Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Prayagraj ›   Allahabad MP Rita Joshi can be included in Modi cabinet, may get this ministry

मोदी कैबिनेट में शामिल की जा सकती हैं इलाहाबाद की सांसद रीता जोशी, मिल सकता है यह मंत्रालय

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज Published by: विनोद सिंह Updated Sat, 03 Jul 2021 05:01 AM IST
सार

  • अमित शाह के बुलावे पर दिल्ली गईं थीं सांसद रीता, कई कैबिनेट मंत्रियों से हुई मुलाकात

रीता बहुगुणा जोशी
रीता बहुगुणा जोशी - फोटो : PTI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अगले वर्ष प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी जाति समीकरण दुरुस्त करने में जुटी हुई है। चर्चा है कि प्रयागराज की सांसद डॉ. रीता बहुगुणा जोशी को प्रधानमंत्री मोदी की कैबिनेट में शामिल किया जा सकता है। तीन दिन पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बुलावे पर डॉ. रीता जोशी दिल्ली भी पहुंची। वहां कई कैबिनेट मंत्रियों के साथ उनकी मुलाकात हुई। इस मुलाकात के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। 



अगले वर्ष ही यूपी में विधानसभा चुनाव होना है। भाजपा इस चुनाव को बेहद गंभीरता से ले रही है। पिछड़े जाति के वोटरों को रिझाने के लिए पार्टी के पास डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के रूप में एक बड़ा चेहरा मौजूद है। लेकिन योगी सरकार पर ब्राह्मणों की उपेक्षा को लग रहे आरोप को देखते हुए पार्टी के अंदरखाने में यही चर्चा है कि प्रयागराज से डॉ. रीता जोशी को भाजपा अब बड़ी जिम्मेदारी देनी जा रही है। पिछले दिनों कांग्रेस छोड़कर आए जितिन प्रसाद और यूपी में पर्यटन मंत्री का पद छोड़कर सांसद बनीं डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ब्राह्मण वोटों के लिहाज से काफी अहम माने जा रहे हैं।

prayagraj news : दिल्ली में सांसद रीता जोशी ने संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी कृष्ण गोपाल से मुलाकात की।
prayagraj news : दिल्ली में सांसद रीता जोशी ने संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी कृष्ण गोपाल से मुलाकात की। - फोटो : prayagraj
ब्राह्मणों को भाजपा अपना परंपरागत वोटर मानती है। इस वजह से वह इन दिनों इस बिरादरी को लुभाने में जुटी है। क्योंकि रीता जोशी सांसद हैं इसलिए मोदी सरकार उन्हें अपनी कैबिनेट में  शामिल कर एक बड़ा संदेश देने की कोशिश कर सकती है। रीता यूपी की एकमात्र ऐसी पहली महिला नेता हैं जो मेयर, विधायक होने के साथ योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री का पदभार संभाल चुकी हैं। वर्ष 2019 में ही वह प्रयागराज से सांसद बनीं। इसके अलावा उनका पॉलिटिकल ब्रैकग्राउंड भी काफी मजबूत है। उनके पिता स्वर्गीय हेमवती नंदन बहुगुणा यूपी में तो भाई विजय बहुगुणा उत्तराखंड में मुख्यमंत्री के पद पर रह चुके हैं। 

रीता बहुगुणा जोशी
रीता बहुगुणा जोशी - फोटो : amar ujala

संघ के सह सरकार्यवाह से भी रीता की हुई मुलाकात

पिछले माह 29 और 30 जून को दिल्ली दौरे पर गईं प्रयागराज की सांसद डॉ. रीता बहुगुणा जोशी की राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आर.एस.एस) के सह सरकार्यवाह कृष्ण गोपाल से भी मुलाकात हुई। इस दौरान रीता जोशी के पुत्र मयंक जोशी भी उनके साथ रहे। इस मुलाकात को मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार से जोड़कर भी देखा जा रहा है। हालांकि इस बारे में रीता जोशी कहती हैं कि वह संसदीय राजभाषा समिति की दूसरी उप समिति की निरीक्षण बैठक में शिरकत करने के लिए ही दिल्ली गईं थी। वहां अपने संसदीय क्षेत्र के विकास कार्यों को लेकर ही कुछ कैबिनेट मंत्रियों से मुलाकात हुई। इसका कोई दूसरा अर्थ न निकाला जाए। कौन का पद मिलने की है चर्चा अगली स्लाइड में...

रीता बहुगुणा जोशी
रीता बहुगुणा जोशी - फोटो : amar ujala

शिक्षा राज्य मंत्री या रेल राज्य मंत्री बनाए जाने की चर्चा 

इलाहाबाद विश्वविद्यालय से वीआरएस ले चुकीं सांसद डॉ. रीता बहुगुणा जोशी को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल के साथ शिक्षा राज्य मंत्री बनाया जा सकता है। पार्टी के अंदर खाने में चर्चा यह भी है कि कोरोना की वजह जान गंवाने वाले रेल राज्यमंत्री सुरेश अंगड़ी के निधन के बाद से यह पद रिक्त चल रहा है। ऐसे में उन्हें रेल राज्य मंत्री का पद भी दिया जा सकता है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00