एएमयू में प्रवेश को पहली बार दो टेस्ट

Aligarh Updated Wed, 31 Oct 2012 12:00 PM IST
अलगीढ़। एएमयू में मेडिकल, इंजीनियरिंग और प्लस टू (कक्षा-11) की प्रवेश परीक्षा अब दो स्तरों (प्री और मेन) पर आयोजित की जाएगी। मंगलवार को विवि की एकेडमिक काउंसिल की बैठक में इस प्रस्ताव पर अंतिम मुहर लगा दी गई। इसके अलावा सुबह लगभग 11.30 से शाम 7.00 बजे तक चली इस मैराथनी बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। बैठक में वीमेंस कॉलेज को अलग वीमेंस यूनिवर्सिटी का दर्जा दिलाने संबंधी प्रस्ताव अस्वीकार कर दिया गया।मेडिकल, इंजीनियरिंग और प्लस टू की प्री परीक्षा विवि कैंपस के साथ-साथ अन्य राज्यों के परीक्षा केंद्रों पर भी आयोजित होगी जबकि मुख्य परीक्षा कैंपस में ही आयोजित की जाएगी। परीक्षा के लिए शुल्क भी 600 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दिया गया है। बैठक में निर्णय लिया गया कि सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों की रोशनी में मेडिकल की पीजी स्तर की प्रवेश परीक्षाओं को नीट (नेशनल एलिजीबिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) के माध्यम से ही संचालित किया जाएगा। विवि का इंटरनल कोटा बरकरार रहेगा। एमबीबीएस में नीट को लागू करने के संबंध में केंद्र सरकार और मंत्रालय को विवि की भावनाओं से अवगत कराया जाएगा। विवि का स्वरूप और उसकी संवैधानिक स्थिति के मद्देनजर स्थिति का अवलोकन करने का आग्रह किया जाएगा। बैठक मे निर्णय लिया गया कि एएमयू में एडमिशन के समय लिखित परीक्षा पास करने के बाद होने वाले एप्टीट्यूड टेस्ट, ग्रुप डिस्कशन और इंटरव्यू में अंकों को कम ‘वेटेज’ दिया जाए। बैठक में जेएन मेडिकल कॉलेज की ओर से पीजी की सीटें बढ़ाने का मुद्दा भी आया। इसके लिए कहा गया कि पहले कॉलेज की व्यवस्थाओं को परख लिया जाए। जिससे निरीक्षण करने आने वाली टीम को मानक से नीचे का कोई भी बिंदु न मिले। बैठक में इस बात पर भी बल दिया गया कि एएमयू में सबसे सस्ती शिक्षा मिलती है। इससे गुणवत्ता प्रभावित हो रही है। दरें बढ़ाने की जरूरत है। एएमयू हॉल्स में वार्षिक दरों को जामिया मिलिया इस्लामिया के समकक्ष करने या यथा संभव बढ़ाने के लिए एक कमेटी का गठन कर दिया गया है।

Spotlight

Most Read

National

2019 में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेगी CPM

महासचिव सीताराम येचुरी की ओर से पेश मसौदे में भाजपा के खिलाफ लड़ाई में कांग्रेस समेत तमाम धर्मनिरपेक्ष दलों को साथ लेकर एक वाम लोकतांत्रिक मोर्चा बनाने की बात कही गई थी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

चमत्कार : शिवलिंग हटाने की कोशिश की तो निकले सैकड़ों सांप

भारत को आस्था और चमत्कारों का देश क्यों कहते हैं उसका एक वीडियो हम आज आपको दिखाने जा रहे हैं। वीडियो यूपी के हाथरस का है जहां एक पुराने शिव मंदिर के जीर्णोद्धार का काम चल रहा था। अचानक कुछ ऐसा हुआ जिसने सबको अपनी ओर खींच लिया।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper