घाट पर बने चेंजिंग रूम तोड़ने के आदेश

Allahabad Updated Wed, 07 Nov 2012 12:00 PM IST
इलाहाबाद। कुंभ से जुड़ कार्यों का निरीक्षण करने मंगलवार को इलाहाबाद आए मुख्य सचिव जावेद उस्मानी कार्यों की गुणवत्ता, डिजाइन से संतुष्ट नजर नहीं आए। सिविल लाइंस बस अड्डे में बनाए जा रहे यात्री शेड और यमुना बैंक रोड पर सिंचाई विभाग की ओर से बनाए जा रहे पक्के घाट की डिजाइन और गुणवत्ता पर उन्होंने सवाल उठाए। साथ ही संबंधित अफसरों को जमकर फटकारा। मुख्य सचिव ने पक्के घाट पर बीचोबीच बनाए गए दो स्थायी चेंजिंग रूम तोड़ने और बस अड्डे पर बनाए जा रहे यात्री शेड की चौड़ाई बढ़ाने का आदेश दिया।
घाट पर अव्यवस्थित तरीके से बनाए गए चेंजिंग रूम को देखकर मुख्य सचिव इस कदर भड़के कि संबंधित अधीक्षण अभियंता से पूछ बैठे कि उनके अपने घर का काम होता तो क्या ऐसा ही करते? बोले, ‘पैसा सरकार का जरूर है लेकिन इसे सरकारी मत समझो और ठीक से काम करो।’ उन्होंने मेला अधिकारी मणि प्रसाद मिश्र को निर्देश दिए कि दोनों चेंजिंग रूम तोड़कर उनकी जगह किनारे पर दो अस्थायी चेंजिंग रूम बनाए जाएं। मुख्य सचिव की आपत्ति पर अधीक्षण अभियंता ने भी माना की उनसे गलती हो गई है और इसे सुधार लिया जाएगा। सिविल लाइंस बस अड्डे पर पीछे की तरफ बनाए जा रहे एक दर्जन यात्री शेड की डिजाइन मुख्य सचिव और उनके साथ निरीक्षण करने आए मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव राकेश गर्ग एवं नगर विकास विभाग के विशेष सचिव एसपी सिंह को पसंद नहीं आई। कमिश्नर देवेश चतुर्वेदी भी डिजाइन देखकर नाराज हुए, क्योंकि रोडवेज अफसरों ने उन्हें भी इस बारे में कुछ नहीं बताया था और न ही उनसे कोई सलाह ली थी।
रोडवेज के अफसरों से पूछा गया कि डिजाइन किससे बनवाई है तो वे बगले झांकने लगे। मुख्य सचिव ने कहा कि लगता है डिजाइन किसी इंजीनियर ने नहीं बल्कि फोरमैन ने बना दी है। उन्होंने निर्देश दिए कि दो दिनों के भीतर नया प्रोजेक्ट तैयार कर भेजें और यात्री शेड की चौड़ाई दोगुनी करें। साथ ही यात्रियों के लिए टॉयलेट की उचित व्यवस्था करें। मुख्य सचिव ने बस अड्डे में खाली पड़ी जगह को मल्टीलेवल पार्किंग एवं व्यवसायिक गतिविधियों के लिए उपयोग में लाने को कहा। साथ ही इसके लिए अलग से प्रोजेक्ट बनाने के निर्देश दिए। कहा, इलाहाबाद के लिए पैसे की कोई कमी नहीं है लेकिन काम अच्छा होना चाहिए।
इससे पूर्व अपराह्न डेढ़ बजे हेलीकॉप्टर से पुलिस लाइन उतरने के बाद वह सीधे राजापुर एसटीपी देखने पहुंचे। गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई के अफसरों ने बताया कि 15 दिसंबर तक इसका एक हिस्सा काम करना शुरू कर देगा। इस पर उन्होंने कमिश्नर देवेश चतुर्वेदी को निर्देश दिया कि 15 दिसंबर को मौके पर आकर सत्यापन करें और रिपोर्ट सीधे शासन को भेजें। मुख्य सचिव ने यमुना बैंकरोड पर नवनिर्मित सब स्टेशन, संगम नोज, मोरी में बनाए जा रहे पंपिंग प्लांट, बोट क्लब, यमुना बैंक रोड पर त्रिवेणी दर्शन होटल के उच्चीकरण का काम, हाशिमपुर रोड का निमार्ण कार्य, बैंक रोड तिराहे पर रोटरी का काम, अलोपीबाग फ्लाईओवर भी देखा। अलोपीबाग फ्लाईओवर में पाइप लगाकर जल निकासी की व्यवस्था करने के लिए उन्होंने 20 तक का वक्त दिया। साथ ही किला में सैन्य अफसरों के साथ बैठक कर सुरक्षा संबंधी मामलों पर लंबी चर्चा की। अंत में सर्किट हाउस में कुछ देर अफसरों से वार्ता करने के बाद रात 7.45 बजे बम्हरौली एयरपोर्ट से लखनऊ रवाना हो गए।
कई खामियों को किया नजरअंदाज
मुख्य सचिव ने अपने दौरे में कई खामियों को अनदेखा कर दिया। मसलन, सड़क इतनी चौड़ी कर दी गई कि रोड पटरी गायब हो गई। नालियां जाम हो गईं। डिवाइडर बनाए ही नहीं गए। बाद में मुख्य सचिव से जब इस बारे में पूछा गया तो उनका जवाब था कि एक बार के निरीक्षण में सब देखना या सभी चीजें सुधार पाना मुमकिन नहीं है। नौ नवंबर को दोबारा इलाहाबाद आएंगे और बैठक करेंगे। तब अन्य मसलों पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि जो रिपोर्ट मिली थी, काम उसके अनुसार हो रहा है लेकिन वह संतुष्ट नहीं हैं। कहा कि कुंभ से जुड़े कार्यों की शासन पूरी गंभीरता से मॉनीटरिंग कर रहा है। निरीक्षण लगातार होता रहेगा। काम समय से पूरा कर लिया जाएगा।
शौचालय की डिजाइन को किया खारिज
मुख्य सचिव ने नगर निगम की ओर से बनवाए जा रहे शौचालयों की डिजाइन को खारिज कर दिया। इसके लिए उन्होंने नगर निगम के अफसरों को फटकार भी लगाई। हर्षवर्धन चौराहे पर शौचालय देखने पहुंचे मुख्य सचिव ने कहा कि प्रस्ताव के अनुरूप शौचालयों की संख्या कम क्यों है। नगर निगम के अफसरों ने बताया कि रोड पटरी पर शौचालय का निर्माण नहीं कराया जा सकता और दूसरी जगह मिल नहीं रही। उन्होंने कहा कि यह कोई तर्कनहीं। जनता की सुविधा का ध्यान तो रखना ही होगा। विकल्प तलाशा जाए और शेष शौचालयों का निर्माण तत्काल पूरा कराया जाए।
आईजी ने खोजी दर्जनों खामियां
बस अड्डे पर यात्री शेड की डिजाइन का मसला रहा है या पक्के घाट पर अव्यवस्थित चेंजिंग रूम बनाए जाने का मसला, इनमें सबसे पहले खामी खोजने वाले आईजी आलोक शर्मा रहे। उन्होंने जब निर्माण पर सवाल उठाए तो मुख्य सचिव को भी एहसास हुआ कि निर्माण गलत तरीके से हो रहा है। आईजी ने जो भी खामियां गिनाईं, मुख्य सचिव ने उनमें सुधार की हिदायत दी।
लंबा काफिला देख भड़के मुख्य सचिव
अपने वाहन के पीछे लंबा काफिला देख मुख्य सचिव कई बार भड़के। राजापुर एसटीपी पहुंचे से पहले एक जगह उन्होंने अपना वाहन रोक दिया और इतने लंबे काफिले को पीछे चलने से मना किया। कमिश्नर देवेश चतुर्वेदी अपने वाहन से उतरे और अफसरों को फटकार लगाते हुए कहा कि इतनी गाड़ियां साथ लाने की क्या जरूरत थी लेकिन अफसर कहां मानने वाले थे। मुख्य सचिव एसटीपी का निरीक्षण कर लौटे तो फिर सब पीछे चल दिए। सबको यही डर सता रहा था कि निरीक्षण के दौरान कोई खामी मिली और मुख्य सचिव ने पूछताछ की तो जवाब देने वाला कोई न कोई होना चाहिए, वरना कार्रवाई हो जाएगी।
खामी मिली लेकिन कार्रवाई कोई नहीं
निरीक्षण में मुख्य सचिव को ढेरों खामियां मिली। शैचालय, यात्री शेड, पक्के घाट की डिजाइन से वह खुश नहीं थे। अफसरों को जमकर फटकारा भी और सुधार की हिदायत दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की। हालांकि पहले से अनुमान लगाया जा रहा था कि कार्रवाई नहीं होगी, क्योंकि इससे पहले तमाम मंत्री आए और लौट गए लेकिन कार्रवाई नहीं की। ऐसे में शासन स्तर के अफसर कार्रवाई करते हुए यही संदेश जाता कि मंत्रियों को खामियां नहीं दिखीं।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए उमड़े लाखों श्रद्धालु

मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए लाखों श्रद्धालु इलाहाबाद पहुंच चुके हैं। संगम तट पर चल रहे माघ मेले के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper