विज्ञापन

हड़ताल से एटीएम सेवा ठप, नहीं मिला पैसा

Allahabad Updated Fri, 24 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
क्लियरिंग का काम भी पूरी तरह से प्रभावित, नहीं जमा हुए 70 करोड़ के चेक
विज्ञापन
हड़ताल के दूसरे दिन भी सवा सौ करोड़ का लेन-देन नहीं हो सका
अमर उजाला ब्यूरो
इलाहाबाद। बैंकिंग क्षेत्र में प्रस्तावित सुधार को लेकर सरकारी बैंक के कर्मचारियों की हड़ताल के दूसरे दिन क्लियरिंग के साथ एटीएम सेवा भी पूरी तरह ठप रही। एटीएम में पैसे नहीं होने से लोग दिनभर भटकते रहे। क्लियरिंग ठप होने से पहले से ही 70 करोड़ के चेक डंप पड़े हैं। दूसरे दिन भी 60 से 70 करोड़ तक के चेक जमा नहीं हो सके। इसके साथ 40 से 50 करोड़ का नकद जमा भी प्रभावित हुआ। इस प्रकार शहर में दूसरे दिन सवा सौ करोड़ का लेन-देन प्रभावित हुआ।
एटीएम में पैसा डाले जाने का होता रहा इंतजार
एटीएम में पैसे नहीं होने से लोगों ने इनसे किनारा कर लिया। कुछ लोग सवेेरे-सवेरे एटीएम पहुंचे तो उन्हें वहां निराशा हाथ लगी। लोगों को उम्मीद थी कि छुट्टियों जैसे हड़ताल के दिनों में भी एटीएम में पैसे डाले जाएंगे। इस कारण 11 बजे के बाद एक बार फिर एटीएम चेक किया लेकिन तब भी उन्हें पैसा नहीं मिला। एटीम से पैसे निकालने के लिए कुछ लोग पूरे शहर के प्रमुख एटीएम का चक्कर लगाते रहे। बैंक के एक अधिकारी ने बताया कि पहले दिन की हड़ताल के बाद ही एटीएम से पैसे खत्म हो गए। दूसरे दिन पैसे नहीं डाले जाने से शहर के लगभग सभी एटीएम खाली रहे। बताया कि बैंक की ओर से एक दिन की क्षमता के अनुसार पैसा एटीएम में भरा जाता है। ऐसे में सभी एटीएम की क्षमता एक दिन में ही पूरी हो गई।
अस्पताल का बिल जमा करने को नहीं मिले पैसे
अस्पताल में भर्ती भाई का बिल जमा करने के लिए एटीएम से पैसे निकालने के लिए निकले कीडगंज के जयंत शहर के 25 एटीएम के चक्कर लगाने के बाद एसबीआई मुख्य शाखा पहुंचे, वहां भी उन्हें पैसे नहीं मिले। इसके बाद उन्हें एटीएम पर मौजूद एक व्यक्ति ने इलाहाबाद बैंक कीमेन ब्रांच में जाकर प्रयास करने को कहा, वहां पहुंचने पर भी पैसा नहीं मिला। अंत तक पैसे की व्यवस्था नहीं होने से जयंत निराश होकर अस्पताल लौट गए। उन्होेंने किसी प्रकार हड़ताल का हवाला देकर अस्पताल वालों को मनाया।
दो दिन में डेढ़ सौ करोड़ के चेक फंसे
सरकारी और निजी बैंकों की दो दिन हड़ताल के कारण कुल मिलाकर 140 से 150 करोड़ के चेक बैंक में जमा होने से रह गए। पहले दिन 70 से 80 करोड़ के चेक क्लियरिंग हाउस में फंस गए। दूसरे दिन भी इतनी ही धनराशि के चेक बैंकों में जमा नहीं हो सके। जिससे कुल मिलाकर 150 करोड़ के चेक बैंक में आने से रह गए।
90 करोड़ का नकद जमा प्रभावित
इसके साथ ही हर दिन 40 से 50 करोड़ रुपए व्यापारियों की ओर से बैंक में जमा होते हैं, वह लेन-देन भी नहीं हो सका। इस प्रकार दो दिन में मिलाकर 90 करोड़ का करोबार प्रभावित हुआ। इस कारण से दूसरे दिन भी लगातार करोबार ठप रहा।
क्लियरिंग हाउस पर हड़तालियों का कब्जा
शहर मेें क्लियरिंग की जिम्मेदारी निभा रहे पंजाब नेशनल बैंक के क्लियरिंग हाउस पर सुबह ही हड़ताली कर्मचारियों और अधिकारियों ने कब्जा कर लिया, इस कारण वहां ताला ही नहीं खुल सका। हड़ताल के पहले दिन क्लियरिंग का काम एचडीएफसी बैंक के पास था, जबकि बृहस्पतिवार को एक बार फिर से क्लियरिंग की जिम्मेदारी पंजाब नेशनल बैंक को सौंप दी गई। इस कारण से कोई क्लियरिंग नहीं हो सकी।
फिर से हड़ताल पर जा सकते हैं बैंक कर्मचारी
दो दिन की हड़ताल के बाद बैंक कर्मचारियों और अधिकारियों ने बैठक कर चेतावनी दी कि यदि उनकी मांग पर सकारात्मक पहल नहीं कि गई तो वह शीघ्र ही दूसरी बार हड़ताल पर जा सकते हैं। इससे एक बार फिर से अरबों के नुकसान के साथ ग्राहकों की परेशानी बढ़ सकती है।
शुक्रवार को बैंकों में बढ़ेगी भीड़
दो दिन की हड़ताल के बाद शुक्रवार को बैंक खुलने पर बैंकों में भीड़ बढ़ सकती है। दूसरे दिन शनिवार होने के कारण हाफ डे होगा, इस कारण से लोग शुक्रवार को बैंक का काम निपटाना चाहेंगे। एटीएम में भी भीड़ बढ़ने की संभावना है।

एकजुट होकर बैंक कर्मचारियों ने बंद रखा कामकाज
पंजाब नेशनल बैंक सिविल लाइंस में केन्द्रीय सभा कर दिखाई ताकत
अमर उजाला ब्यूरो
इलाहाबाद। यूएफबीयू के आह्वान पर देश भर के लगभग दस लाख कर्मचारी-अधिकारी दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे। शहर में भी सभी बैंकों के कर्मचारियों-अधिकारियों ने दूसरे दिन लगातार हड़ताल पर रहकर कामकाज ठप रखा। पंजाब नेशनल बैंक सिविल लाइंस में केन्द्रीय प्रदर्शन एवं सभा के दौरान जिले भर के सभी बैंकों के कर्मचारी-अधिकारी शामिल हुए। इस दौरान शशिकांत श्रीवास्तव, अनिल श्रीवास्तव, शिवमूर्ति तिवारी, हरिश्चन्द्र द्विवेदी, अविनाश मिश्र, आरएन यादव सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।
स्टेट बैंक मुख्य शाखा में इलाहाबाद और कौशांबी जिले के सभी शाखाओं के कर्मचारी अधिकारी शामिल हुए। इस दौरान सभी से सरकार के खिलाफ लंबी लड़ाई के लिए तैयार रहने को कहा गया। सभा में राजीव मेहता, एस सेन गुप्ता, अनिल सिन्हा, अनूप मिश्र, लक्ष्मण प्रसाद, जेपी द्विवेदी सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी शामिल हुए। इलाहाबाद बैंक स्टाफ एसोसिएशन की ओर से भी हड़ताल का पूरा समर्थन किया गया। जिलामंत्री मदन उपाध्याय के नेतृत्व में धरना प्रदर्शन किया गया। इलाहाबाद बैंक में सभा के बाद सभी कर्मचारी संगम प्लेस स्थित पंजाब नेशनल बैंक पहुंचे, वहां केन्द्रीय प्रदर्शन में शामिल हुए। सभा में राजकरण मिश्र, एएन पांडेय,बीपी मिश्र सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी शामिल हुए। बैक ऑफ बड़ौदा में भी हड़ताल के दौरान पूर्ण बंदी रही। कर्मचारियों-अधिकारियों ने क्षेत्रीय कार्यालय में सभा करके हड़ताल को सफल बनाया। सभा में ओएन सिंह, बीपी सिंह, एसके सिंह, सरोज कुमार सिंह, अनूप कुमार चटर्जी सहित बड़ी संख्या में कर्मचारी शामिल हुए। इलाहाबाद डिवीजन इंशोरेंस इम्प्लाइज यूनियन की ओर से बैंक हड़ताल का पूरा समर्थन किया गया। इस दौरान कर्मचारियों ने संगम प्लेस स्थित पंजाब नेशनल बैंक में केन्द्रीय प्रदर्शन स्थल पर पहुंचकर हड़ताल का समर्थन किया गया। यूपी बैंक वर्कर्स फेडरेशन ने भी बैंक हड़ताल का पूरा समर्थन किया।
प्रमुख मांगे
0 बैंकिंग सुधार बिल का विरोध
0 खण्डेलवाल समिति की सिफारिश लागू न हो
0 अनुकंपा आधारित भर्ती पुन: शुरू की जाए
0 निजी करण का विरोध
0 आउट सोर्सिंग का विरोध
े0 अन्य लंबित मांगों का अविलंब निस्तारण हो

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Allahabad

पूजा पंडाल के बाहर हिस्ट्रीशीटर को गोलियों से भूना

कैंट क्षेत्र में रेडियो स्टेशन के पास हुई घटना, सनसनी

17 अक्टूबर 2018

विज्ञापन
Allahabad

एमआर की हत्या

16 अक्टूबर 2018

Related Videos

सपना चौधरी का 'सपना' दिखाकर फैंस को दिया धोखा तो ऐसे हुआ हंगामा

इलाहाबाद में सपना चौधरी के डांस शो का ‘सपना’ दिखाकर दर्शकों को बैरंग लौटाने पर खूब बवाल हुआ। हरियाणवी सिंगर और डांसर सपना के लखनऊ और कानपुर के हुए शो में हुए बवाल के बाद इलाहाबाद में उनके शो को रद्द कर दिया गया।

15 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree