विज्ञापन

1177 छात्रों के सपनों को लगे पंख

Allahabad Updated Wed, 26 Dec 2012 05:30 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
इलाहाबाद। मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के 1177 छात्र-छात्राओं के लिए क्रिसमस पर्व दोगुनी खुशी लेकर आया। मंगलवार को आयोजित दीक्षांत समारोह में उन्हें डिग्री प्रदान की गई। डिग्री देने की घोषणा राष्ट्रपति और राज्यपाल की उपस्थिति में की गई। इस मौके पर संस्थान में हर तरफ जोश और उल्लास का माहौल रहा। समारोह में मौजूद हर युवा के चेहरे पर खुशी और विश्वास साफ झलक रहा था।
विज्ञापन
राष्ट्रपति के संक्षिप्त कार्यक्रम के मद्देनजर समारोह को दो भागों में विभाजित कर दिया गया था। पहले सत्र में चार मेधावी छात्रों को राष्ट्रपति के हाथों मेडल प्रदान किया गया। इसके बाद आयोजित दूसरे सत्र में निदेशक प्रोफेसर पी.चक्रवर्ती ने छात्र-छात्राओं को डिग्री प्रदान की। इनमें 619 बीटेक, 375 एमटेक, 63 एमबीए, 66 एमसीए, 10 एमएसडब्ल्यू और 10 विद्यार्थी एमएससी के हैं। इनके अलावा 34 विद्यार्थियों को पीएचडी की उपाधि प्रदान की गई। समारोह में स्नातक के 13 और परास्नातक के 25 विद्यार्थियों को गोल्ड मेडल प्रदान किए गए। 19 छात्र-छात्राओं को विभिन्न कार्यक्रमों के लिए प्रायोजित पदक प्रदान किए गए। निदेशक ने छात्र-छात्राओं को बधाई दी। समारोह के बाद डिग्री पाने वाले छात्र-छात्राओं ने टोपी उछालकर खुशी का इजहार किया। उन्होंने एक दूसरे को गले लगाकर बधाई दी। साथ ही उन्होंने भविष्य में एक दूसरे से संपर्क रखने का वादा भी लिया।
मलेरिया पर अब आसानी से काबू पाया जा सकेगा। एमएनएनआईटी के दीक्षांत समारोह में संस्थान के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के चेयरमैन डॉ.वीके सारस्वत ने बताया कि कम समय और कम डोज में मलेरिया के इलाज की दवा ढूंढ गई है। इसके लिए विज्ञान एवं तकनीकी विभाग के निर्देशन में शोध कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, जिसमें काफी सफलता मिली है। बताया कि खाद्यान्न उत्पादन में भी इस साल 18 मिलियन टन की बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने स्वास्थ्य, कृषि, ऊर्जा आदि के क्षेत्रों में हो रहे अन्य शोध कार्यक्रमों पर भी विस्तार से प्रकाश डाला।
मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान के टॉपर आलोक अग्रवाल समेत अन्य मेधावी इंजीनियर नहीं बनना चाहते। आईएएस या प्रबंधन उनका सपना है। इंडियन ऑयल कारपोरेशन में इंजीनियर आलोक का कहना है कि आईएएस बनना उनका लक्ष्य है। इसके लिए वह अभी से तैयारी में जुट गए हैं। आलोक के पिता अश्वनी अग्रवाल एमएनएनआईटी में ही लैब टेकिभनशियन हैं। मेकेनिकल इंजीनियरिंग से संस्थान टॉप करने वाले आलोक पहले छात्र हैं। आलोक का कहना था राष्ट्रपति के हाथों पदक पाना काफी उत्साह बढ़ाने वाला है। यह पल पूरी उम्र याद रहेगा और प्रेरित करता रहेगा। बीटेक की डिग्री हासिल करने वाले सोमव्रत भी अभी से आईएएस की तैयारी में जुट गए हैं। डिग्री लेने के बाद उत्साहित सोमव्रत का कहना था कि इस दिन का बेसब्री से इंतजार था। बीटेक की श्रद्धा समेत कई अन्य छात्र भी हैं जो इंजीनियर के बजाय आईएएस बनना चाहते हैं। छात्र राजेश आगे एमटेक या एमबीए की पढ़ाई करना चाहते हैं।
विधायक अनुग्रह नारायण सिंह ने राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपकर इलाहाबाद विश्वविद्यालय की बदतर स्थिति का मुद्दा उठाया। उन्होंने विश्वविद्यालय को विभिन्न मद में मिली राशि में अनियमितता का आरोप लगाते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच की मांग की। उन्होंने मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज को विश्वविद्यालय से संबद्ध करने की मांग भी की। विधायक ने अलोपीबाग में स्थापित सरदार बल्लभ भाई पटेल की मूर्ति के अनावरण के लिए भी राष्ट्रपति को आमंत्रित किया। ज्ञापन सौंपने वाले प्रतिनिधिमंडल में अभय अवस्थी, शिवसेवक सिंह, प्रोफेसर बीडी सिंह आदि शामिल रहे।
विश्वविद्यालय की विभिन्न समस्याओं को लेकर छात्रों ने भी राष्ट्रपति को ज्ञापन सौंपने की कोशिश की लेकिन उन्हें एमएनएनआईटी गेट पर ही रोक दिया गया। इससे नाराज छात्र वहीं धरने पर बैठे जिसके बाद उन्हें हटाने के लिए पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा। हंगामा बढ़ता देख जिला प्रशासन के अफसरों ने उनसे ज्ञापन लिया और वापस किया। छात्र विश्वविद्यालय में मेडिकल और साइंस फैकेल्टी खोलने तथा दीक्षांत समारोह के आयोजन की मांग कर रहे थे। छात्र विश्वविद्यालय में वित्तीय अनियमितता का भी आरोप लगा रहे थे। ज्ञापन सौंपने वालों में राघवेंद्र यादव अतुल यादव, अनुज सिंह आदि शामिल रहे।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

India News

1150 पदों पर असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती परीक्षा 18 नवंबर को

आखिर अभ्यर्थियों का आंदोलन रंग लाया और उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग (यूपीएचएसई) ने विज्ञापन संख्या 47 के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर के 1150 पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा की तिथि घोषित कर दी।

26 सितंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

NCC कैम्प में अचानक से बीमार पड़े 50 से ज्यादा कैडेट्स, वजह कर देगी हैरान

इलाहाबाद में लगे एनसीसी कैंप में अचानक से एक के बाद एक लगभग 50 कैडेट्स की तबीयत बिगड़ने लगी। बीमार कैड्ट्स को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया।

25 सितंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree