विज्ञापन

पुलिस-प्रदर्शनकारियों में नोकझोंक, सीएम का पुतला फूंका

अमर उजाला ब्यूरो, इलाहाबाद Updated Wed, 14 Feb 2018 01:46 AM IST
इलाहाबाद
इलाहाबाद - फोटो : अमर उजाला ब्यूरो, इलाहाबाद
विज्ञापन
ख़बर सुनें
एलएलबी द्वितीय वर्ष के छात्र दिलीप कुमार सरोज की निर्मम हत्या के विरोध में सोमवार को बालसन चौराहे पर गांधी प्रतिमा के समक्ष अनशनकारी छात्रों और पुलिस के जवानों में जमकर नोकझोंक हुई। छात्रों के तीखे तेवर के आगे पुलिस को पीछे हटना पड़ा। पुलिस गांधी प्रतिमा के समक्ष अनशन नहीं करने देना चाहती थी, लेकिन सरकार विरोधी नारे लिखी तख्तियां लेकर छात्रों ने जमकर नारेबाजी की। क्रमिक अनशन शुरू कर दिया गया। इस बीच, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ भवन के सामने पुलिस की मौजूदगी के बीच छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला जलाया। प्रदर्शनकारियों ने केंद्र-प्रदेश की सरकारों पर कानून-व्यवस्था का ढिंढोरा पीटने का आरोप मढ़ा। कहा कि भाजपा सरकार में दलित-पिछड़ा वर्ग की बात करने वाले लोग सुरक्षित नहीं हैं। आंदोलन को धार देने के लिए गठित ज्वाइंट एक्शन कमेटी की देर शाम तक चली बैठक में कहा गया कि दिलीप के कातिल को नहीं पकड़ा गया और आश्रितों को न्याय नहीं दिलाया गया तो ईंट से ईंट बजा दी जाएगी।
विज्ञापन
समाजवादी छात्र सभा, दिशा छात्र संगठन, नौजवान भारत सभा के अलावा अन्य स्टूडेंट यूनियन से जुड़े छात्र-छात्राओं का हुजूम नारेबाजी करते हुए सुबह 10 बजे बालसन चौराहे पर पहुंचा। वहां पहले से तैनात पुलिस उनको खदेड़ने की कोशिश करने लगी लेकिन छात्र अड़ गए। पुलिस का कहना था कि वह बालसन चौराहे के अलावा कहीं और जाकर धरना दें लेकिन आक्रोशित छात्र वहीं गांधी प्रतिमा के सामने योगी सरकार के विरोध में नारेबाजी करने लगे। छात्रों के जमावड़ा को देखते हुए कर्नलगंज के अलावा जार्ज टाउन, कैंट थाने की पुलिस के साथ पीएसी और आरएएफ बुला ली गई।

सीओ कर्नलगंज ने वार्ता कर छात्रों को समझाने की कोशिश की, लेकिन प्रदर्शनकारियों का कहना था कि दिलीप के हत्यारे को पकड़ने में पुलिस नाकाम रही है। देश-प्रदेश में दलित-पिछड़ों पर ही चुन-चुन कर हमले हो रहे हैं। दिलीप के हत्यारों को सजा दिलाकर ही चैन लिया जाएगा। यहां हुई सभा में छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष अजीत यादव, विवेकानंद पाठक, पूर्व उपाध्यक्ष आदिल हमजा शाहिल, ऋचा सिंह, अभिषेक यादव, निधि यादव, सतीश यादव, गोलू , अंजलि, राकेश, अमित, सुनील मौर्या, लल्ला राम सरोज, अतुल पासी, राघवेंद्र यादव, भरत सिंह, उदय प्रकाश, राहुल क्रांति, बच्चा पासी, चंद्रशेखर चौधरी, दिनेश चौधरी, विकास भारतीय, धनराज ने दिलीप के कातिलों को सजा दिलाने के लिए छात्रों से एकजुटता का आह्वान किया।   

- दिलीप के मुख्य हत्यारोपी टीटीई विजय शंकर सिंह की शीघ्र गिरफ्तारी हो
-आश्रित परिवार को 50 लाख रुपये का मुआवजा दे सरकार, परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी
-हत्यारों को जल्द सजा दिलाने के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट कराई जाए मुकदमे की सुनवाई

छात्र दिलीप के कातिल की गिरफ्तारी और परिजनों को न्याय दिलाने के लिए छात्र संगठनों की ओर से गठित साझा मोर्चा ज्वाइंट एक्शन कमेटी की बैठक में देर शाम आंदोलन की रणनीति बनाई गई। इविवि के छात्रसंघ अध्यक्ष अवनीश यादव, ऋचा, आदिल हमजा शाहिल और अन्य छात्र नेताओं ने कहा कि तीन दिन के भीतर अगर आरोपी टीटीई की गिरफ्तारी नहीं की गई तो आमरण अनशन शुरू कर दिया जाएगा।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Allahabad

भगवा रंग में नजर आएंगी कुंभ मेले की शटल बसें

भगवा रंग में नजर आएंगी कुंभ मेले की शटल बसें

15 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

सपना चौधरी का 'सपना' दिखाकर फैंस को दिया धोखा तो ऐसे हुआ हंगामा

इलाहाबाद में सपना चौधरी के डांस शो का ‘सपना’ दिखाकर दर्शकों को बैरंग लौटाने पर खूब बवाल हुआ। हरियाणवी सिंगर और डांसर सपना के लखनऊ और कानपुर के हुए शो में हुए बवाल के बाद इलाहाबाद में उनके शो को रद्द कर दिया गया।

15 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree