अभिषेक, दर्शन को जुटे, लगाए जयकारे

Allahabad Updated Thu, 18 Oct 2012 12:00 PM IST
इलाहाबाद। शारदीय नवरात्र के दूसरे दिन बुधवार को देवी के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा-अर्चना की गई। शक्तिपीठों में बहुरंगी फूलों से किए गए देवी के शृंगार दर्शन को श्रद्धालुओं का तांता लगा। मंगला आरती से शुरुआत केबाद सभी ने देवी के दूसरे स्वरूप का अभिषेक, पूजन किया और शाम को शृंगार दर्शन। शक्तिपीठों और देवी मंदिरों के भीतर बाहर का क्षेत्र देवी के जयकारों से गूंजता रहा। घरों में भी शतचंडी पाठ, दुर्गा सप्तशती पाठ के बाद आरती उतारी गई।
प्रवेश द्वार से लेकर मंदिर की ओर आने वाले रास्ते पर बल्लियां लगाकर पताकाएं फहराई गईं। इन पर लगाए गए लाउडस्पीकरों से देवी के भजन, गीत बजे। सड़क के दोनों ओर पूजा सामग्री, देवी-देवताओं केपोस्टर और घर-गृहस्थी के सामान वाली दुकानें भी सजी रहीं। मंदिरों, शक्तिपीठों को बिजली की रंगीन रोशनी से सजाया गया।
प्रमुख शक्तिपीठों के अतिरिक्त चौक गंगादास स्थित शक्ति स्वरूपा मां खेमामाई, काली बाड़ी, काली थान, समया माई, हाईकोर्ट हनुमान मंदिर, सिविल लाइंस हनुमत निकेतन के दुर्गा मंदिरों, हाईकोर्ट पानी टंकी अष्टभुजी मंदिर सहित अन्य देवी मंदिरों में भी जयकारों के बीच देवी के पूजन, अभिषेक, शृंगार दर्शन को श्रद्धालुओं केआने का क्रम देर रात तक बना रहा। सिविल लाइंस स्थित सिद्धेश्वरी गुप्त महापीठ में तांत्रिक विधि से पाठ और पूजा की गई।
शक्तिपीठ ललिता में लगा तांता
शक्तिपीठ ललिता देवी मंदिर में कोलकाता के सज्जाकारों की ओर से देवी का बहुरंगी फूलों और स्वर्णाभूषणों से मनोहारी शृंगार किया गया। जयकारों के बीच शाम को शृंगार दर्शन को आए श्रद्धालुओं के बीच देवी का भोग भी वितरित किया गया। वैदिक मंत्रोच्चार के बीच शतचंडी महायज्ञ के मुख्य यजमान संजीव अग्रवाल थे। हरिमोहन वर्मा, धीरज नागर, सुमित श्रीवास्तव आदि व्यवस्था में जुटे रहे।
मुंडन, कर्णछेदन को आए मां के द्वार
शक्तिपीठ कल्याणी देवी मंदिर में देवी का स्वर्णाभूषणों और फूलों से शृंगार किया गया। द्विभुजी स्वरू प में जयमाला और कमंडल धारण करके देवी ने भक्तों को दर्शन दिया। बड़ी संख्या में जुटे श्रद्धालुओं ने अपने बच्चों का मुंडन और कर्णछेदन संस्कार भी कराया। श्रद्धालुओं ने शतचंडी महायज्ञ की परिक्रमा भी की। पुजारी सुशील पाठक केमुताबिक बृहस्पतिवार को देवी चंद्रघंटा स्वरूप में सजेंगी। गर्भगृह की सज्जा फलों और सब्जियों से की जाएगी।
अलोपशंकरी में पूजन को पहुंचे सभी
अलोपशंकरी में पूजन के लिए शहर ही नहीं बड़ी संख्या में ग्रामीण क्षेत्रों से भी श्रद्धालु आए। उन्होंने परिसर में ही अपने बेटे, बेटियों का मुंडन, कर्णछेदन संस्कार कराया। बैडबाजा के साथ नाचते गाते आए श्रद्धालुओं ने देवी को निशान भी चढ़ाया।
नेपाली मंदिर में भी नवदुर्गा पूजा
राजरूपपुर स्थित नेपाली धर्म समाज के शिव मंदिर में भी भगवती की आराधना, पूजा की गई। सचिव अर्जुन राना के मुताबिक नवदुर्गा पूजा के तहत सोमवार को कालरात्रि पूजा, 23 को कन्या भोज और 24 को विजय दशमी तथा विसर्जन किया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

नीतीश के काफिले पर पथराव के बाद जेड प्लस सुरक्षा देगी मोदी सरकार

बिहार के मुख्यमंत्री के काफिले पर कुछ दिनों पहले हुए हमले के मद्देनजर नीतीश कुमार को जेड प्लस श्रेणी सुरक्षा दी जाएगी।

19 जनवरी 2018

Varanasi

मऊ की खबर

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए उमड़े लाखों श्रद्धालु

मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए लाखों श्रद्धालु इलाहाबाद पहुंच चुके हैं। संगम तट पर चल रहे माघ मेले के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper