Agra: इंडियन ओवरसीज बैंक में 57 लाख का डाका, स्टाफ को शौचालय में बंदकर लुटेरे फरार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, आगरा Published by: मुकेश कुमार Updated Wed, 16 Dec 2020 12:11 AM IST

सार

  • बदमाशों ने कर्मचारियों को बंधक बनाकर 57 लाख रुपये लूटे
  • चार बदमाशों ने 15 मिनट में की वारदात, सीसीटीवी की डीवीआर भी ले गए
इंडियन ओवरसीज बैंक आगरा में लूट: इसी शाखा में हुई लूट
इंडियन ओवरसीज बैंक आगरा में लूट: इसी शाखा में हुई लूट - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आगरा में ग्वालियर रोड पर रोहता स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक की शाखा में अधिकारियों और कर्मचारियों को बंधक बनाकर चार बदमाशों ने 56.94 लाख का डाका डाला। मंगलवार को शाम 4:50 बजे तमंचे और चाकू से लैस होकर आए बदमाशों ने 15 मिनट में दुस्साहसिक वारदात की। एक बदमाश बाहर खड़ा रहा। भागने से पहले बैंक स्टाफ को शौचालय में बंद कर दिया। इसके बाद सीसीटीवी की डीवीआर भी साथ ले गए। आधा घंटा बाद पहुंची पुलिस ने शहर भर में चेकिंग कराई लेकिन लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला।
विज्ञापन


डिप्टी मैनेजर विवेक यादव ने बताया कि शाम चार बजे बैंक का चैनल (मुख्य गेट) बंद हो चुका था। 4:50 बजे वह बाहर लगे एटीएम की कनेक्टिविटी चेक करने के लिए निकले तभी मंकी कैप लगाए एक बदमाश तेजी से आया और सीने पर चाकू लगा दिया। बदमाश उन्हें बैंक के अंदर ले गया। उसके पीछे तीन और बदमाश आ गए। दो के पास तमंचे व एक के पास चाकू था। 




बदमाशों ने मैनेजर अनीता मीणा, कैशियर प्रशांकी बघेल और क्लर्क शशांक वीरेश पर असलहे तान दिए। फिर करेंसी चेस्ट खुलवा कर कैश निकलवाया और डिप्टी मैनेजर के ही बैग में रख लिया। कैशियर के पास रखा कैश भी ले लिया। कुल 56.94 लाख रुपये लूटे। इसके बाद बदमाशों ने डिप्टी मैनेजर और अन्य लोगों को शौचालय में बंद कर दिया। बदमाशों के जाने के करीब 20 मिनट बाद सरोज नाम की एक महिला लोन की जानकारी के लिए आई, उसने शौचालय का गेट खोला। तब मैनेजर ने पुलिस को सूचना दी।

'शोर मचाया तो गोली मार देंगे...'.

डिप्टी मैनेजर विवेक यादव ने बताया कि बदमाशों ने बैंक के अंदर आते ही पूरे स्टाफ को एक जगह एकत्र किया और धमकी की कि अगर किसी ने शोर मचाया तो गोली मार देंगे। एक बदमाश ने कहा कि चालाकी मत करना, जितना कैश है, पूरा चाहिए।

पड़ोस के क्लीनिक के कैमरों में दिखे बदमाश

बैंक के बराबर में एक डॉक्टर का क्लीनिक है। इसके कैमरों में बदमाश बाइक से जाते हुए नजर आए हैं। पुलिस ने रिकार्डिंग ले ली है। हालांकि इसमें न बदमाशों के चेहरे स्पष्ट हैं और न ही बाइक का नंबर। बैंक का चपरासी पुनीत घटना से पहले चाय लेने गया था, वह बदमाशों के जाने के काफी देर बाद लौटा। पुलिस ने उससे पूछताछ की है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया कि बैंक लुटेरों की तलाश में चार टीमें लगाई हैं। बैंक लूट की पुरानी घटनाओं में शामिल बदमाशों के बारे में भी छानबीन की जा रही है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00