शहर बजबजा रहा और कमिश्नर घूम रहे विदेश

Allahabad Updated Sat, 13 Oct 2012 12:00 PM IST
इलाहाबाद। गंदगी और कचरे से बजबजा रहे बनारस शहर की तस्वीरें देखने के बाद खफा हाईकोर्ट ने मंडलायुक्त वाराणसी के खिलाफ खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने को कहा है। नाराज हाईकोर्ट ने पूछा है कि क्यों न इस लापरवाही के लिए कमिश्नर को निलंबित किया जाए। इस मामले में शुक्रवार को कमिश्नर को हाईकोर्ट में तलब किया गया था लेकिन वह नहीं पहुंचे। डीएम वाराणसी ने कोर्ट को जानकारी दी कि कमिश्नर विदेश दौरे पर हैं तो कोर्ट ने इस पर गंभीर आपत्ति जताई। कहा कि पूरा शहर बजबजा रहा है और कमिश्नर विदेश घूम रहे, यह ठीक नहीं है। इस मामले में कमिश्नर के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ, उनकी विदेश यात्रा को भी रद करने का निर्देश दिया है। कमिश्नर को अगली तारीख पर उपस्थित रहने का निर्देश दिया है।
खंडपीठ ने मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि वाराणसी शहर की सफाई व्यवस्था की मॉनिटरिंग वह स्वयं करें। अदालत में मौजूद डीएम वाराणसी को भी जमकर फटकार लगाई गई। कल्पना राय चौधरी और अन्य द्वारा दाखिल जनहित याचिका की सुनवाई कर रही कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश अमिताव लाला और न्यायमूर्ति पीकेएस बघेल की खंडपीठ ने कहा कि पूरा शहर गंदगी से बजबजा रहा है और कमिश्नर विदेश यात्रा का लुत्फ उठा रहे हैं। जिलाधिकारी सौरभ बाबू की रिपोर्ट पर भी खंडपीठ काफी नाराज थी। डीएम से कहा कि आप एसी कमरे में बैठकर योजनाएं बनाने के बजाए मौके पर जाकर कार्रवाई करें। प्रदेश सरकार की ओर से अपर मुख्य स्थायी अधिवक्ता सीएस सिंह ने सुझाव दिया कि इस मामले में मुख्य सचिव को निर्देश दिया जाए कि वह स्वयं सफाई व्यवस्था और अन्य कार्यों की कमान संभाले। इस पर कोर्ट ने मुख्य सचिव को कहा है कि वाराणसी शहर में गंदगी, प्रदूषण, सीवर और अतिक्रमण आदि के संबंध में विभिन्न विभागों के समन्वय से स्वयं नजर रखें और प्रभावी कार्रवाई कराएं।
याचिका पर सुनवाई के दौरान न्यायालय के समक्ष वाराणसी शहर की वह तमाम तस्वीरें प्रस्तुत की गई जिनमें जगह-जगह पर लगे गंदगी और कूड़े के ढेर, चोक नाले-नालियां और सीवर तथा अतिक्रमण को दर्शाया गया था। तस्वीरें देखने के बाद अदालत काफी नाराज थी। खंडपीठ ने कहा कि पूरा शहर कचरे से पटा है और अफसर मौज कर रहे हैं। याची का कहना था कि वाराणसी पर्यटन की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण शहर है। धार्मिक नगरी होने के कारण यहां प्रति वर्ष लाखों की संख्या में विदेशी और देशी पर्यटक आते हैं। यहां गंदगी और दुर्दशा का जो हाल है उससे शहर की काफी खराब छवि विदेश पयर्टकों के मन पर पड़ती है। याचिका पर 17 अक्तूबर को सुनवाई होगी। इस दौरान कमिश्नर सहित अन्य अधिकारियोें को उपस्थित रहने का निर्देश दिया है।

Spotlight

Most Read

National

इलाहाबाद HC का निर्देश- CBI जांच में सहयोग करे लोक सेवा आयोग

कोर्ट ने लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष को जवाब दाखिल करने के लिए छह फरवरी तक की मोहलत दी है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए उमड़े लाखों श्रद्धालु

मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए लाखों श्रद्धालु इलाहाबाद पहुंच चुके हैं। संगम तट पर चल रहे माघ मेले के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper