डीआरएम कार्यालय पर एनसीआरएमयू का प्रदर्शन

Allahabad Updated Fri, 31 Aug 2012 12:00 PM IST
अमर उजाला ब्यूरो
इलाहाबाद। कैडर रिस्ट्रक्चरिंग, ट्रैकमैन कमेटी की सिफारिशों को लागू और वेतन विसंगतियों को दूर करने की मांग को लेकर बृहस्पतिवार को रेलकर्मियों ने हुंकार भरी। शाखा कार्यालयों से जुलूस की शक्ल में पहुंचे एनसीआरएमयू कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त नारेबाजी की। साथ रेलवे पर कर्मचारियों की समस्याओं की अनदेखी करने का आरोप लगाया।
प्रदर्शन और सभा में कर्मचारी नेताओं ने रेलवे बोर्ड पर मनमानी का आरोप लगाए। सहायक महामंत्री जेपी यादव ने कहा, एआईआरएफ के आंदोलन से सहमे रेलवे ने ट्रैकमैन कमेटी की सिफारिशों को लागू तो किया लेकिन इसमें काफी खामियां हैं। साथ ही कैडर रिस्ट्रक्चरिंग, एमएसीपी और वेतन विसंगतियों को भी दूर कराया जाएगा। केंद्रीय कोषाध्यक्ष शंभूलाल, मंडल मंत्री एसएन ठाकुर ने दावा किया कि यूनियन ने कर्मचारियों की कई समस्याओं का समाधान कराया है। आरएन बनर्जी ने इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रिकल, इंद्रपाल ने टेक्निकल और आर्टीजन, आरआर सिंह ने मैचिंग सेविंग और पदों के सरेंडर के मुद्दे उठाए। प्रदर्शन में अमरनाथ यादव, रमेश यादव, वीके यादव, अक्षयवर मिश्रा, एके भारद्वाज, रमाकांत त्रिपाठी, आरके सिंह, बृजेश कुमार, दीपक वर्मा, एमके सिंह, मो. शाहिद, वीके सिंह, संतोष द्विवेदी आदि शामिल रहे।
इनसेट
रनिंग एलाउंस भत्ता मिला, एरियर नहीं
रेलवे के रनिंग कर्मचारियों के लिए एक जनवरी 2011 से बढ़ा 25 फीसदी भत्ता देने का आदेश जारी हो गया है। इलाहाबाद डिवीजन के कर्मचारियों को अगस्त के वेतन में यह रकम जुड़कर मिलने जा रही है। किमी के आधार पर इससे रनिंग को हर महीने दो से पांच हजार रुपए का फायदा होगा। हालांकि, 19 महीने के एरियर भुगतान का आदेश नहीं हुआ है। इसमें कर्मियों को 40-60 हजार रुपए मिलने हैं। इसे लेकर एनसीआरएमयू ने चेतावनी दी है कि भुगतान न हुआ तो अगले सप्ताह वित्त और कार्मिक अफसरों के खिलाफ प्रदर्शन किया जाएगा। एनसीआर कर्मचारी संघ के मंडल मंत्री श्याम सिंह ने भी एरियर भुगतान की मांग उठाई है।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

हरियाणाः यमुनानगर में 12वीं के छात्र ने लेडी प्रिंसिपल को मारी तीन गोलियां, मौत

हरियाणा के यमुनानगर में आज स्कूल में घुसकर प्रिंसिपल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मामले में 12वीं के एक छात्र को गिरफ्तार किया गया है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी बोर्ड परीक्षा से पहले पकड़े गए 83,753 बोगस स्टूडेंट्स

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड में बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा शुरू होने से ठीक पहले ये बात सामने आई है कि परीक्षा आवेदनों में करीब 84 हजार बोगस स्टूडेंट हैं।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper