कान में दवा डालने से टूट जाता है रोजा

Aligarh Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
अलीगढ़। सुन्नी और शिया समुदाय की ओर से जारी हुई हेल्पलाइनों में आने वाली कॉल की संख्या बढ़ती जा रही है। इससे लोगों को रोजा रखने में काफी मदद मिल रही हैं। कोई पूछ रहा है क्या कान में दवा या तेल डालने से रोजा टूट जाता है। इस पर आलिमों का कहना है कि कान और नाक से जाने वाला तरल पदार्थ सीधे पेट में जाता है, इस कारण कान और नाक में दवा और तेल डालने से रोजा टूट जाता है।
सुन्नी हेल्पलाइन के कॉर्डिनेटर मुफ्ती तहा अली नदवी ने बताया कि अगर किसी को नाक और कान में दवा डालने की जरूरत पड़ती है तो वो रोजा छोड़ सकता है और इसके बदले बाद में रोजा रख सकता है। दूसरे सवाल में पूछा गया कि जकात की रकम से मसजिद में चटाई और लोटा दिया जा सकता है। इस पर मौलाना ने कहा नहीं दे सकते। इन हेल्पलाइन में रोजाना इस तरह के कई सवाल पूछे जा रहे हैं।

रोजा हेल्पलाइन के नंबर
जमीअत उलेमा ए हिंद (सुन्नी)
9198721855, 7860244292,
9455248223, 9450110463

इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया (सुन्नी)
9415023970,9236064987
9415102947,9335929670

दिलदार अली गुफरा माफ फाउंडेशन (शिया)
9415580936, 9839097407

रजमान का दूसरा अशरा शुरू
रमजान का पहला रहमत का अशरा समाप्त हो गया है, जबकि मंगलवार से मगफिरत का अशरा शुरू हो गया है। पहले आशरे में अल्लाह की रहमत होती है जबकि दूसरे अशरे में अल्लाह गुलाहों को माफ करता है और बंदा मगफिरत के लिए दुआ करता है।

Spotlight

Most Read

National

पुरुष के वेश में करती थी लूटपाट, गिरफ्तारी के बाद सुलझे नौ मामले

महिला लड़कों के ड्रेस में लूटपाट को अंजाम देती थी। अपने चेहरे को ढंकने के लिए वह मुंह पर कपड़ा बांधती थी और फिर गॉगल्स लगा लेती थी।

20 जनवरी 2018

Related Videos

चमत्कार : शिवलिंग हटाने की कोशिश की तो निकले सैकड़ों सांप

भारत को आस्था और चमत्कारों का देश क्यों कहते हैं उसका एक वीडियो हम आज आपको दिखाने जा रहे हैं। वीडियो यूपी के हाथरस का है जहां एक पुराने शिव मंदिर के जीर्णोद्धार का काम चल रहा था। अचानक कुछ ऐसा हुआ जिसने सबको अपनी ओर खींच लिया।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper