टैलेंट की कमी नहीं, यूपी का सिस्टम कमजोर

Allahabad Updated Mon, 27 Aug 2012 12:00 PM IST
0 भारत को पहला जूनियर क्रिकेट विश्वकप दिलाने वाले मो.कैफ ने कहा, यूपी में खिलाड़ी हैं, योजना नहीं
0 मौका न मिलने से टूट रहा नए खिलाड़ियों का हौसला, वक्त पर ध्यान न देने से हालात होंगे खराब
0 टीम इंडिया ने जीता जूनियर वर्ल्ड कप, पर नहीं दिखा यूपी का जलवा
मोहम्मद रजी
इलाहाबाद। टीम इंडिया ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीतकर जूनियर क्रिकेट में भले ही अपनी धाक जमाई हो, लेकिन इस बार यूपी के खिलाड़ियों के लिए कुछ खास नहीं रहा। टीम में यूपी के केवल एक खिलाड़ी अक्षदीपनाथ को जगह मिली। हालांकि देश को पहला अंडर-19 वर्ल्ड कप दिलाने में यूपी के और खासतौर पर इलाहाबाद के मोहम्मद कैफ और शलभ श्रीवास्तव की अहम भूमिका थी। इस बार टीम में यूपी के खिलाड़ियों का न होना क्रिकेटरों को अखर रहा है। भारत को पहला जूनियर क्रिकेट विश्वकप दिलाने वाली टीम के कप्तान मो.कैफ और कई पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर मानते हैं कि यूपी का खेल सिस्टम कमजोर हुआ है। खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय लेवल पर तैयार करने के लिए यूपीसीए को प्रतियोगिताओं पर ध्यान देना होगा।
इलाहाबाद के मोहम्मद कैफ की अगुवाई में टीम इंडिया ने पहली बार वर्ल्ड कप का खिताब जीता था। चार साल पहले जब भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में वर्ल्ड कप अपने नाम किया तो यूपी के तनमय श्रीवास्तव ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाए। इस बार स्थिति विपरीत थी। सीनियर लेवल पर भी यूपी की यही हालत है। प्रवीण कुमार के बाद कोई ऐसा खिलाड़ी उभरकर नहीं आया, जिससे आने वाले वक्त में उम्मीद की जाए।
प्रतिभाओं को मिले मौका
मोहम्मद कैफ टीम इंडिया की जीत से काफी खुश हैं। उन्मुक्त चंद समेत कई खिलाड़ियों की उन्होंने जमकर तारीफ की लेकिन यूपी में खेल के हालात से वह थोड़े निराश हैं। उन्होंने कहा कि यूपी का खेल सिस्टम कमजोर हुआ है। ‘अमर उजाला’ से हुई बातचीत में उन्होंने कहा कि यूपी में टैलेंट की कोई कमी नहीं है। इलाहाबाद में भी टैलेंट है लेकिन इसे उभारने की जरूरत है। यूपीसीए और एसीए ज्यादा से ज्यादा टूर्नामेंट कराएं, ताकि खिलाड़ियों को प्रदर्शन करने का मौका मिल सके।
इनसेट
कारोबार कर रहे कोचिंग सेंटर
पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर ज्योति यादव कहते हैं कि क्रिकेट एकेडमी और कोचिंग सेंटरों में खिलाड़ियों को निखारने की बजाय पैसा कमाने की होड़ है। प्रदेश स्तर की टीमों में ऐसे खिलाड़ियों का चयन हो रहा है, जिन्हें लोग जानते तक नहीं है।
विजयी शॉट लगते ही बजने लगे पटाखे
टीम इंडिया की जीत पर शहर में भी जश्न का माहौल रहा। लोकनाथ, मुट्टीगंज, करेली, चौक, नखास कोहना, कटरा, अल्लापुर आदि इलाकों में पटाखे फोड़े गए। गवर्नमेंट प्रेस, एबीआईसी, दौलत हुसैन, एमआईसी आदि मैदानों पर खिलाड़ियों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर टीम इंडिया की जीत की खुशी मनाई। पूर्व रणजी खिलाड़ी आशीष विस्टन जैदी, उबैद कमाल, क्रिकेट कोच देवेश मिश्रा, परवेज आलम, कौशिक पॉल, अमित पॉल, शुएब कमाल, हसबीन अहमद आदि ने टीम इंडिया को बधाई दी।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

बवाना कांड पर सियासत शुरू, भाजपा मेयर बोलीं- सीएम केजरीवाल को मांगनी चाहिए माफी

दिल्ली के औद्योगिक इलाके बवाना में शनिवार देर शाम अवैध पटाखा गोदाम में आग लगने से 17 लोगों की मौत के बाद अब इस पर सियासत शुरू हो गई है।

21 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी बोर्ड परीक्षा से पहले पकड़े गए 83,753 बोगस स्टूडेंट्स

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड में बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है। 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा शुरू होने से ठीक पहले ये बात सामने आई है कि परीक्षा आवेदनों में करीब 84 हजार बोगस स्टूडेंट हैं।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper