पति का शक बना स्तुति की मौत की वजह!

Aligarh Updated Wed, 20 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
अलीगढ़। महानगर के प्रख्यात नेत्ररोग विशेषज्ञ दिवंगत डॉ. मनोज शुक्ला की आई सर्जन बहू डॉ. स्तुति की मौत हत्या है या सुसाइड यह तो बेशक जांच का विषय है, मगर पुलिस के अनुसार इस मौत की वजह कहीं न कहीं स्तुति और उसके क्लासमेट की दोस्ती जरूर है। सिर्फ पुलिस ही नहीं स्तुति के परिजन और फ्रेंड सर्किल के लोग इस बात को भली भांति जानते थे कि पिछले करीब आठ महीने से इस दोस्ती के प्रति पति डॉ. प्रशांत का रुख अच्छा नहीं था, वह इसे शक की नजर से देखता था। शायद यही वजह थी कि उसने स्तुति के दोस्त को प्रैक्टिकल में फेल कराने तक की साजिश रच ली थी। दूसरी तरफ प्रशांत, उसकी मां और बहन फरार ही चल रहे हैं। स्तुति के परिवार और दोस्तों से बातचीत में पुलिस जांच से जो तथ्य निकलकर आए हैं उसके मुताबिक 2009 में एसएन मेडिकल कॉलेज, आगरा में एमएस में प्रवेश पाने वाली स्तुति चार स्टूडेंटों के बैच में इकलौती लड़की थीे। इनमें से एक लड़के से स्तुति की दोस्ती हो गई थी। इसके बाद जून, 2010 में स्तुति की मंगनी डॉ. प्रशांत के साथ हो गई तो उसने अपने होने वाले पति को क्लासमेट से दोस्ती की बात बता दी। शादी तक तो प्रशांत को कोई ऐतराज न रहा लेकिन बाद में वह इस बात को लेकर आपत्ति करने लगा। करीब आठ माह पहले ऐतराज शक और तल्खी में बदल गया। हालात ऐसे बन गए कि शक में फोन पर ही स्तुति और प्रशांत का झगड़ा होने लगा। इस झगड़े के चलते शक ने नफरत का ऐसा रूप लिया कि पिछले दिनों प्रशांत ने स्तुति के उस क्लासमेट को फाइनल प्रयोगात्मक परीक्षा में फेल कराने तक की साजिश रच ली। इसी विवाद ने रविवार रात शायद कुछऐसा रूप ले लिया कि बात स्तुति की मौत तक पहुंच गई। बहरहाल स्तुति का फ्रेंड सर्किल इसे सुसाइड कतई मानने को तैयार नहीं है। परिवार व फ्रेंड सर्किल प्रशांत के इस शक और नफरत को बेजां करार दे रहा है। इस संबंध में फिलहाल एएसपी पवन कुमार इतना ही कहते हैं कि क्लासमेट्स से स्तुति की दोस्ती के मसले पर बात हुई थी। वे उस दोस्ती पर शक को गलत करार दे रहे हैं। बाकी अभी प्रकरण की जांच जारी है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us