क्या एडीए के पास कोई प्लान है?

Aligarh Updated Fri, 24 Jan 2014 05:44 AM IST
अलीगढ़। अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष मंडलायुक्त अलीगढ़ टी वेंकटेश ने बोर्ड की मीटिंग में कहा था कि यमुना एक्सप्रेस-वे बनने के बाद से अलीगढ़ एनसीआर के नजदीक के बड़े शहरों में शुमार हो गया है। अब एडीए को यमुना एक्सप्रेस-वे तक पहुंच कर अपनी कॉमर्शियल और आवासीय योजनाओं पर काम करना चाहिए। लेकिन महीनों गुजरने के बाद भी अब तक इस दिशा में एडीए ने कोई पहल नहीं की है। भूमि अधिग्रहण कानून में संशोधन और नई आवास नीति आने के बाद से शासनादेशों के इंतजार में अफसर टाइमपास कर रहे हैं। मजबूरन आम शहरी को मकान लेने के लिए बिल्डरों और प्रापर्टी डीलरों के यहां के चक्कर कटाने पड़ रहे हैं। सीडीएफ की जमीन मिले बिना ही पूर्व वीसी इंद्रवीर सिंह यादव ने आवासीय योजना का डिमांड सर्वे निकाल कर लाखों रुपये जुटाए थे। इसके लिए आईसीआईसीआई बैंक से एक समझौता भी किया गया था। महीनों गुजरने के बाद भी जनता को इस रकम को लौटाया तक नहीं गया है। जबकि सीडीएफ की जमीन पर अब तक शासन स्तर से कोई फैसला नहीं हुआ है। गौर हो कि एडीए में चार्ज संभालने के बाद वर्तमान वीसी जेबी सिंह ने कई बार नई योजनाओं पर काम करने का भरोसा दिलाया लेकिन अब तक इन पर कोई काम शुरू नहीं हो सका है। एमआईजी, मिनी एचआईजी और एलआईजी भवनों के साथ भूखंडों के आवंटन के इंतजार में पूरा शहर परेशान है। इस बीच नक्शा बनवाने की प्रक्रिया को सरलीकृत किया गया लेकिन नोटिस के मकड़जाल में उलझा शहर अब इससे परेशान हो गया है। महीने में औसतन 15 से 20 नोटिस जारी हो रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

चमत्कार : शिवलिंग हटाने की कोशिश की तो निकले सैकड़ों सांप

भारत को आस्था और चमत्कारों का देश क्यों कहते हैं उसका एक वीडियो हम आज आपको दिखाने जा रहे हैं। वीडियो यूपी के हाथरस का है जहां एक पुराने शिव मंदिर के जीर्णोद्धार का काम चल रहा था। अचानक कुछ ऐसा हुआ जिसने सबको अपनी ओर खींच लिया।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls