विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी: पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों के खिलाफ कांग्रेसियों ने रिक्शा चला कर जताया विरोध

उत्तर प्रदेश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों को लेकर लखनऊ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया।

21 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रयागराज

बुधवार, 21 अगस्त 2019

आरपीएफ के आईजी पहुंचे, मालखाने का देखा हाल

रेलवे सुरक्षा बल नॉर्दर्न रेलवे के आईजी संजय संकर्तियान ने मंगलवार को प्रतापगढ़ थाने और मालखाने का निरीक्षण किया। आईजी के सामने फजीहत के भय से स्टेशन के अंदर और बाहर भारी फोर्स तैनात कर दी गई। जिससे सन्नाटा पसरा रहा। सवारियों को आज स्टैंड तक आने नहीं दिया गया।
सवारी भरने के लिए आने वाले वाहनों को दौड़ाया जाता रहा। इससे मुसाफिरों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। अवैध वेंडर, चरपहिया वाहन स्टैंड संचालक से लेकर कल तक टिकट लाइन में लगने वाले दलाल भी स्टेशन से दूरी बनाये रखने में आरपीएफ का सहयोग करते नजर आये।
पूर्व में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आईजी संजय सड़क मार्ग से प्रतापगढ़ आरपीएफ थाने पहुंचे। थाने का निरीक्षण करने के बाद वे मालखाने गये। करीब 15 मिनट के निरीक्षण में उन्हें सब कुछ ओके मिला। उसके बाद वे चले गये। आईजी के आगमन की तैयारी पहले से ही चल रही थी। सुबह से ही फोर्स लगा दी गई। परिसर में वाहनों को घुसने नहीं दिया गया।
जिससे बुजुर्ग, महिलाओं और विकलांग सवारियों को आने जाने में दिक्कतें आई। कुछ लोग थाने के सामने सिपाहियों की शिकायत लेकर आये थे उन्हें मिलने तक नहीं दिया गया। खास बात यह रही कि वेंडरों ने खिदमत में कोई कसर नहीं छोड़ी। रात से दिन हो गया मजाल थी कि कोई वेंडर इधर से उधर गया हो। जितने समय तक आईजी थाने पर रहे लोगों की सांसें अटकी रही। उनके जाते ही सब कुछ पहले जैसा हो गया। निरीक्षण के दौरान कमांडेंट लखनऊ अभिषेक भी मौजूद रहे।
अमृत फल का चखा स्वाद
आरपीएफ ने आईजी के स्वागत में प्रतापगढ़ के अमृत फल आंवला का उत्पाद रखा गया। लड्डू और बर्फी का स्वाद चखने के बाद वह आंवले के बारे में भी मातहतों से जानकारी करते रहे। हालांकि मीडिया को आईजी से मिलने नहीं दिया गया। ... और पढ़ें

रानीगंज तहसील जूनियर बार एसो. अध्यक्ष को स्कार्पियों ने रौंदा, मौत

लखनऊ-वाराणसी राजमार्ग पर कायस्थपट्टी गांव के पास स्कॉर्पियो ने बाइक से कचहरी आ रहे जूनियर बार एसोसिएशन रानीगंज तहसील के अध्यक्ष दिनेश पांडेय को को रौंद दिया। हादसे में दिनेश की मौत हो गई, जबकि बाइक पर पीछे बैठा मुवक्किल गंभीर रूप से घायल हो गया। परिवार के लोग पड़ोसियों पर दुर्घटना की साजिश रचने का संदेह जता रहे हैं।
फतनपुर थाना क्षेत्र के अमरई निवासी दिनेश पांडेय (48) पुत्र लालमणि पांडेय रानीगंज तहसील में गत दिनों जूनियर बार एसोसिएशन के निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए थे। वे ग्राम प्रधान भी रह चुके थे। मंगलवार दोपहर वह अपने गांव के ही मुवक्किल राजेंद्र विश्वकर्मा के मामले में पैरवी करने के लिए बाइक से दीवानी न्यायालय आ रहे थे। रानीगंज कोतवाली के कायस्थपट्टी पहुंचने पर पीछे से आई स्कार्पियो ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी, जिससे दिनेश और राजेंद्र सड़क पर गिर पड़े।
चालक वाहन रोकने के बजाए दिनेश को रौंदते हुए फरार हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि चालक ने जानबूझ कर दुर्घटना को अंजाम दिया। आसपास के लोग घायल अधिवक्ता व मुवक्किल को लेकर रानीगंज सीएचसी पहुंचे। वहां हालत गंभीर देख डाक्टरों ने दोनों को जिला अस्पताल भेज दिया, जहां डाक्टरों ने दिनेश को मृत घोषित कर दिया।
घटना की जानकारी मिलते ही एएसपी पूर्वी सुरेंद्र प्रसाद पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। अस्पताल में जूनियर बार एसोसिएशन, प्रतापगढ़ के अध्यक्ष लीलाधर दुबे, पूर्व महामंत्री जेपी मिश्र, विवेक शुक्ल, अयोध्यानाथ मिश्र, मनोज समेत बड़ी संख्या में अधिवक्ता पहुंच गए। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। एसओ रानीगंज ने बताया कि अभी तहरीर नहीं मिली है, स्कॉर्पियो चालक की तलाश की जा रही है।
रानीगंज क्षेत्र में सड़क हादसे में अधिवक्ता की बाइक पर बैठा घायल राजेन्द्र विश्वकर्मा।
रानीगंज क्षेत्र में सड़क हादसे में अधिवक्ता की बाइक पर बैठा घायल राजेन्द्र विश्वकर्मा।- फोटो : PRATAPGARH
सड़क हादसे में मृत अधिवक्ता दिनेश पांडेय। फाइल फोटो
सड़क हादसे में मृत अधिवक्ता दिनेश पांडेय। फाइल फोटो- फोटो : PRATAPGARH
सड़क हादसे में अधिवक्ता की मौत के बाद जिला अस्पताल मोर्चरी में जुटी भीड़।
सड़क हादसे में अधिवक्ता की मौत के बाद जिला अस्पताल मोर्चरी में जुटी भीड़।- फोटो : PRATAPGARH
रानीगंज क्षेत्र में सड़क हादसे में मृत अधिवक्ता दिनेश पांडेय के बिलखते परिजन।
रानीगंज क्षेत्र में सड़क हादसे में मृत अधिवक्ता दिनेश पांडेय के बिलखते परिजन।- फोटो : PRATAPGARH
... और पढ़ें

दो वर्ष में पूरी होगी एक शिक्षक भर्ती

दो वर्ष में पूरी होगी चयन बोर्ड की एक शिक्षक भर्ती
प्रयागराज। लंबे इंतजार के बाद उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने प्रदेश के सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में खाली शिक्षकों के पद भरने के लिए संभावित कैलेंडर जारी कर दिया है। चयन बोर्ड यदि इस कैलेंडर पर पूरी तरह अमल करेगा तो एक शिक्षक भर्ती (टीजीटी-पीजीटी) पूरी करने में ही उसे दो वर्ष का समय लग जाएगा। कैलेंडर के मुताबिक अक्तूबर महीने तक शिक्षक भर्ती के लिए विज्ञापन जारी हो सकता है। इस भर्ती में 25 हजार से अधिक शिक्षकों के पद शामिल होने का अनुमान है।
युवाओं को रोजगार देने के एजेंडे के साथ 2017 में सत्ता में आई योगी सरकार की यह माध्यमिक विद्यालयों के लिए पहली शिक्षक भर्ती होगी। इससे पूर्व में 2016 में सपा सरकार के समय में आई टीजीटी-पीजीटी भर्ती की परीक्षा फरवरी-मार्च 2019 में पूरी हो सकी। अभी तक चयन बोर्ड इस भर्ती परीक्षा की उत्तर कुंजी तक जारी नहीं कर सका है। प्रस्तावित कैलेंडर के हिसाब से अक्तूबर में शिक्षक भर्ती का विज्ञापन निकलेगा और 30 नवंबर तक आवेदन का मौका रहेगा। आवेदन पत्रों को वर्गवार सूचीबद्ध करने के बाद मई 2020 में लिखित परीक्षा कराई जाएगी। इसके लिए प्रवेश पत्र परीक्षा से 10 दिन पहले जारी किया जाएगा। नतीजा यूपी चुनाव के करीब दो महीने पहले आएगा। ... और पढ़ें

दो जगह से परीक्षा दी तो होंगे डिबार

पूर्व में हुई गड़बड़ियों के मद्देनजर कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने भर्ती परीक्षाओं में कई सख्त कदम उठाए हैं। आयोग ने कंबाइंड हायर सेकेंडरी लेवल-2016 (सीएचएसएल) टीयर-वन की दो जगह से परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों को तीन साल के लिए डिबार करने का निर्णय लिया है। आयोग ने परीक्षा में अवरोध उत्पन्न करने वालों को भी डिबार करने के साथ उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। ऑनलाइन परीक्षा सात जनवरी से शुरू होगी।

सीएचएसएल-2015 में 5792 ऐसे अभ्यर्थी थे जो दो जगह से परीक्षा में शामिल हुए थे। ऐसे अभ्यर्थियों को आयोग ने डिबार कर दिया था। अभ्यर्थियों की इस तरह की धांधली को देखते हुए सीएचएसएल-2016 के लिए इस बाबत नोटिस जारी किया गया है। इसके अलावा आयोग कंबाइंड ग्रेेजुएट लेवल (सीजीएल) में कई केंद्रों पर अभ्यर्थियों ने परीक्षा में व्यवधान पहुंचाने की कोशिश की थी। वे परीक्षा की वीडियोग्राफी कराने का विरोध कर रहे थे।

परीक्षा में व्यवधान की वजह से बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों ने दोबारा एग्जाम कराने की मांग की है। आयोग ने उनसे शिकायतें भी मांगी थीं। इस तरह की गड़बड़ियों पर अंकुश लगाने के लिए भी आयोग ने सख्त कदम उठाया है। आयोग ने निर्देश जारी किया है कि परीक्षा में व्यवधान उत्पन्न करने वालों का अभ्यर्थन निरस्त और डिबार करने के साथ उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी। ऐसी स्थिति में दोबारा परीक्षा भी नहीं कराई जाएगी। ... और पढ़ें
UPSSC UPSSC

37 लाख लेकर सोनाक्षी का कार्यक्रम नहीं कराना आयोजक को पड़ा भारी, गिरफ्तारी से राहत नहीं

हाईकोर्ट ने 37 लाख रुपये लेने के बाद भी बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा का कार्यक्रम नहीं कराने के आरोपी अभिषेक सिन्हा को गिरफ्तारी से राहत देने से इनकार कर दिया।

ये भी पढ़ें- रेलवे स्टेशन से बच्ची को लेकर शातिर महिला फरार, जांच में जुटी पुलिस

कोर्ट ने राहत देने का कोई आधार न पाने पर याचिका खारिज कर दी। याचिका पर न्यायमूर्ति प्रीतांकर दिवाकर और न्यायमूर्ति राजवीर सिंह की खंडपीठ ने सुनवाई की।

वादी प्रमोद शर्मा ने अभिषेक सिन्हा, सोनाक्षी सिन्हा, मालविका पंजाबी आदि के खिलाफ धोखाधड़ी व आपराधिक षड्यंत्र आदि की धाराओं में 22 फरवरी 2019 को कटघर थाने में केस दर्ज कराया था।

आरोप है कि वादी से अभिषेक सिन्हा ने सोनाक्षी सिन्हा का कार्यक्रम कराने के नाम पर 37 लाख लिए मगर, कार्यक्रम में कोई नहीं पहुंचा।
... और पढ़ें

यूपी में डीजे बजाने पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, ध्वनि प्रदूषण कानून के तहत होगी पांच साल की जेल

शादी-ब्याह, पार्टियों और त्योहारों पर तेज आवाज में डीजे बजाकर जश्न मनाना अब दुश्वार हो जाएगा। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने डीजे बजाने की अनुमति देने पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने कहा है बच्चों, बुजुर्गों और अस्पतालों में भर्ती मरीजों सहित मानव स्वास्थ्य के लिए ध्वनि प्रदूषण बड़ा खतरा है। कोर्ट ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को टीम बनाकर ध्वनि प्रदूषण की निगरानी करने और दोषियों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

प्रयागराज के सुशील चंद्र श्रीवास्तव की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश न्यायमूर्ति पीकेएस बघेल तथा न्यायमूर्ति पंकज भाटिया की खंडपीठ ने दिया है। कोर्ट ने कहा कि ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण कानून का उल्लंघन नागरिकों के मूल अधिकारों का उल्लंघन होगा। इसलिए सभी धार्मिक त्योहारों से पहले जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बैठक कर कानून का पालन सुनिश्चित कराएं। कोर्ट ने कहा कि ध्वनि प्रदूषण कानून का उल्लंघन करने पर पांच साल तक की कैद और एक लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है।

कोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिया कि ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण कानून के तहत अपराध की प्राथमिकी दर्ज की जाए। कानून का पालन कराने की जिम्मेदारी सभी संबंधित थानाध्यक्षों की होगी। कोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया कि वह प्रदेश के सभी शहरी इलाकों को औद्योगिक, व्यवसायिक और रिहायशी या साइलेन्स जोन के रूप में श्रेणीबद्ध करें। कोर्ट ने जिलाधिकारी को ध्वनि प्रदूषण की शिकायत सुनने वाले अधिकारी का फोन नंबर सहित अन्य ब्यौरा सार्वजनिक स्थलों पर सूचना बोर्ड लगाकर देने का निर्देश दिया है। शिकायत के लिए टोल फ्री नंबर जारी करने को कहा है। कोर्ट ने कहा कि कोई भी व्यक्ति ध्वनि प्रदूषण की शिकायत कर सकता है। हर शिकायत रजिस्टर पर दर्ज की जाए, साथ ही इस पर की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भी दर्ज हो।
... और पढ़ें

बेसिक शिक्षा परिषद ने शासन को भेजा नियुक्ति का प्रस्ताव

41556 अभ्यर्थियों में शामिल होने के बाद नियुक्ति से वंचित का नाम भी नियुक्ति की सूची में शामिल
कोर्ट के आदेश पर दोबारा मूल्यांकन के बाद भी सचिव परीक्षा नियामक के लेट लतीफी से फंसी नियुक्ति
प्रयागराज। प्रदेश केपरिषदीय विद्यालयों में 68500 सहायक अध्यापक भर्ती में कोर्ट के आदेश के बाद सफल घोषित नौ अभ्यर्थियों की नियुक्ति का प्रस्ताव शासन के पास भेज दिया गया है। सचिव बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से दोबारा मूल्यांकन के बाद सफल अनिरूद्घ नारायण शुक्ला सहित अन्य नौ अभ्यर्थियों की नियुक्ति का प्रस्ताव शासन के पास भेज दिया गया है। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से दोबारा मूल्यांकन में सफल अभ्यर्थियों की सूची भेजने में देरी के चलते इन अभ्यर्थियों की नियुक्ति नहीं हो पा रही थी। अब सचिव बेसिक परिषद की ओर से नियुक्ति का प्रस्ताव भेजे जाने के बाद साल भर से कोर्ट और कार्यालय का चक्कर लगा रहे अभ्यर्थियों को राहत मिलेगी।
सचिव बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से दोबारा मूल्यांकन में सफल अभ्यर्थियों के साथ 68500 शिक्षक भर्ती के पदों के सापेक्ष सफल 41556 अभ्यर्थियों में निवास प्रमाण पत्र और किसी अन्य कारण से नियुक्ति पाने से वंचित रह गए चयनित शिक्षकों की नियुक्ति का प्रस्ताव भी शासन के पास भेज दिया गया है। सचिव बेसिक शिक्षा परिषद रूबी सिंह की ओर से इस बारे में कहा कि इन अभ्यर्थियों को पूर्व में आवंटित जिले में ही नियुक्ति दी जाए। 68500 शिक्षक भर्ती के परिणाम घोषित होेने की तिथि 13 अगस्त के एक वर्ष बाद भी सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की लेट-लतीफी के चलते इन अभ्यर्थियों को अभी नियुक्ति नहीं मिल सकी।
हाईकोर्ट की ओर से बार-बार आदेश के बाद भी सचिव परीक्षा नियामक की ओर से परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों के अंक बेसिक शिक्षा परिषद को उपलब्ध नहीं कराने के चलते नियुक्ति प्रक्रिया फंस गई। परिषदीय स्कूलों के लिए पहली बार सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से लिखित परीक्षा कराई गई, परीक्षा में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी के चलते परीक्षा में पास होने के बाद लगभग चार हजार अभ्यर्थियों को चयन से बाहर कर दिया। कोर्ट के आदेश पर दोबारा मूल्यांकन के बाद इन अभ्यर्थियों को नौकरी मिल सकी जबकि कोर्ट के आदेश के बाद मूल्यांकन में सफल होने के बाद भी सचिव परीक्षा नियामक की मनमानी के चलते कोर्ट के आदेश के बाद भी अनिरूद्घ शुक्ला सहित अन्य को भटकना पड़ा। एक अगस्त को 15 दिन के भीतर इन अभ्यर्थियों का अंकपत्र बेसिक शिक्षा परिषद को उपलब्ध कराने के कोर्ट के आदेश के बाद भी सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी 19 अगस्त को इन परीक्षार्थियों के अलग-अलग अंक बेसिक शिक्षा परिषद को भेज सके। ... और पढ़ें

जयंती पर राजीव गांधी का भावपूर्ण स्मरण

शक्तिशाली राष्ट्र के नायक के तौर पर हमेशा याद आएंगे राजीव गांधी
प्रयागराज। भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती मंगलवार को सद्भावना दिवस के रूप में मनाई गई। इस दौरान पुष्पांजलि के साथ जगह-जगह उनका भावपूर्ण स्मरण किया गया। श्रद्धांजलि सभा में नेताओं ने कहा कि राजीव को 21वीं सदी के शक्तिशाली व विकसित राष्ट्र के नायक के तौर पर हमेशा याद किया जाता रहेगा। इसके बाद अस्पतालों व आश्रमों में दिव्यांगों, बेसहारा मरीजों को फल व मिठाई बांटी गई।
आनंद भवन में सुबह 10 बजे कांग्रेसियों ने राजीव गांधी के चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान पर विस्तार से चर्चा की। पूर्व महापौर जितेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने आर्थिक विकास और सामाजिक परिवर्तन का क्रांतिकारी कदम उठाया था। प्रदेश उपाध्यक्ष रामयज्ञ द्विवेदी ने युवाओं, महिलाओं को अधिकार संपन्न बनाने की उनकी चिंता का जिक्र किया। इस मौके पर फुजैल हाशमी, तस्लीमउद्दीन, संजय तिवारी, हरिकेश त्रिपाठी, प्रदीप अंशुमान, मुकुंद तिवारी, परवेज सिद्दीकी, रजिया सुल्तान, अनिल पांडेय, विवेकानंद पाठक, डीएस मणि त्रिपाठी, कामेश्वर सोनकर समेत तमाम लोग उपस्थित थे। संचालन प्रदेश प्रवक्ता किशोर वार्ष्णेय ने किया। अध्यक्षता नफीस अनवर ने की। इसी तरह अल्पसंख्यक कांग्रेस कमेटी की ओर से जयंती के उपलक्ष्य में महानगर अध्यक्ष अरशद अली की मौजूदगी में करेली स्थित गौशिया मदरसे में गरीब बच्चों को कापी, पेन का वितरण किया। राजीव गांधी पंचायती राज संगठन की ओर से भी चित्र पर माल्यार्पण किया गया। इस मौके पर हरदेव सिंह, इरशाद उल, शुभम शुक्ला समेत तमाम लोग उपस्थित थे। प्रीतम नगर में उपाध्यक्ष मोहम्मद असलम की उपस्थिति में विचार गोष्ठी हुई। किसान कांग्रेस के कोआर्डिनेटर सुशील तिवारी, जितेंद्र तिवारी समेत कई नेताओं ने जयंती पर राजीव गांधी को याद किया। ... और पढ़ें

यूपी बोर्ड: हाईस्कूल, इंटरमीडिएट में 55 लाख आवेदन

Rajiv Gandhi Birthday
2019 की अपेक्षा कम आवेदन के चलते बढ़ सकती है आवेदन की तिथि
प्रयागराज। यूपी बोर्ड परीक्षा 2020 के आवेदन के अंतिम दिन सोमवार तक हाईस्कूल में 29 लाख एवं इंटरमीडिएट में कुल 26 लाख छात्र-छात्राओं ने आवेदन किए। इस वर्ष कुल 55 लाख आवेदन किए गए। हालांकि, यह संख्या 2019 के कुल आवेदन 57.88 लाख से 2.88 लाख कम है। गतवर्ष की अपेक्षा इस बार कम आवेदन के चलते बोर्ड की ओर से हाईस्कूल-इंटरमीडिएट परीक्षा के आवेदन की तिथि 20 अगस्त से आगे बढ़ाई जा सकती है। यूपी बोर्ड के आंकड़ों को देखा जाए तो हाईस्कूल में 29 लाख और इंटरमीडिएट में 26 लाख अभ्यर्थी पंजीकृत हुए हैं, जबकि पिछले वर्ष नौवीं और ग्यारहवीं में क्रमश: 29.99 लाख एवं 23.60 लाख पंजीकृत हुए थे। इस प्रकार हाईस्कूल में अभी पांच लाख कम अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं, जबकि इंटरमीडिएट में 23.60 लाख से अधिक आवेदन आए हैं। ... और पढ़ें

जलकल कर्मी कर रहे ठेकेदारी, अभिलेख तलब

प्रयागराज। जलकल विभाग में अधिकांश कर्मचारी अप्रत्यक्ष रूप से ठेकेदारी में लिप्त हैं। कर्मचारियों के नौकरी के साथ कारोबार किए जाने से विभाग को भारी चपत लग रही है। मरम्मत कार्यों और मौके पर लगने वाले सामान, उपकरण का विवरण कहीं दर्ज नहीं है। इस तरह की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए महापौर ने जांच के निर्देश दिए हैं। उन्होंने टेंडर और पंजीकरण संबंधी अभिलेख तलब किए हैं।
जलकल विभाग में वसूली कम और खर्च करोड़ों में है। हर महीने विभिन्न मदों में करीब 3.5 करोड़ रुपये व्यय किए जाते हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि शहर में शुद्ध जलापूर्ति बनाए रखने, सीवर लाइन और लीकेज दुरुस्त करने, आउटसोर्सिंग के नाम पर हर महीने करीब 80 करोड़ रुपये खर्च किए जाते हैं, फिर भी शहरियों को साफ पानी नहीं मिल रहा है।
महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी के मुताबिक जलकल विभाग में सभी आउटसोर्सिंग कर्मचारी अब डूडा से लिए जाएंगे। ठेकेदारी और मरम्मत कार्यों में गड़बड़ी की तमाम शिकायतें आई हैं। उन्होंने बताया कि महाप्रबंधक को इस वित्तीय वर्ष में ठेकेदारों के पंजीकरण और फर्म संबंधी सभी मूल पत्रावलियां अवलोकनार्थ प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही मरम्मत कार्य में लगने वाली सभी वस्तुओं की मुख्यालय में इंट्री करने के बाद ही निर्गत करने को कहा गया है।
महीने में दो दिन जलकल मुख्यालय में बैठेंगी महापौर
जलकल विभाग की व्यवस्था सुधारने को अध्यक्ष महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी अब महीने की एक और 15 तारीख को जलकल मुख्यालय में बैठेंगी। वहां कर्मचारियों से सीधी संवाद कर जलापूर्ति और मरम्मत कार्यों के बारे में भी जानकारी लेंगी। ... और पढ़ें

कतार में तीन पीसीएस परीक्षाएं, घटेंगे मौके

प्रयागराज। तीन पीसीएस परीक्षाएं कतार में हैं और इन परीक्षाओं का अंतिम परिणाम कब आएंगे, इसे लेकर उहापोह की स्थिति बनी हुई है। ऐसे में स्पर्धा बढ़ने जा रही है और बरोजगारों के लिए रोजगार के अवसर भी घटेंगे। हालांकि उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष डॉ. प्रभात कुमार ने वर्ष 2019 और 2020 का परीक्षा कैलेंडर एक साथ जारी करते हुए सुधार की दिशा में एक कदम बढ़ाया है लेकिन अभी इस पर अमल शुरू नहीं हो सका है।
पीसीएस-2017 की मुख्य परीक्षा का परिणाम लंबित है। मुख्य परीक्षा पिछले साल जून-जुलाई में आयोजित की गई थी। एक साल से अधिक समय बीत चुका है और आयोग में कॉपियां जांचे जाने का काम अब तक पूरा नहीं हो सका है। वहीं, आयोग के कैंलेंडर में इस साल 18 अक्तूबर से पीसीएस-2018 की मुख्य परीक्षा प्रस्तावित है जबकि पीसीएस-2019 की प्रारंभिक परीक्षा कैलेंडर में 15 दिसंबर को प्रस्तावित है। कतार में तीन पीसीएस परीक्षाएं हैं जबकि इसके विपरीत संघ लोक सेवा आयोग एक सिविल सेवा परीक्षा पूरी कराने के बाद दूसरी परीक्षा शुरू कराता है। ऐसे में जिन अभ्यर्थियों का अच्छे पदों पर चयन हो जाता है, वे अमूमन अगली परीक्षा में शामिल नहीं होते हैं।
अगर पीसीएस-2018 की मुख्य परीक्षा के आयोजन से पहले पीसीएस 2017 की चयन प्रक्रिया पूरी नहीं होती है तो ऐसे अभ्यर्थियों को पीसीएस-2018 में नुकसान उठाना पड़ सकता है जो बहुत कम अंकों के अंतर से छंट जाते हैं। प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के मीडिया प्रभारी अवनीश पांडेय का कहना है कि आयोग को लंबित परीक्षाओं में पीसीएस को प्राथमिकता देनी चाहिए। अवनीश ने आयोग के अध्यक्ष से मांग की है कि परीक्षा का आयोजन समय से पूरा कराया जाए और इसके बाद अगली परीक्षा कराई जाए ताकि अधिक से अधिक प्रतियोगी छात्रों को मौका मिल सके। ... और पढ़ें

छात्रसंघ बहाली मु्द्दे पर 15 छात्र गिरफ्तार

प्रयागराज। इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) में छात्रसंघ बहाली के मुद्दे पर मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ। पुलिस ने छात्रसंघ के सामने से 15 छात्र नेताओं को गिरफ्तार कर लिया और सभी को कैंट थाने ले जाया गया। हालांकि दिनभर थाने में बैठाकर रखने के बाद शाम को सभी छात्र नेताओं को पुलिस ने छोड़ दिया।
इविवि में छात्र परिषद के विरोध और छात्रसंघ बहाली की मांग को लेकर सुबह से ही छात्रसंघ भवन के सामने छात्रों की भीड़ जुटने लगी थी। मंगलवार को विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग में विधानसभा अध्यक्ष ह्दय नारायण दीक्षित भी एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आए थे। ऐसे में वहां सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। हालांकि, छात्र नेताओं ने विधानसभा अध्यक्ष से मिलने के लिए औपचारिक रूप से कोई घोषणा नहीं की थी लेकिन, इविवि प्रशासन के आशंका थी कि छात्रों के इस आंदोलन से कार्यक्रम में व्यवधान उत्पन्न हो सकता है। ऐसे में पुलिस को भी पहले से सूचना दे दी गई थी।
छात्र नेता जैसे ही छात्रसंघ भवन के सामने पहुंचे, वहां मौजूद जिला प्रशासन एवं पुलिस के अफसरों ने छात्र नेताओं से उठने के लिए कहा। इस बीच चीफ प्रॉक्टर प्रो. रामसेवक दुबे भी वहां पहुंच गए। चीफ प्रॉक्टर और छात्र नेताओं के बीच तीखी झड़प हो गई और कुछ देर बाद पुलिस ने वहां मौजूद छात्रसंघ के निवर्तमान अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव, महामंत्री शिवम सिंह, उपाध्यक्ष अखिलेश यादव, संयुक्त मंत्री सत्यम सिंह सनी, पूर्व अध्यक्ष दिनेश सिंह यादव, पूर्व उपाध्यक्ष विक्रांत सिंह, अदील हमजा, समाजवादी छात्रसभा के जिलाध्यक्ष अखिलेश गुप्ता गुड्डू, छात्र नेता अजय सिंह सम्राट, सत्यम कुशवाहा, अनुभव सिंह, आनंद सेंगर, दुर्गेश सिंह, सौरभ सिंह बंटी और अतेंद्र सिंह को हिरासत में ले लिया।
सभी छात्र नेताओं को कैंट थाने ले जाया गया और दिनभर बैठाए जाने के बाद देर शाम सभी को छोड़ दिया गया। निवर्तमान उपाध्यक्ष अखिलेश यादव का कहना है कि छात्र इस तरह की कार्रवाई से पीछे नहीं हटने वाले। बुधवार को सभी छात्र फिर से छात्रसंघ भवन के सामने इकट्ठा होंगे और मुंडन संस्कार के माध्यम से अपना विरोध दर्ज कराएंगे। ... और पढ़ें

पीएचडी प्रवेश में धांधली का आरोप, सौंपा ज्ञापन

प्रयागराज। स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) के सदस्यों ने हिंदी विभाग में पीएचडी प्रवेश में अनियमितता का आरोप लगाते हुए मंगलवार को विभागाध्यक्ष, प्रवेश निदेशक एवं डीन को ज्ञापन दिया।
एसएफआई ने सवाल उठाए कि जब क्रेट के नियमों के तहत 45 फीसदी एवं 50 फीसदी वाले ही साक्षात्कार के लिए योग्य है तो क्यों सभी जेआरएफ अभ्यर्थियों को बुलाया जा रहा है। छात्र सुधरीर ने कहा कि हम इसका विरोध करते हैं और मांग करते हैं कि प्रवेश नियमों के अनुसार किया जाएगा। कहा कि अगर ऐसा नहीं होता छात्र आंदोलन करेंगे और न्यायालय की शरण में जाएंगे। ज्ञापन देने वालों में विकास, शिवानी, परणिता, हर्ष, रवि,शुभम, आलोक, रजनीश आदि शामिल रहे। ... और पढ़ें

सीजीएल-2018 टियर-1 में 1.74 लाख सफल

प्रयागराज। कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने चार से 13 जून एवं 19 जून को हुई संयुक्त स्नातक स्तरीय (सीजीएल) परीक्षा-2018 टियर-1 का परिणाम घोषित कर दिया है। आयोग की ओर से पहले चरण की ऑनलाइन परीक्षा में देश भर में कुल 836139 अभ्यर्थी शामिल हुए थे। आयोग की ओर से पहले चरण की परीक्षा के बाद दूसरे चरण की परीक्षा के लिए कुल मिलाकर 174136 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। आयोग की ओर से जारी परिणाम में फाइनेंस एवं एकाउंट सेवा के लिए 15162 अभ्यर्थी, सांख्यिकी सेवा के लिए कुल 8578 और पेपर-1 और पेपर-2 के लिए कुल 150396 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। पहले चरण की लिखित परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों की दूसरे चरण की टियर-2 परीक्षा 11 से 13 सितंबर के बीच होगी।
जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर परीक्षा की तिथि बदली
प्रयागराज। कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर, जूनियर ट्रंालेटर, सीनियर हिंदी ट्रांसलेटर की 20 अगस्त से होने वाली परीक्षा आगे बढ़ा दी है। आयोग की ओर से नई परीक्षा की तिथि 27 अगस्त को जारी की जाएगी। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree