भ्रष्टाचार के खिलाफ बुलंद न हो सकी आवाज

Agra Updated Wed, 19 Dec 2012 05:30 AM IST
बाह। नेताजी की आजाद हिंद फौज के सिपाही रहे 106 वर्षीय अगर सिंह भदौरिया की आवाज खामोश हो गई है। 23 जनवरी (सुभाष चंद्र बोस की जयंती) को उन्होंने अमर उजाला को आखिरी साक्षात्कार दिया था। तब गांवोें की बदहाली पर उनकी आंखों से आंसू छलक पड़ थे। भ्रष्टाचार की गहरी जड़ों को लेकर उन्होंने अन्ना हजारे संग लड़ाई की इच्छा जताई थी।
भरतार गांव निवासी अगर सिंह भदौरिया क्रांतिकारी सुभाष चंद्र बोस के ‘तुम मुझे खून दो...’ नारे से इस कदर प्रभावित थे कि अंग्रेजी हुकूमत से बगावत कर सैकड़ों साथियों के साथ जंग ए आजादी में कूद पड़े। अमर उजाला संवाददाता से बातचीत में उन्होंने कहा था कि आजादी के 65 साल बाद भी गांवों में विकास की तस्वीर धुंधली है। देश में फैले भ्रष्टाचार के चलते आम आदमी आजादी की असली महक से महरूम है। देश में खद्दरधारी नेताओं का विकास हुआ है।
अगर सिंह भदौरिया ने अन्ना के साथ भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई का ऐलान किया था। बीमारी का जिक्र आने पर उन्होंने कहा कि घूसखोरोें के खिलाफ तो इस हालत में भी जंग लड़ लूंगा।
अगर सिंह का सफरनामा
अगर सिंह भदौरिया 1935-36 में बतौर सिपाही अंग्रेजी सेना में भर्ती हुए। 1936 में ही उन्हें हांगकांग भेजा गया और वहां से जापान। वहां पर अगर सिंह समेत तमाम जवानों को कैद कर लिया गया। 1939 में इस खबर पर जर्मनी से वाया टोकियो सुभाष चंद्र बोस वहां पहुंचे। नेता जी के क्रांतिकारी भाषण से प्रभावित होकर सिपाहियों ने जंग-ए-आजादी के लिए बंदूकें उठा लीं। अगर सिंह ने कई बार अंग्रेजों के दांत खट्टे किए।

Spotlight

Most Read

Bareilly

बच्चो! 100 रुपये में स्वेटर खा लो

नकारा सिस्टम सरकारी योजनाओं को तो पलीता लगाता ही है, उसे गरीब बच्चों से भी कोई हमदर्दी नहीं है। सर्दी में बच्चों को स्वेटर बांटने की व्यवस्था ही देख लीजिए..

20 जनवरी 2018

Related Videos

आगरा में तैनात होंगे फ्रेंच, स्पैनिश बोलने वाले पुलिसवाले

आगरा में बीते कुछ दिनों में विदेशी नागरिकों के साथ दुर्व्यवहार के कई मामले सामने आए। आगरा पुलिस ने इसी वजह से सैलानियों की सुविधा के लिए एक अहम कदम उठाया है। आगरा में अब फ्रेंच, जर्मन और कई विदेशी भाषा बोलने वाले पुलिस अफसर तैनात किए जाएंगे

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper