त परवेज को गिरफ्तार कर लिया। उससे पूछताछ की गई, तो पता चला कि यह हत्या हंसवर थाना क्षेत्र के हरसम्हार निवासी मुंबई में डॉन के रूप में कुख्यात जफर सुपारी के भाई खान मुबारक ने कराई है। एसपी गोविंद अग्रवाल ने सोमवार को बताया कि टांडा में बीते दिनों बिजली का तार बदला जा रहा था।
उस दौरान खान मुबारक ने वहां पहुंचकर एक व्यक्ति को धमकाना शुरू किया। इसका ऐनुद्दीन ने कड़ा प्रतिवाद किया। इससे अपमानित हुए खान मुबारक ने उसी समय उसे अंजाम भुगतने की धमकी दी थी, लेकिन ऐनुद्दीन ने उसे गंभीरता से नहीं लिया। खान मुबारक व ऐनुद्दीन के बीच हुए विवाद के कई लोग प्रत्यक्षदर्शी भी हैं। एसपी ने बताया कि हत्या की घटना को परवेज के अलावा एक अन्य हंसवर निवासी सतीश यादव ने अंजाम दिया था। सतीश की तलाश की जा रही है। खान मुबारक को इस मामले में साजिश रचने का आरोपी बनाया गया है। वह इन दिनों फैजाबाद मंडल कारागार में निरुद्ध है। एसपी ने बताया कि सोमवार को परवेज का चालान कर दिया गया।

Spotlight

Most Read

Meerut

राहुल काठा की सुरक्षा में पेशी

राहुल काठा की सुरक्षा में पेशी

23 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper