लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Prayagraj News ›   Reservation has spoiled the game some will make wife fight

Prayagraj Nagar Nigam : आरक्षण ने बिगाड़ा खेल, कोई लड़वाएगा पत्नी, तो कोई बहू, सपा नेताओं ने बताया साजिश

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज Published by: विनोद सिंह Updated Sat, 03 Dec 2022 12:18 AM IST
सार

Prayagraj Nagar Nigam : शुक्रवार की शाम को जारी आरक्षण सूची ने समाजवादी पार्टी के पार्षदों को ज्यादा चौंकाया हैं। सपा के वरिष्ठ पार्षद अतहर रजा लाडले की सीट को महिला कर दिया गया है। हालांकि लाडले ने इसे साजिश बताया है।

Prayagraj News :  नगर निगम प्रयागराज।
Prayagraj News : नगर निगम प्रयागराज। - फोटो : अमर उजाला।
विज्ञापन

विस्तार

नगर निकाय चुनाव से पहले शुक्रवार को संभावित आरक्षण सूची जारी होने के बाद कई वार्डों की स्थिति में व्यापक बदलाव हो गया। इससे लंबे समय से पार्षद बनने का ख्वाब देख रहे कई दावेदार मायूस भी हो गए हैं। चुनाव  के आरक्षण में व्यापक बदलाव का ही असर है कि कई पार्षदों की अनारक्षित सीट या तो आरक्षित हो गई, या फिर महिला सीट में बदल गई। इसने चुनाव का समीकरण भी बदल कर रख दिया। 




शुक्रवार की शाम को जारी आरक्षण सूची ने समाजवादी पार्टी के पार्षदों को ज्यादा चौंकाया हैं। सपा के वरिष्ठ पार्षद अतहर रजा लाडले की सीट को महिला कर दिया गया है। हालांकि लाडले ने इसे साजिश बताया है। यह भी कहा कि जानबूझकर उनकी सीट का आरक्षण बदला गया। हालांकि उन्होंने कहा कि वह अपनी छोटी बहू को चुनावी समर में उतारेंगे। सपा के ही चकिया से कई बार पार्षद रह चुके मोहम्मद आजम की सीट को भी आरक्षण में महिला कर दिया गया है।

इसी प्रकार सपा के कुछ अन्य पार्षदों की सीटों में भी नई आरक्षण सूची में बदलाव किया गया है। ऐसे में सपा नेताओं का आरोप है कि पार्टी नेताओं के समीकरण को बिगाड़ने के लिए इस प्रकार से परिवर्तन किया गया है। इससे सदन में सपा को मजबूत होने से रोकने की तैयारी की जा रही है। वर्तमान में नगर निगम में समाजवादी पार्टी के कुल 24 पार्षद हैं।  


कांग्रेस के पार्षदों ने भी आरक्षण सूची में किए गए बदलाव को देखते हुए अपने वार्ड में चुनाव लड़ने की रणनीति में बदलाव की तैयारी शुरू कर दी है। ताकि मिनी सदन में उनकी दावेदारी बनी रहे। कांग्रेेस नेता और मेंहदौरी से पार्षद मुकुंद तिवारी का कहना है कि उनकी सीट महिला की गई है। ऐसे में वह अपनी पत्नी को इस बार चुनावी मैदान में उतारेंगे। 

कुछ भाजपा पार्षद भी हुए प्रभावित

दूसरी तरफ भाजपा के ज्यादातर पार्षदों की सीटों में कोई खास बदलाव नहीं किया गया है। नई आरक्षण सूची के मुताबिक भाजपा से पार्षद दीपक कुशवाहा की हरवारा सीट पहले ओबीसी थी, जो इस बार हुए बदलाव के बाद अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हो गई है। इसी प्रकार प्रीतम नगर वार्ड में भी बदलाव करते हुए उसे महिला कर दिया गया है। अभी तक इस वार्ड से सरदार अमरजीत सिंह पार्षद हैं। जयंतीपुर वार्ड भी पहले ओबीसी था, इसमें बदलाव करते हुए उसे एससी कर दिया गया है।  पुराना कटरा के पार्षद आनंद अग्रवाल की सीट भी महिला हो गई है। हालांकि आनंद ने कहा कि उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। उनकी पत्नी सोनिका अग्रवाल चुनाव लड़ेंगी। वह पहले भी इस वार्ड से पार्षद रह चुकी हैं।

कई वरिष्ठ पार्षदों की सीट में कोई बदलाव नहीं 
नगर निगम द्वारा जारी की गई आरक्षण सूची में कई वरिष्ठ पार्षद की सीट में कोई बदलाव नहीं हुआ है। ऐसे में वे इस बार भी चुनावी रण में अपनी ताल ठोंक सकते हैं। अलोपीबाग से कमलेश सिंह, इसी तरह से राजरूपपुर और ओमप्रकाश सभासद नगर के पार्षद भाई अखिलेश सिंह, मिथिलेश सिंह की सीट में भी बदलाव नहीं हुआ है। भाजपा पार्षद किरण जायसवाल की भी सीट में बदलाव नहीं किया गया है। 


 

वार्डों के आरक्षण की स्थिति देखने के लिए यहां क्लिक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00