अपने दल की अगुवाई करते रहे कान्हा

Allahabad Updated Sun, 26 Aug 2012 12:00 PM IST
0 चकाचौंध रोशनी में डूबा रसूलाबाद-तेलियरगंज
0 चांदी के कान्हा की प्रतिमा आकर्षण का केंद्र रही
इलाहाबाद। शनिवार को रसूलाबाद-तेलियरगंज में दधिकांदो की धूम रही। चकाचौंध रोशनी, लाउडस्पीकरों की गूंज के बीच आधी रात के बाद तक पूरा मेला क्षेत्र कान्हा के रंग में ही सराबोर रहा।
अबकी चांदी के हौदे पर सवार, लाखों रुपए की पोशाक पहने कान्हा-बलदाऊ से ज्यादा, तकरीबन दो लाख रुपएसे तैयार कान्हा की चांदी से बनी प्रतिमा सभी के बीच आकर्षण का केंद्र रही। हीरालाल कुशवाहा की कल्पना के अनुरूप दिन रात जुटी इक्कीस सुनारों के टीम ने कान्हा को रजतपत्रों से सजाया तो हर कोई उसे देखकर चकित रहा। रसूलाबाद के मुरारी मिश्रा बोले, दधिकांदो में पहली बार ऐसी प्रतिमा दिखी। अंबेडकर नगर की बुजुर्ग श्यामादेवी को भी कान्हा का यह रूप सम्मोहित करता रहा। पंरपरागत रूप से दूसरे हाथी पर ठाकुरजी ने कान्हा-बलदाऊ के दल की अगुवाई की, पर चांदी के कान्हा दोनों के आगे-आगे चले।
ठाकुरद्वारा से परंपरागत आरती पूजन के बाद निकला दल निर्धारित रास्तों से होकर वापस ठाकुरद्वारा से आगे घाट तक जाकर विसर्जित हुआ। आरती, पूजन, शोभायात्रा में महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी, डॉ.नरेंद्र कुमार सिंह गौर, श्यामकृष्ण पांडेय, हर्ष वाजपेयी सहित उमाशंकर पांडेय, मुकुंद तिवारी, प्रमोद शुक्ला, राजाराम कनौजिया, शकील इस्लाम, मुहम्मद आरिफ, अमर सिंह राठौर, अवध नारायण मिश्र, हनुमान चंद्र चौरसिया, लल्लन लाल कुशवाहा आदि शामिल थे।
0 सबको भाई, सो बिकी दो लाख की नान खटाई
मेले के दौरान कई तरह की मिठाइयों और खान-पान की दूसरी चीजों की दुकानें सजीं। पर सोहन लच्छी, सोहन पपड़ी, नान खटाई और खाझा की बिक्री सबसे ज्यादा हुई। सौ रुपये किलो की इन मिठाइयों की बीस से ज्यादा दुकानें सजीं। स्टेनली रोड के विक्रेता मोहन लाल, रसूलाबाद के जवाहर के मुताबिक साफ मौसम में उमड़ी भीड़ के कारण अबकी मेले में दोगुने से ज्यादा और अनुमानत: दो लाख रुपये की बिक्री हुई।
0 रोशनी से जगमगाया शिलाखाना
मेले में वैसे तो पूरा क्षेत्र जगमग रहा, पर तेलियरगंज में बैरियर से लेकर इंजीनियरिंग कालेज, अवतार टाकीज, बालूमंडी, शिलाखाना आदि क्षेत्रों में बहुरंगी बिजली की सजावट सभी को लुभाती रही।
0 सम्मोहित करती रहीं कान्हा की चौकियां
तेलियरगंज मुख्य बाजार, अवतार टाकीज, बैरियर आदि जगहों पर दल को रोककर कान्हा, बलदाऊ और कान्हा की रजत प्रतिमा का पूजन अर्चन किया गया। दल में कान्हा की लीलाओं पर आधारित आधा दर्जन कलात्मक और शृंगार चौकियां लुभाती रहीं। इसके अतिरिक्त दल में बैंडबाजा, डीजे बैंड, घोड़े आदि शामिल थे।
0 झूलों का लुत्फ लेते रहे बच्चे
मेले में बच्चों का अंदाज निराला रहा। उनके लिए आजाद मार्केट, अवतार टाकीज, रसूलाबाद तिराहा, बालू मंडी आदि के पास कई तरह के झूले और मनोरंजन खेलों का इंतजाम किया गया था जिसका उन्होंने जमकर आनंद लिया। बड़े भी उनके साथ उनका हौसला बढ़ाने को मौजूद थे।
0 नौटंकी, बिरहा की भी रही धूम
मेले के दौरान घाट और कोल्ड स्टोरेज के करीब नौटंकी देखने के लिए लोगों की भीड़ जुटी। मेहंदौरी कालोनी में फूलचंद जैसवार की देखरेख में जवाबी कीर्तन में भी लोगों का जमावड़ा रहा। कल्लू निषाद और मनोहर पंडित तो चौकियां देखने के बाद पूरे समय तक कीर्तन में जुटे रहे। आधी रात के बाद तक जगह जगह सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम रही।

Spotlight

Most Read

Bareilly

बच्चो! 100 रुपये में स्वेटर खा लो

नकारा सिस्टम सरकारी योजनाओं को तो पलीता लगाता ही है, उसे गरीब बच्चों से भी कोई हमदर्दी नहीं है। सर्दी में बच्चों को स्वेटर बांटने की व्यवस्था ही देख लीजिए..

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए उमड़े लाखों श्रद्धालु

मौनी अमावस्या पर संगम में डुबकी लगाने के लिए लाखों श्रद्धालु इलाहाबाद पहुंच चुके हैं। संगम तट पर चल रहे माघ मेले के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के विशेष बंदोबस्त किए हुए हैं।

16 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper