50 फीट की सड़क पर पैदल चलने को भी जगह नहीं

Allahabad Updated Tue, 25 Sep 2012 12:00 PM IST
इलाहाबाद। रविवार को यदि किसी काम से जानसेनगंज जाना पड़े तो सड़क की चौड़ाई जरूर नापिए। शर्तिया आप हैरान हो जाएंगे। जानसेनगंज चौराहे से घंटाघर तक और लोकनाथ से नखासकोहना तक सड़क 50 फीट चौड़ी है लेकिन बाजार खुलते ही न जाने कहां गायब हो जाती है। सोमवार से शनिवार सड़क दस फीट भी नजर नहीं आती। नतीजा है कि एक बड़ी गाड़ी गुजरते ही जाम लग जाता है। 50 फीट चौड़ी सड़क पर जाम का कारण भी साफ है। दोनों तरफ सड़क पर दस-दस फीट तक दुकानें आ जाती हैं। उसके बाद सड़क पर गाड़ियां खड़ी होती हैं। दोपहिया वाहनों की दो लाइनें लग जाती हैं। उसके आगे पीछे ठेले-खोमचे वाले खड़े हो जाते हैं। इन सबके बाद सड़क से वाहन निकलने को बमुश्किल दस से 15 फीट जगह बचती है। व्यापारियों की बड़ी गाड़ियां गुजर जाएं तो अगल-बगल से निकलना संभव नहीं होता। आए दिन गाड़ियां भिड़ने या खरोच लगने के कारण झगड़े होते हैं। जगह कम होने के बाद भी बीच से निकलने की कोशिश में रोज ही दोपहिया सवार गाड़ियों के बीच फंसते हैं और उनमें से कई चुटहिल हो जाते हैं। रिक्शा, ठेले से फंसकर लोगों के कपड़े फटने की शिकायत भी आम है।
शाहगंज की गलियों से पैदल निकलना भारी
जानसेनगंज का मुख्य बाजार हो या शाहगंज की गलियों का थोक बाजार, वहां गलियों से पैदल निकलना भारी पड़ जाता है। चारपहिया गाड़ियां तो गलियों में जा ही नहीं सकती। दोपहिया जाती हैं लेकिन गलियों में दुकानों का सामान इतनी दूर तक फैला होता है कि वहां से निकलना बेहद डरावना होता है। हर पल डर बना रहता है कि किसी दुकान के सामने रखे सामान से न टकरा दाएं। पैदल जाने वाले दाएं-बाएं किनारे हो जाते हैं, तभी दोपहिया चालक निकल पाते हैं।
खरीदारी करनी है तो चार पहिया से कतई न जाएं
भीड़ और जाम का यह नजारा आम दिनों का है। यानी बाजार में रोज ही यही हाल होता है। दोपहर से शाम तक दोपहिया से निकलने में भारी परेशानी होती है। साइकिल वाले भी कई जगह फंसते हैं। सड़क पर अतिक्रमण और जाम के कारण जितनी परेशानी खरीदारों को है उससे कहीं ज्यादा परेशान दुकानदार हैं। जानसेनगंज, शाहगंज, लोकनाथ जाने से पहले लोग सोचते हैं कि किधर से जाएं ताकि जाम कम मिले। इसके अलावा खरीदारी किस दुकान से करें ताकि आसपास गाड़ी खड़ी करने को थोड़ी जगह मिल जाए। गलती से चारपहिया से बाजार चले गए तो कितने घंटे लग जाएंगे निकलने में कहा नहीं जा सकता। बाजार में कहीं भी गाड़ी पार्किंग की सुविधा नहीं है जिसके कारण परेशानी हो रही है।
अतिक्रमण है जाम का बड़ा कारण
दुकानों के सामने अतिक्रमण ही बाजार में जाम का कारण है। जानसेनगंज चौराहा से आगे सड़क पर दोनों तरफ गाड़ियों का अतिक्रमण है। सड़क के बीच में ही तीन लाइन में गाड़ियां खड़ी रहती हैं, उसके बाद दोनों तरफ बस एक रिक्शा या छोटी गाड़ी निकलने भर को जगह बचती है। इस परेशानी के कारण ही दोनों तरफ की दुकानों में रुकने के बजाय लोग आगे बढ़ जाते हैं। सुलेम सराय, धूमनगंज, मुंडेरा, राजरूपपुर, कालिंदीपुरम, खुल्दाबाद, राजापुर में बड़ा बाजार नहीं है। इस क्षेत्र के लोग थोक में खरीदारी के लिए जानसेनगंज, चौक, घंटाघर, लोकनाथ जाते हैं लेकिन लगातार जाम के कारण इससे कतराने लगे हैं।
व्यापारी बोले, प्रभावित हो रही बिक्री
बड़ी गाड़ियों वाले खरीदार चौक में नहीं आ पाते। इससे बिक्री प्रभावित हो रही है। मध्य वर्ग और निम्न मध्य वर्ग के ग्राहक भी पार्किंग न होने से कतराने लगे हैं। साथ ही पार्किंग के स्थान पर खोमचे-ठेले लग जाते हैं। रोड पटरी पर अवैध कब्जा करने से रास्ता चलने में मुश्किल होती है। जाम की बड़ी वजह यह भी है।
सुझाव
चार पहिया वाहनों के लिए पार्किंग की व्यवस्था हो। सभी वाहनों के लिए वन-वे लागू किया जाए। साथ ही रोड पटरियों से कब्जा हटाया जाए।
विजय चौरसिया
शिवा पेन कंपनी
व्यापार का नुकसान हो रहा है। पार्किंग न होने से चौक आने वाले ग्राहक सिविल लाइंस और कटरा जाने लगे हैं। अस्थाई लाइसेंस वाले ठेले स्थायी हो गए हैं। कुछ दुकानदारों ने ठेला वालों के कब्जे से बचने के लिए रोड पटरियों पर अतिक्रमण कर लिया है।
सुझाव
चार पहिया वाहनों का चौक प्रवेश में प्रतिबंधित हो। फेरी नीति लागू हो। फुटपाथ मार्केट बनाई जाएं। चौक से ठेला हटाएं। फिर, दुकानदारों के अतिक्रमण हटाएं। जीरो रोड डिपो बस अड्डे पर मल्टी स्टोरी पार्किंग बनाई जाए। चौक के व्यापारियों के वाहन भी वहीं खड़े कराए जाएं।
उमेश केशरवानी, कोषाध्यक्ष
प्रयाग व्यापार मंडल
व्यापारियों और ग्राहकों के हित में अमर उजाला ने चौक बाजार में अतिक्रमण और जाम की समस्या के समाधान के लिए विकल्प तलाशने का अभियान शुरू किया है। यदि आप भी इस बारे में कुछ बताना चाहते हैं, जाम की समस्या सुलझाने के लिए राय देना चाहते हैं तो नंबर 9675897463 पर एसएमएस कर सकते हैं।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

16 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए उमड़े लाखों श्रद्धालु

मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए लाखों श्रद्धालु इलाहाबाद पहुंच चुके हैं। संगम तट पर चल रहे माघ मेले के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper