नागरिकता बिल: एएमयू में लगे हिंदुत्व मुर्दाबाद के नारे, 720 पर केस दर्ज, परिसर में फोर्स तैनात

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलीगढ़ Updated Wed, 11 Dec 2019 12:45 AM IST
विज्ञापन
एएमयू में छात्रों का प्रदर्शन
एएमयू में छात्रों का प्रदर्शन - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
नागरिकता संशोधन बिल पर एएमयू छात्रों का आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है। बुधवार सुबह छात्रों के प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए एएमयू परिसर में भारी सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। खबर है कि इससे पहले मंगलवार रात नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करने वाले छात्रों का पक्ष सुनकर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और जांच की बात कही है।
विज्ञापन



मंगलवार को छात्रों ने मौलाना आजाद लाइब्रेरी से लेकर यूनिवर्सिटी सर्किल तक बिल के विरोध में पीएम मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के खिलाफ नारेबाजी करते हुए मशाल जुलूस निकाला था। साथ ही बिल की प्रतियां फूंक डालीं और हिंदुत्व मुर्दाबाद के भी नारे लगाए। भड़के छात्रों ने एलान किया कि वह बुधवार को हालों में खाना नहीं खाएंगे और डायनिंग का बहिष्कार करेंगे।

किसी भी कीमत पर बिल को लागू नहीं होने देंगे। आगे की रणनीति बनाने के लिए मंगलवार की देररात जनरल बाडी की बैठक बुलाई गई। साथ ही दिल्ली कूच का एलान भी किया। वहीं दूसरी ओर प्रदर्शन के दौरान पुलिस से धक्का-मुक्की और अभद्रता के मामले में थाना सिविल लाइंस में दो पूर्व छात्रसंघ अध्यक्षों सहित 20 नामजद और 700 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है। 

एएमयू में बिल के विरोध का सिलसिला दूसरे दिन भी जारी रहा। मंगलवार की रात को विश्वविद्यालय के सभी आवासीय हालों के छात्र लाइब्रेरी के पीछे कैंटीन पर इकट्ठा हुए और इसके बाद हाथों में मशाल लेकर और बिल की प्रतियां जलाते हुए जुलूस आगे बढ़ा। छात्रों ने केंद्र विरोधी, गृह मंत्रालय विरोधी नारे लगाए और आजादी की मांग करते हुए हिंदुत्व मुर्दाबाद के नारे भी लगाए।

छात्रों के तेवर देखते हुए एएमयू प्रशासन छात्रों से दूर ही रहा। छात्रों का काफिला वीसी लाज होते हुए स्टाफ क्लब पहुंचा। यहां से गेस्ट हाउस और बाब ए सैयद होते हुए यूनिवर्सिटी सर्किल पर पहुंचा। यहां पर छात्रों ने एक सभा की। जिसमें कहा कि यह बिल मौलिक अधिकार और संविधान की भावना के खिलाफ है। पूरी तरह मुस्लिम विरोधी है। 

पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष सलमान इम्तियाज ने कहा कि यह मशाल जलूस नागरिकता बिल के विरोध में निकाला गया है। हमारी अपील है कि राज्य सभा में सांसद इस बिल का समर्थन नहीं करें। सलमान ने कहा कि यह बिल केवल मुसलमानों के लिए ही नहीं बल्कि हिंदु समुदाय और हिंदुस्तानी संस्कृति के लिए भी खतरा है। 

पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष फैजुल हसन ने कहा है कि अब उन मुसलमानों को जरूर सोचना चाहिए, जो इस बिल के खिलाफ  बोलना तो छोड़िए, बल्कि जो लोग थोड़ी बहुत आवाज उठा रहे हैं, उनका मजाक बना रहे हैं। यह बिल आपकी शनाख्त तक को खत्म करने के लिए बनाया जा रहा है। आप इसको मजाक उड़ाकर उन सबका हौसला तोड़ रहे हैं, जो दूसरे मजहब के होकर खुलेआम हमारी लड़ाई लड़ रहे हैं। देश में शांति थी लेकिन भाजपा सरकार देश में गृह युद्ध कराना चाहती है।

आतंकवाद के फर्जी केसों में बंद मुसलमानों के लिए रिहाई मंच जैसी आर्गेनाइजेशन और उसमें राजीव यादव जैसे लोग जो आपके लिए दिन रात एक कर रहे हैं और आप चुप होकर उन सब पर हंस रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब वक्त आ गया है कि गांधी, नेहरू, बाबा साहेब अंबेडकर, फुले मौलाना आजाद, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद की तरह असहयोग आंदोलन, साइमन कमीशन गो बैक, दांडी मार्च, खिलाफत आंदोलन जैसा एक आंदोलन करने का वक्त आ गया है। इस अवसर पर जैद शेरवानी, हमजा नोमान, जावेद, मसूद, अहमद मुस्तफा, असलम, अशरफ आदि सैकड़ों छात्र मौजूद थे। 
आगे पढ़ें

आज छात्रों के दिल्ली कूच की तैयारी, नहीं दिया ज्ञापन

विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

आईआईटी से कम नहीं एलपीयू, जानिए कैसे
LPU

आईआईटी से कम नहीं एलपीयू, जानिए कैसे

गुप्त नवरात्रों की नवमी को कामाख्या देवी मंदिर में कराएं दुर्गा सप्तशती पाठ और हवन, मिलेगी हर बाधा से मुक्ति : 3-फरवरी-2020
Astrology Services

गुप्त नवरात्रों की नवमी को कामाख्या देवी मंदिर में कराएं दुर्गा सप्तशती पाठ और हवन, मिलेगी हर बाधा से मुक्ति : 3-फरवरी-2020

अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Aligarh

एएमयू छात्रों का एलान- शरजील को छोड़ो वरना ऐसा होगा, जिसका अंदाजा नहीं होगा

एएमयू कैंपस में भड़काऊ भाषण देने और देशद्रोह के आरोप में बिहार से गिरफ्तार किए गए जेएनयू छात्र शरजील इमाम की गिरफ्तारी के विरोध में मंगलवार शाम को एएमयू में छात्रों का आक्रोश फूट पड़ा।

28 जनवरी 2020

विज्ञापन

बच्चों के रंग में रंगी कैटरीना, सुनील ग्रोवर ने भी की खूब मस्ती

कैटरीना कैफ 28 जनवरी को मुंबई में पिक्चर पाठशाला के एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची। यह संस्था बच्चों की तरफ से बनाए गए कंटेंट को पेश करती है।

29 जनवरी 2020

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us