कुंभ मेले में वीआईपी बनेंगे मुसीबत

इलाहाबाद/ब्यूरो Updated Mon, 12 Nov 2012 11:39 AM IST
vip will create problems in kumbh mela
कुंभ मेले में वीआईपी का आगमन अफसरों के गले की हड्डी बन गया है। एक तरफ मेला प्रशासन की ओर से शासन को प्रस्ताव भेजकर अपील की जा रही है कि प्रमुख स्नान पर्वों पर वीआईपी शहर न आएं तो दूसरी ओर वीआईपी के जोरदार स्वागत के लिए तमाम इंतजाम भी किए जा रहे हैं। कुंभ के दौरान शहर में एक साथ करोड़ों लोगों की भीड़ पहुंचेगी और इनमें बड़ी संख्या में वीआईपी भी शामिल होंगे।

ज्यादा संख्या में वीआईपी लोगों के आने के अनुमान से ही अफसरों की नींद उड़ गई है, क्योंकि अव्यवस्था से वीआईपी नाराज हुआ तो अफसरों की खैर नहीं, सो उनके स्वागत के विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं। सर्किट हाउस में ज्यादा से ज्यादा लोगों के ठहरने का इंतजाम किया जा सके, इसके साथ ही वीआईपी की अन्य सुविधाओं के लिए अलग से प्रस्ताव तैयार कर उसे शासन के जरिये केंद्र सरकार को भेजा गया है। वीआईपी के आवागमन के लिए लग्जरी वाहन खरीदने का भी प्रस्ताव है तोगंगा-यमुना के तट पर मोटरबोट और नाव भी आरक्षित किए जाने की योजना है।

इनोवा, स्कार्पियो से चलेंगे वीआईपी
एडीएम सिटी की ओर से भेजे गए प्रस्ताव में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम इलाहाबाद के पास महज छह टैक्सियां हैं। जरूरत पड़ने पर अन्य जनपदों से टैक्सियां मंगाई जाती हैं। कभी टैक्सी नहीं मिलती तो बाहर से टैक्सी मंगाने पर ज्यादा किराया देना पड़ता है, सो इसके लिए एक-एक इनोवा एवं स्कार्पियो वाहन खरीदने का प्रस्ताव है। इसके अलावा प्रस्ताव में कुंभ मेले के दौरान शहर आने वाले वीआईपी लोगों को बम्हरौली हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन एवं बस अड्डे से रिसीव करने के लिए पांच नायब तहसीलदारों एवं पांच लेखपालों को जिम्मेदारी देने का भी जिक्र है। प्रस्ताव में यह सुनिश्चित करने की भी मांग की गई है कि वीआईपी पर होने वाले व्यय से संबंधित बिल या रसीद प्रस्तुत करने पर किस पटल से खर्च की प्रतिपूर्ति होगी, यह तय कर दिया जाए।

हर होटल में आरक्षित होंगे दो कमरे
सर्किट हाउस में कुल 23 कमरे उपलब्ध हैं जबकि कुंभ के दौरान वीआईपी लोगों की संख्या इससे कई गुना ज्यादा होने का अनुमान है। ऐसे में सर्किट हाउस में सबको कमरे उपलब्ध करा पाना मुमकिन नहीं होगा, सो प्रस्ताव रखा गया है कि पर्यटन विभाग के माध्यम से शहर के सभी बड़े एवं प्रमुख होटलों में दो-दो कमरे आरक्षित करा लिए जाएं। इन कमरों का उपयोग होटल स्वामी प्रोटोकॉल अनुभाग की आवश्यकता के बारे में पूछने के बाद ही करें। साथ ही सभी होटलों की रेंट अथवा टैरिफ की सूची मेले की वेबसाइड पर अपलोड कर दी जाए।

सर्किट हाउस में होंगे अस्थायी निर्माण
वीआईपी लोगों के साथ उनका स्टाफ भी चलता है, सो स्टाफ के लोगों को भी ठहराने की जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। प्रस्तावित योजना के तहत स्टाफ के लिए सर्किट हाउस की डॉरमेट्री में लकड़ी की दीवार लगाकर अस्थायी तौर पर उसके कमरों में तब्दील कर दिया जाए। साथ ही स्टाफ सुरक्षा उपकरण एवं अन्य वस्तुएं रखने के लिए स्टील की अलमारी रखवा दी जाए और एसी एवं ब्लोवर की व्यवस्था भी कर दी जाए।

मोटर बोट, जीवन रक्षक उपकरण भी मांगे
प्रमुख स्नान पर्वों पर मेला क्षेत्र में वाहन प्रतिबंधित कर दिए जाते हैं, सो वीआईपी लोगों को मेला क्षेत्र तक पहुंचाने के लिए नए यमुना पुल के पास मोटर बोट एवं पर्याप्त संख्या में नौकाएं उपलब्ध कराने का प्रस्ताव रखा गया है। साथ ही जीवन रक्षक उपकरण भी मांगे गए हैं। धार्मिक प्रवृत्ति वाले कई वीआईपी सार्वजनिक वाहनों से मेला क्षेत्र के नजदीक तक जाते हैं। ऐसी दशा में उन्हें वाहन चालकों की ठगी से बचाने के लिए टैंपो-टैक्सी स्टैंड पर किराये की सूची लगाने का प्रस्ताव दिया गया है।

Spotlight

Most Read

Rohtak

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

जीएसटी विभाग ने ई-वे बिल को लेकर जांच किया अवेयरनेस कैंपेन

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए उमड़े लाखों श्रद्धालु

मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए लाखों श्रद्धालु इलाहाबाद पहुंच चुके हैं। संगम तट पर चल रहे माघ मेले के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper