‘सैंडी’ से अटकी शहरवालों की सांस

Aligarh Updated Wed, 31 Oct 2012 12:00 PM IST
अलीगढ़। अमेरिका के आधुनिक इतिहास में आए अब तक के सबसे तेज चक्रवाती तूफान ‘सैंडी’ के आने से अलीगढ़ के कुछ लोगों की भी सांस अटक गई हैं। यह वे लोग हैं जिनके रिश्तेदार और परिवार के लोग अमेरिका में रह रहे हैं। अमेरिका में रह रहे कुछ परिवारों का अलीगढ़ में अपने संबंधियों से संपर्क पूरी तरह टूट गया है। यह लोग टीवी पर नजरें गढ़ाए हुए वहां की पल-पल की गतिविधि की जानकारी ले रहे हैं।
अलीगढ़ में स्वर्ण जयंती नगर में रहने वाले सामाजिक कार्यकर्ता विमल खेमानी की बेटी-दामाद और उनके दो बच्चे न्यूजर्सी में रहते हैं। खेमानी कहते हैं कि 2 हजार किलोमीटर के दायरे में फैले चक्रवाती तूफान ‘सैंडी’ के भारतीय समयानुसार मंगलवार दुपहर तक न्यूजर्सी के तट से टकराने की सूचना थी। मंगलवार सुबह 8 बजे तक अमेरिका में संपर्क हुआ और फोन पर बताया कि वहां विद्युत आपूर्ति और इंटरनेट सेवा ठप है। एक मोबाइल फोन चालू है लेकिन उसका बैकअप कितना रहेगा पता नहीं। खेमानी कहते हैं कि बेटी ने बताया कि वह घर छोड़कर एक सुरक्षित स्कूल में शेल्टर लिए हुए हैं। इसके बाद संपर्क टूट गया है। खेमानी दिन पर टीवी पर वहां की जानकारी के लिए नजरें गढ़ाए रहे। इसी प्रकार फफाला स्ट्रीट निवासी डॉ. जैद के परिजन डॉ. जाहिद भी अमेरिका में रहते हैं।
डॉ. जैद कहते है कि जब तक सैंडी का कहर नहीं थमता तब तक फिक्र रहेगी। इसी प्रकार अलीगढ़ से अब्दुल सत्तार, नजम खुसरो आदि अन्य लोग भी अमेरिका में हैं। इनके परिवार वाले भी वहां की पल-पल की जानकारी संचार माध्यमों से ले रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

चमत्कार : शिवलिंग हटाने की कोशिश की तो निकले सैकड़ों सांप

भारत को आस्था और चमत्कारों का देश क्यों कहते हैं उसका एक वीडियो हम आज आपको दिखाने जा रहे हैं। वीडियो यूपी के हाथरस का है जहां एक पुराने शिव मंदिर के जीर्णोद्धार का काम चल रहा था। अचानक कुछ ऐसा हुआ जिसने सबको अपनी ओर खींच लिया।

17 जनवरी 2018